कांग्रेस का संजय झा के पार्टी में अशांति के दावे से इनकार, बताया फेसबुक-BJP लिंक छिपाने की कोशिश

कांग्रेस का संजय झा के पार्टी में अशांति के दावे से इनकार, बताया फेसबुक-BJP लिंक छिपाने की कोशिश
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सूरजेवाला ने संजय झा के दावे को खारिज किया है (फाइल फोटो)

निलंबित कांग्रेस नेता संजय झा (Sanjay Jha) ने ट्वीट (Tweet) किया था, "ऐसा अनुमान है कि पार्टी के भीतर लगभग 100 कांग्रेस नेता (सांसदों सहित) पार्टी की स्थिति से व्यथित हैं, उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को पत्र लिखकर राजनीतिक नेतृत्व में बदलाव और सीडब्ल्यूसी में पारदर्शी चुनाव की मांग की है."

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 17, 2020, 6:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) ने सोमवार को पार्टी के पूर्व नेता संजय झा (Sanjay Jha) के इस दावे का खंडन किया कि पार्टी के 100 सदस्यों ने पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को एक पत्र लिखा था, जिसमें ग्रैंड ओल्ड पार्टी (Grand Old Party) के मामलों के हालात पर अपनी नाराजगी व्यक्त की गई थी. इस मुद्दे पर ट्विटर (Twitter) का सहारा लेते हुए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) ने इसे फेसबुक के साथ उनके लिंक के मुद्दे से ध्यान भटकाने का भाजपा (BJP) का हथकंडा बताया है. उन्होंने कहा, 'यह जिससे भी संबंधित हो' आज के वॉट्सऐप पर मीडिया-टीवी डिबेट गलतफहमी फैलाने वाले विशेष समूह के मार्गदर्शन में फेसबुक-बीजेपी संबंधों (Facebook-BJP links) से ध्यान हटाने के लिए अपने वॉट्सऐप पर कांग्रेस नेताओं की एक ऐसी चिट्ठी के बारे में खबरें चलाने का निर्देश दिया, जिसका कोई अस्तित्व ही नहीं है. उन्होंने कहा, "जाहिर सी बात है, बीजेपी की कठपुतलियों (BJP stooges) ने इस पर काम शुरू कर दिया."

कांग्रेस (Congress) ने वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के आधार पर बीजेपी पर सोशल मीडिया (Social Media) से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया था. वॉल स्ट्रीट जर्नल की इस रिपोर्ट में यह दावा किया गया था कि फेसबुक (Facebook) ने जानबूझकर भाजपा नेताओं (BJP Leaders) के घृणास्पद भाषण और आपत्तिजनक सामग्री (hate speech and objectionable content) की अनदेखी की.
निलंबित कांग्रेस नेता संजय झा ने ट्वीट कर किया था पत्र भेजे जाने का दावानिलंबित कांग्रेस नेता संजय झा ने पहले दावा किया था कि पार्टी के लगभग 100 नेताओं, जिनमें सांसद भी शामिल हैं, ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी के राजनीतिक नेतृत्व में बदलाव की मांग की थी. झा ने अपने ट्वीट में कहा था कि पत्र में पार्टी के आतंरिक चुनावों में पारदर्शिता का अनुरोध भी किया गया था.

उन्होंने ट्वीट किया था, "ऐसा अनुमान है कि पार्टी के भीतर लगभग 100 कांग्रेस नेता (सांसदों सहित) पार्टी की स्थिति से व्यथित हैं, उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर राजनीतिक नेतृत्व में बदलाव और सीडब्ल्यूसी में पारदर्शी चुनाव की मांग की है."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज