• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • पश्चिम बंगाल से सांसद अधीर रंजन चौधरी होंगे लोकसभा में कांग्रेस के नेता

पश्चिम बंगाल से सांसद अधीर रंजन चौधरी होंगे लोकसभा में कांग्रेस के नेता

अधीर रंजन चौधरी ने 2014 से 2018 तक पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया है.

अधीर रंजन चौधरी ने 2014 से 2018 तक पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया है.

अधीर रंजन चौधरी ने 2014 से 2018 तक पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया है.

  • Share this:
    पश्चिम बंगाल के बहरामपुर से सांसद अधीर रंजन चौधरी को लोकसभा में कांग्रेस का नेता बनाया गया है. सूत्रों के अनुसार, UPA अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर हुई बैठक में आज यह फैसला हुआ. अधीर रंजन ने 1999 से इस सीट पर कब्जा जमा रखा है.

    अटकलें थीं कि अधीर रंजन चौधरी को 16 जून को वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के साथ संसद सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक में अहम भूमिका दी जा सकती है. अधीर रंजन चौधरी ने 2014 से 2018 तक पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया है.

    नेता चुने जाने के बाद ये बोले चौधरी
    कांग्रेस का नेता चुने जाने के बाद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि कई ऐसे मुद्दे जिन्हें सदन में उठाना जरूरी है, वह इन मुद्दों को उठाते रहेंगे. चौधरी ने नेता प्रतिपक्ष के मुद्दे पर कहा की 10 फ़ीसदी का कोई हार्ड एंड फास्ट रूल नहीं है. उन्होंने कहा कि टीडीपी को भी नेता प्रतिपक्ष का पद 10 फ़ीसदी के बिना दिया गया था लेकिन हम इसके लिए मांग नहीं करेंगे. 'वन नेशन वन इलेक्शन' के मुद्दे पर चौधरी ने कहा इस पर व्यापक सोच विचार के बाद पार्टी अपना रुख तय करेगी.

    ये नेता थे दौड़ में शामिल
    अधीर रंजन चौधरी ने मीडिया से बात करते हुए मंगलवार को कहा, 'आजाद ने सभी को पार्टी बैठक में हुई चर्चा की जानकारी दी. हम सभी विपक्षी दलों के साथ भी बैठकें करेंगे. विपक्ष के नेता के नाम पर कोई चर्चा नहीं हुई है.'

    खबरों के मुताबिक, केरल के नेता कोडिकुन्निल सुरेश, पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी और तिरुअनंतपुरम के सांसद शशि थरूर भी दौड़ में हैं. मल्लिकार्जुन खड़गे 16वीं लोकसभा में कांग्रेस के नेता थे. हालांकि, वह लोकसभा चुनाव 2019 में अपनी सीट नहीं बचा पाए.

    कांग्रेस की बैठक में इन मुद्दों पर हुई चर्चा
    संसद के बजट सत्र में कांग्रेस की रणनीति पर चर्चा करने के लिए पी. चिदंबरम, के. सुरेश, आनंद शर्मा, गुलाम नबी आजाद, जयराम रमेश और अधीर रंजन चौधरी ने मंगलवार को सोनिया गांधी के घर मुलाकात की. सूत्रों के मुताबिक, सत्र से पहले हो रही इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी थे.

    बैठक में 'एक राष्ट्र, एक चुनाव', 'तीन तलाक' के साथ अन्य मुद्दों को लेकर पार्टी के रुख पर चर्चा हुई. लोकसभा में कांग्रेस सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी है. हालांकि, लोकसभा में नेता विपक्ष का पद हासिल करने के लिए उसके पास दो सीटें कम हैं .

    कल पीएम मोदी की सर्वदलीय बैठक
    सूत्रों ने बताया कि सोनिया के आवास 10 जनपथ पर हुई इस बैठक में मुख्य रूप से स्पीकर के चुनाव और सर्वदलीय बैठक को लेकर चर्चा की गई. यह पूछे जाने पर कि क्या बैठक में लोकसभा में पार्टी के नेता के चयन को लेकर कोई बातचीत हुई तो कांग्रेस के एक सूत्र ने कहा कि फिलहाल इस पर चर्चा नहीं हुई है.

    बता दें कि बुधवार को लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव होना है. दूसरी तरफ, प्रधानमंत्री मोदी ने ‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ के मुद्दे पर सर्वदलीय बैठक भी कल ही बुलाई है.

    यह भी पढ़ें:

    राहुल की 'गैर-हाजिरी' पर सदन में हंगामा, दोपहर बाद ली शपथ

    राहुल एक साल तक नहीं रहेंगे कांग्रेस अध्यक्ष, करेंगे ये काम

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज