होम /न्यूज /राष्ट्र /

पार्टी के आंतरिक मुद्दों को सार्वजनिक नहीं करना चाहिए: अमरिंदर सिंह

पार्टी के आंतरिक मुद्दों को सार्वजनिक नहीं करना चाहिए: अमरिंदर सिंह

सिंह ने केजरीवाल के इस कथन को बकवास करार दिया कि राज्य केंद्रीय कानून के खिलाफ ‘असहाय’ हैं (File photo)

सिंह ने केजरीवाल के इस कथन को बकवास करार दिया कि राज्य केंद्रीय कानून के खिलाफ ‘असहाय’ हैं (File photo)

अमरिंदर सिंह ने कहा कि कांग्रस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress President Sonia Gandhi) ने असहमति जताने वाले नेताओं को कभी दंडित नहीं किया और इसके बजाए उन्हें विभिन्न कमेटियों का सदस्य बनाया.

    नई दिल्ली. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में कांग्रेस (Congress) के कमजोर प्रदर्शन को लेकर पार्टी के कुछ नेताओं द्वारा तल्ख बयानबाजी के बीच, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Punjab's CM Captain Amarinder Singh) ने गुरुवार को कहा कि पार्टी के आंतरिक मुद्दों को सार्वजनिक तौर पर सामने नहीं लाना चाहिए. कांग्रेस के भीतर लोकतंत्र (Democracy) की कमी के आरोपों को खारिज करते हुए सिंह ने कहा कि पार्टी के नेता और कार्यकर्ता अपनी शिकायतें पार्टी प्रमुख या कार्य समिति के सामने रखने के लिए स्वतंत्र हैं.

    पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अगर आप कांग्रेसी हैं तो आप पार्टी अध्यक्ष या कांग्रेस कार्यसमिति (Congress Working Committee) के पास पार्टी की कार्यशैली को लेकर अपनी शिकायतें लेकर जा सकते हैं. लेकिन सार्वजनिक तौर पर इसे सामने नहीं लाना चाहिए. अगर आप ऐसा करते हैं तो आप पार्टी छोड़ सकते हैं.’’ एक बयान में सिंह ने कहा कि उन्हें यह सीख पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Former PM Indira Gandhi) से मिली थी जब वह कांग्रेस के सांसद थे.

    ये भी पढ़ें- ओवैसी की चुनौती- प्रचार के लिए हैदराबाद आएं PM, देखेंगे कितनी सीटें जीतेगी BJP

    सिंह ने कहा कि कांग्रस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress President Sonia Gandhi) ने असहमति जताने वाले नेताओं को कभी दंडित नहीं किया और इसके बजाए उन्हें विभिन्न कमेटियों का सदस्य बनाया. यह पार्टी के भीतर सच्चे लोकतंत्र को दिखाता है.

    बता दें कांग्रेस में जारी विवाद के बीच हाल ही में यह भी खबर आई थी कि जल्द ही कांग्रेस पार्टी को पूर्ण कालिक अध्यक्ष मिल सकता है. कांग्रेस पार्टी के संविधान के मुताबिक, मतदाता सूची को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया समाप्त हो जाने के बाद, कमेटी सभी विवरणों के साथ कांग्रेस अध्यक्ष और सीडब्ल्यूसी (CWC) को एक नोट भेजेगी. कांग्रेस अध्यक्ष तब सीडब्ल्यूसी की बैठक बुलाएंगे, जिसमें संगठन चुनाव कराने का निर्णय लिया जाएगा. फिलहाल सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) बतौर अंतरिम अध्यक्ष तमाम बड़े फैसले लेती हैं.

    कांग्रेस CWC में 23 सदस्य होते हैं, 12 निर्वाचित सदस्य होते हैं और 11 कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा मनोनीत किए जाते हैं. CWC के निर्वाचित सदस्यों में से छह सामान्य वर्ग से, चार महिलाएं और दो सीटें SC/ST और OBC समुदाय के लिए आरक्षित हैं.undefined

    Tags: CM Amarinder Singh, Congress, Sonia Gandhi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर