बंगाल चुनाव: राहुल ने 'कट मनी' के लिए ममता सरकार को घेरा, भाजपा पर लगाया हिंसा फैलाने का आरोप

पश्चिम बंगाल के गोलपोखर में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे कांग्रेस नेता राहुल गांधी. (INCIndia Twitter/14 April 2021)

पश्चिम बंगाल के गोलपोखर में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे कांग्रेस नेता राहुल गांधी. (INCIndia Twitter/14 April 2021)

West Bengal Assembly Elections 2021: राहुल गांधी ने कहा, "हमने कभी भाजपा के साथ गठबंधन नहीं किया, लेकिन ममता जी ने (अतीत में) ऐसा किया है."

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 15, 2021, 1:17 AM IST
  • Share this:

कोलकाता. कांग्रेस नेता और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बुधवार को भाजपा (BJP) और पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार (Mamata Banerjee Govt) पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने एक तरफ भाजपा पर नफरत और हिंसा फैलाने का आरोप लगाया, तो वहीं बंगाल में 'कट मनी' के लिए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) को भी घेरने से नहीं चूके. भाजपा पर बरसते हुए राहुल गांधी ने कहा, "भाजपा बंगाल को बर्बाद और विभाजित करना चाहती है, वे असम और तमिलनाडु में भी यही कर रहे हैं. भाजपा के पास नफरत और हिंसा के अलावा देने के लिए और कुछ नहीं है."



पश्चिम बंगाल के दिनाजपुर में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि भाजपा "सोनार बांग्ला" बनाने की बात कर रही है, लेकिन उसने पूरे देश को बर्बाद कर दिया है. इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी की सरकार को भी आड़े हाथ लिया. राहुल ने कहा, "पश्चिम बंगाल इकलौता ऐसा राज्य है जहां आपको नौकरियां पाने के लिए 'कट मनी' देनी पड़ती है." इसके साथ ही राहुल ने यह कहकर भी ममता को घेरने की कोशिश की कि उन्होंने बीते समय में भाजपा से गठबंधन किया था. राहुल ने कहा, "हमने कभी भाजपा के साथ गठबंधन नहीं किया, लेकिन ममता जी ने (अतीत में) ऐसा किया है."



Youtube Video


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने टीएमसी के ''खेला होबे'' (खेल होगा) नारे का मजाक उड़ाते हुए कहा कि लोगों की सेवा करना और खेल खेलना दोनों अलग-अलग बाते हैं. उन्होंने कहा, ''हमने कभी भाजपा और आरएसएस से समझौता नहीं किया. हमारी लड़ाई राजनीतिक ही नहीं बल्कि विचारधारा की भी है. ममता जी के लिये यह केवल राजनीतिक लड़ाई है.'' गांधी ने कहा, ''भाजपा अच्छी तरह जानती है कि कांग्रेस उसके सामने हथियार नहीं डालेगी. लिहाजा उसने कांग्रेस मुक्त भारत का नारा लगाया. उन्होंने कभी टीएमसी मुक्त भारत का नारा नहीं दिया, क्योंकि वह उसकी पुरानी गठबंधन साझेदार है.'' गांधी ने लोगों से बंगाल में विकास के नए युग की शुरुआत के लिये कांग्रेस-आईएसएफ-वाम गठबंधन को वोट देने की अपील की.


बंगाल में अपनी पहली चुनावी रैली के दौरान राहुल गांधी ने कहा, ''भाजपा बंगाल की संस्कृति और विरासत को मिटाना और इसे बांटना चाहती है. असम में वे यही कर रहे हैं. तमिलनाडु में वे अपने गठबंधन साझेदार अन्नाद्रमुक के साथ मिलकर ऐसा करने का प्रयास कर रहे हैं. भाजपा के पास नफरत, हिंसा और विभाजनकारी राजनीति के अलावा देने के लिये कुछ नहीं है.'' ''सोनार बांग्ला'' बनाने के भाजपा के नारे का मजाक उड़ाते हुए गांधी ने इसे धोखा करार दिया और कहा कि वे ''हर राज्य में यही सपना बेचते हैं.'' कांग्रेस नेता ने कहा, ''वे प्रत्येक राज्य में सोनार बांग्ला जैसी बात कहते हैं, लेकिन लोगों को धर्म, जाति और भाषा के आधार पर बांटते रहते हैं.'' गांधी ने बंगाल में ''कट मनी'' की समस्या की निंदा करते हुए कहा, ''आपने टीएमसी को मौका दिया, लेकिन वह नाकाम रही. लोगों को रोजगार के लिये दूसरे राज्यों में जाना पड़ा. यह एकमात्र राज्य है, जहां आपको नौकरी पाने के लिये कटमनी देना पड़ता है.''



(इनपुट भाषा से भी)


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज