Home /News /nation /

देश के आर्थिक हालातों पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी, दिए 5 सुझाव

देश के आर्थिक हालातों पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी, दिए 5 सुझाव

सोनिया ने अपने पत्र में लिखा है कि पिछले पांच हफ्तों में हमारे देश के सामने कई चुनौतियां खड़ी हो गई हैं.

सोनिया ने अपने पत्र में लिखा है कि पिछले पांच हफ्तों में हमारे देश के सामने कई चुनौतियां खड़ी हो गई हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को लिखे पत्र में देश के सामने गंभीर आर्थिक संकट (Economic Crisis) के बारे में लिखा है. उन्होंने MSMEs (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) की चिंताओं को दोहराया और निवारण के लिए पांच ठोस विचारों का सुझाव दिया है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने देश के सामने गंभीर आर्थिक संकट (Economic Crisis) के बारे में लिखा है. उन्होंने MSMEs (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) की चिंताओं को दोहराया और निवारण के लिए पांच ठोस विचारों का सुझाव दिया है.

    सोनिया ने अपने पत्र में लिखा है कि पिछले पांच हफ्तों में हमारे देश के सामने कई चुनौतियां खड़ी हो गई हैं. जैसे-जैसे हम कोविड-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में आगे बढ़ रहे हैं, इस बीच मैं आर्थिक चिंताओं को सामने रखना चाहती हूं जिन पर तुरंत गौर करना और उनके लिए कदम उठाना जरूरी है. अगर इसे नजरअंदाज किया गया तो ये देश की अर्थव्यवस्था का बुरी तरह से नुकसान पहुंचाने की क्षमता रखता है.'

    उन्होंने कहा कि सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (MSME) देश की जीडीपी में एक तिहाई की हिस्सेदारी रखते हैं और हमारे निर्यात में उनकी करीब 50 प्रतिशत की हिस्सेदारी है. ये करीब 11 करोड़ लोगों को रोजगार देते हैं. इस समय पर बिना सही समर्थन के 6.3 करोड़ से ज्यादा MSME स्टैंड आर्थिक तबाही की कगार पर खड़े हैं.

    पत्र के अनुसार, 'लॉकडाउन के प्रत्येक दिन की लागत इस सेक्टर के लिए 30 हजार करोड़ रुपये की होती है. करीब करीब सभी MSME को सेल्स ऑर्डर खत्म हो चुके हैं, उनका काम लगभग समाप्ति की ओर है और लॉकडाउन के चलते उनके रेवेन्यू पर भी उल्टा प्रभाव पड़ा है. सबसे चिंता की बात है कि 11 करोड़ लोग जिनका पिछले पैराग्राफ में जिक्र किया गया है, वह अपनी नौकरियां खोने की कगार पर हैं क्योंकि MSME भत्ते और वेतन देने में संघर्ष झेल रहे हैं.'

    सोनिया ने आगे लिखा कि सरकार को सामने दिख रही इस परेशानी और रिस्क को दूर करने के लिए प्रयास करने चाहिए वरना इससे बड़ी आर्थिक परेशानियां खड़ी हो सकती हैं. इस संदर्भ में मैं कुछ निम्नलिखित सुझाव देना चाहती हूं.

    पहला, सरकार को एक लाख करोड़ रुपये के 'MSME वेज प्रोटेक्शन' पैकेज की घोषणा करनी चाहिए. इससे लोगों की नौकरियों को बचाने और उनकी हौसलाअफजाई में मदद करेगा. इसके साथ ही ये आर्थिक परेशानियों को कम करने में भी मदद करेगा.

    दूसरा, एक लाख करोड़ रुपये का क्रेडिट गारंटी फंड बनाया जाए. यह सेक्टर को तुरंत तरलता देने के लिए जरूरी है और MSME को जब सबसे ज्यादा जरूरत है तब ये पर्याप्त धन को सुनिश्चित करेगा.

    तीसरा, आरबीआई द्वारा लिए जा रहे फैसलों का असर कॉमर्शियल बैंक पर दिखना जरूरी है ताकि MSME को समय पर आसानी से पर्याप्त ऋण की आपूर्ति हो सके. इसके आगे, आरबीआई द्वारा की गई कोई भी मौद्रिक कार्रवाई को सरकार के राजकोष का समर्थन प्राप्त हो. मंत्रालय में एक 24 घंटे सातों दिन चलने वाली हेल्पलाइन सेवा की शुरुआत की जाए जो इस समय MSME का मार्गदर्शन कर उनकी सहायता कर सके, ये भी एक बड़ी मदद होगी.

    चौथा, इन उपायों के अलावा आरबीआई को MSME के लिए तय की गई ऋण चुकाने की अवधि को तीन महीने बढ़ाकर और अधिक करना चाहिए. सरकार को MSME और बाकी सेक्टरों में टैक्स में कटौती या माफी पर भी ध्यान देना चाहिए.

    पांचवांं, जमानत की ऊंची रकम के चलते ऋण नहीं लिए जाते हैं. यही मार्जिन राशि की सीमा ऊंची होने के कारण भी होता है. ये सभी कारक एक साथ मौजूदा ऋण से MSME की पहुंच को दूर कर देते हैं और इन्हें लेकर कदम उठाए जाने चाहिए.

    सरकार ने MSME को हमारी अर्थव्यवस्था की रीढ़ माना है. यही समय है कि ये उपाय कर रीढ़ की हड्डी को पुनर्जीवित कर उसे मजबूत किया जाए. इस मामले में समय से लिए गए बडे़ फैसला बदलाव ला सकते हैं.

    सोनिया ने अंत में लिखा मैं इस समय एक बार फिर कोविड-19 से लड़ाई में हमारे लगातार सहयोग को दोहराना चाहूंगी.

    ये भी पढ़ें:-

    सेवा में लगे स्वास्थ्य-पुलिस कर्मियों का भत्ता काटने का औचित्य क्या: प्रियंका

    COVID-19: देश में कोरोना के 24942 केस और 5210 मरीज ठीक हुए, 779 ने गंवाई जान

    Tags: Congress, Indian economy, Lockdown. Covid 19, Narendra modi, Sonia Gandhi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर