लाइव टीवी

JDS के साथ 'थर्ड ग्रेड सिटिजन' जैसा बर्ताव नहीं कर सकती कांग्रेसः कुमारस्वामी

News18Hindi
Updated: January 14, 2019, 8:35 PM IST

हाल ही में जेडीएस के विधायकों और विधानपार्षदों की बैठक को संबोधित करते हुए कुमारस्वामी ने कहा था कि हर चीज में कांग्रेस के लगातार हस्तक्षेप के कारण वह मुख्यमंत्री नहीं, बल्कि एक क्लर्क की तरह काम कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2019, 8:35 PM IST
  • Share this:
सीट शेयरिंग को लेकर कर्नाटक सरकार के सहयोगी दल कांग्रेस और जेडीएस के बीच खींचतान जारी है. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा है कि सीट शेयरिंग में कांग्रेस को जेडीएस के साथ थर्ड ग्रेड सिटिजन की तरह व्यवहार नहीं करना चाहिए. उन्होंने कहा कि बीजेपी के खिलाफ लड़ाई में दोनों दलों को एक दूसरे के हितों का ख्याल रखना चाहिए.

दोनों दलों के बीच सीट शेयरिंग पर फिलहाल औपचारिक बातचीत शुरू नहीं हुई है. खबर है कि कांग्रेस के अंदर इस बात का अंतर्द्वंद्व चल रहा है कि सीट शेयरिंग में जेडीएस को बहुत अधिक सीटें नहीं मिलनी चाहिए, वहीं कुमारस्वामी का कहना है कि दोनों दलों को इस मामले में उदार रवैया अपनाना चाहिए.

कुमारस्वामी बोले- कांग्रेस के दबाव में सीएम नहीं क्लर्क की तरह काम कर रहा हूं

पीटीआई को दिए एक इंटरव्यू में कर्नाटक सीएम ने कहा कि धीरे-धीरे पीएम नरेंद्र मोदी का आकर्षण कम हो रहा है और सरकार विरोधी लहर तेज हो रही है. उन्होंने पीएम पद की उम्मीदवारी के लिए राहुल गांधी का नाम लिया, हालांकि यह भी स्वीकार किया कि सभी एंटी बीजेपी पार्टियों में राहुल गांधी के नाम पर सहमति नहीं है.

कर्नाटक में जेडीएस और कांग्रेस के संबंधों के बिगड़ने की खबरों के बीच कुमारस्वामी ने कहा, 'हमें लगता है कि लोकसभा चुनाव हमें साथ में लड़ना चाहिए. हमारी सरकार का मकसद बीजेपी को सत्ता में आने से रोकना और देश के माहौल को बेहतर बनाना है.'

बेंगलुरु सेंट्रल से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे अभिनेता प्रकाश राज

हाल ही में जेडीएस के विधायकों और विधानपार्षदों की बैठक को संबोधित करते हुए कुमारस्वामी ने कहा था कि हर चीज में कांग्रेस के लगातार हस्तक्षेप के कारण वह मुख्यमंत्री नहीं, बल्कि एक क्लर्क की तरह काम कर रहे हैं.एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2019, 1:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर