राहुल को मनाने के लिए कांग्रेसी नेताओं ने शुरू किया अनशन, टाइटलर भी पहुंचे

कांग्रेस अध्यक्ष पद पर बने रहने को तैयार नहीं हो रहे राहुल गांधी ( फाइल फोटो
कांग्रेस अध्यक्ष पद पर बने रहने को तैयार नहीं हो रहे राहुल गांधी ( फाइल फोटो

पार्टी अध्यक्ष पद छोड़ने पर अड़े हैं राहुल गांधी, सुशील कुमार शिंदे के साथ मल्लिकार्जुन खड़गे को अध्यक्ष बनाए जाने की चर्चा

  • Share this:
राहुल गांधी के इस्तीफे के विरोध में AICC में नेताओं ने अनशन शुरू कर दिया है. अनशन में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जगदीश टाइटलर भी पहुंचे. टाइटलर ने न्यूज़18 से खास बातचीत में कहा कि गांधी परिवार ने देश के लिए कुर्बानी दी है. गांधी परिवार के बिना कांग्रेस की कल्पना मुश्किल है. गांधी परिवार के अलावा सभी नेताओं ने कांग्रेस का इस्तेमाल किया है. उनका ये भी कहना है कि राहुल गांधी के बिना कोई अध्यक्ष हमें स्वीकार नही है.

इस्तीफे पर अड़े हैं राहुल गांधी
राहुल गांधी अपने इस्तीफे पर अड़े हुए हैं और पार्टी को दिया एक महीने का समय भी खत्म हो गया है. ऐसे में अब नए अध्यक्ष को लेकर भी साफ हो गया है. संसद सत्र के खत्म होते ही इस बाबत कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक भी बुलाई जाएगी. सूत्रों के मुताबिक सुशील कुमार शिंदे और मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम अगले कांग्रेस अध्यक्ष की दौर में सबसे आगे चल रहा है. जिसमें शिंदे के नाम पर सहमति बनती दिख रही है. ऐसा हुआ तो 21 साल बाद गांधी परिवार के बाहर का कोई नेता कांग्रेस अध्यक्ष बनेगा.

शिंदे के साथ खड़गे का नाम भी
पार्टी सूत्रों के मुताबिक अध्यक्ष के लिए जिन चार-पांच नामों पर विचार हो रहा है उनमें दलित समुदाय से आने वाले कांग्रेस के दो वरिष्ठ नेता रेस में सबसे आगे हैं. पहला नाम है पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे का और दूसरा पिछली लोकसभा में कांग्रेस दल के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे.



शिंदे महाराष्ट्र से आते हैं जहां कुछ महीनों बाद विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में शिंदे की दावेदारी ज्यादा प्रबल दिख रही है. हालांकि इन दो नेताओं के अलावा भी कुछ अन्य नामों पर विचार किया जा रहा है. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी निजी काम से विदेश में हैं. उनके भारत लौटने के कार्यक्रम के अनुसार सीडब्ल्यूसी की तारीख का ऐलान हो सकता है जिसमें नए कांग्रेस अध्यक्ष की घोषणा की जाएगी.

 राहुल गांधी ने की थी इस्तीफा देने की पेशकश
आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए राहुल गांधी ने पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की पेशकश की थी. हालांकि सीडब्ल्यूसी ने राहुल का इस्तीफा नामंजूर कर दिया था लेकिन राहुल अपने फैसले पर कायम हैं. उन्हें मनाने के लिए पार्टी के नेता और कार्यकर्ता काफी कोशिश कर रहे हैं.

सोमवार को सभी कांग्रेस मुख्यमंत्रियों ने राहुल से पद पर बने रहने की अपील की. राहुल को मनाने के लिए कांग्रेस के युवा पदाधिकारी इस्तीफा दे रहे हैं और कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन इन सब से राहुल गांधी का निर्णय नहीं बदला है. राहुल गांधी 2017 में पार्टी के अध्यक्ष बने थे. उससे पहले 19 साल तक उनकी मां सोनिया गांधी ने पार्टी की कमान संभाली थी. मंगलवार को कई नेता राहुल को मनाने के लिए अनशन पर भी बैठ गए.

ये भी पढें : इस्तीफे की पेशकश पर बोले सीएम गहलोत- फैसला राहुल को करना है

राहुल गांधी ने हार के लिए लगाई 3 पूर्व मुख्यमंत्रियों की क्लास
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज