अपना शहर चुनें

States

नीति आयोग के नए GDP ग्रोथ रेट को कांग्रेस ने बताया फर्जी, PM को दी ये चुनौती

आनंद शर्मा (फाइल फोटो)
आनंद शर्मा (फाइल फोटो)

आनंद शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री को अर्थशास्त्र का बहुत ज्ञान नहीं है, लेकिन वो चाहे तो पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के साथ बहस कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2018, 3:51 PM IST
  • Share this:
सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के नए आंकड़ों पर बीजेपी-कांग्रेस में बयानबाजी जारी है. आंकड़ों में मोदी सरकार ने UPA कार्यकाल में हुए जीडीपी ग्रोथ रेट को कम दिखाया है. पूर्व केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा में विपक्ष के उपनेता आनंद शर्मा ने न्यूज़18 से बात करते हुए पीएम मोदी को खुली चुनौती दी है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को अर्थशास्त्र का बहुत ज्ञान नहीं है, लेकिन वो चाहे तो पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के साथ बहस कर सकते हैं. पीएम मोदी अगर चाहे, तो 11 दिसंबर के बाद ऐसी बहस हो सकती है.

UPA के GDP आंकड़े बदलने पर भड़के चिदंबरम, केंद्र से कहा- बंद कर दो नीति आयोग

आनंद शर्मा ने नीति आयोग के आंकड़े को फर्जी बताया. उन्होंने कहा, 'आज तक भारत के इतिहास में कभी भी सरकार/नीति आयोग जीडीपी के आंकड़े नहीं देती है. ये तो देश के सांख्यकीय विभाग (SCO) का काम है. जीडीपी को लेकर आज तक सांख्यकीय विभाग ने जो भी आंकड़े दिए, क्या सरकार उसको गलत ठहराना चाहती है?'



आनंद शर्मा ने कहा, 'सरकार ने सभी संवैधानिक संस्थाओं को खत्म कर ही दिया है. अब गलत आंकड़े देकर विश्व स्तर पर भारत के आंकड़ों को भी झूठा बनाना चाहती है.'
बता दें कि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने उन आंकड़ों का हवाला देकर UPA के GDP ग्रोथ रेट को गलत बताया था. जेटली ने इसके लिए UPA सरकार के दौरान पॉलिसी पैरालिसिस को जिम्मेदार ठहराया था.

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के नए आंकड़ों को लेकर नीति आयोग पर निशाना साधा है. चिदंबरम ने आंकड़े जारी करने वाले नीति आयोग पर हमला बोलते हुए कहा है कि इस बेकार संस्था को बंद कर दिया जाना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज