कांग्रेस नारी सम्मान के लिए तीन तलाक मुद्दे पर आगे आए: रविशंकर प्रसाद

तीन तलाक संशोधन को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है. ऐसे में तीन तलाक देना अब गैर-जमानती अपराध की श्रेणी में शामिल हो गया है और सिर्फ मजिस्‍ट्रेट ही इसमें जमानत दे सकता है.

News18Hindi
Updated: August 9, 2018, 6:25 PM IST
कांग्रेस नारी सम्मान के लिए तीन तलाक मुद्दे पर आगे आए: रविशंकर प्रसाद
(फाइल फोटो- रविशंकर प्रसाद)
News18Hindi
Updated: August 9, 2018, 6:25 PM IST
तीन तलाक संशोधन को कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद केंद्रीय कानून मंत्री कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि 2017 में 389 ट्रिपल तलाक के मामले दर्ज हुए हैं. 2017 और 2018 के बीच 229 केस सुप्रीम कोर्ट के निर्णय से पहले और 160 सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद हुए. उन्होंने कहा कि क्या नारी सम्मान के लिए कांग्रेस आगे आएगी.

सोनिया गांधी पर उन्होंने बोलते हुए कहा कि वह सोनिया गांधी से अपील करना चाहते हैं. वह सिर्फ कांग्रेस की नेता ही नहीं बल्कि देश की बड़ी नेता हैं. उनके पास विरासत है जिसका वे बार-बार जिक्र करती हैं.

उन्होंने कहा- " क्या नारी न्याय, नारी गरिमा और नारी सम्मान के लिए आप खड़ी होंगी या नहीं होंगी. या इस बिल का विरोध करती रहेगी आपकी कांग्रेस पार्टी."

उन्होंने कहा कि कांग्रेस का इस बात पर विरोध बेमतलब है कि बार-बार पति जेल जाएगा तो घर में कौन कमाने वाला रहेगा. दहेज उत्पीड़न कानून, घरेलू हिंसा मामले में भी तो मुसलमान पति जेल जाता है. तो उस पर कांग्रेस पार्टी सवाल क्यों नहीं पूछती है. तो ऐसे सवाल क्यों तीन तलाक पर ही उठाए जा रहे हैं. कांग्रेस पार्टी इस सवाल पर अपना रुख स्पष्ट करे.

उन्होंने कहा कि अगर ट्रिपल तलाक पर बिल के खिलाफ कांग्रेस सोनिया गांधी के नेतृत्व में कदम उठाती है तो वह नारी गरिमा की बात करना बंद करे.

इस बिल में लोगों ने कुछ कमियां बताई थीं जिन्हें दूर कर दिया गया है. एक बार पति जेल जाएंगे तो सुधर कर आएंगे.

राहुल गांधी पर रविशंकर प्रसाद ने कहा, '' राहुल गांधी के अज्ञान पर हंसी आती है, हमारी पार्टी ने एक बड़े नेता को राष्ट्रपति बनाया जो दलित समाज से आते हैं. आज 12 करोड़ लोगों को मुद्रा योजना के तहत लोन दिया गया जिनमें ज्यादातर एससी/एसटी हैं."
तीन तलाक संशोधन को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है. ऐसे में तीन तलाक देना अब गैर-जमानती अपराध की श्रेणी में शामिल हो गया है और सिर्फ मजिस्‍ट्रेट ही इसमें जमानत दे सकता है. इतना ही नहीं पीड़ि‍त महिला के ब्लड रिलेटिव्स भी तीन तलाक की एफआईआर दर्ज करा सकेंगे.

इसे भी पढ़ें-
LIVE: पुणे में हिंसक हुआ आंदोलन, IT कंपनी में घुसे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने किया लाठीचार्ज
एनडीए के हरिवंश बने राज्यसभा के उपसभापति, पीएम बोले- अब सबकुछ हरि भरोसे
पीएम के दिल में दलितों के लिए जगह होती तो नीतियां कुछ और होतीं- राहुल गांधी
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...