अपना शहर चुनें

States

'डूम्सडे मैन' बयान पर कांग्रेस सख्त, अधीर रंजन ने कहा- टिप्पणी के खिलाफ कार्रवाई की

अधीर रंजन चौधरी ने कहा 'सदन में वित्तमंत्री की तरफ से राहुल गांधी के खिलाफ की गई टिप्पणी का मैं विरोध करता हूं. उन्हें सदन के अंदर ऐसी गतिविधियों में शामिल नहीं होना चाहिए.' (फोटो: ANI/Twitter)
अधीर रंजन चौधरी ने कहा 'सदन में वित्तमंत्री की तरफ से राहुल गांधी के खिलाफ की गई टिप्पणी का मैं विरोध करता हूं. उन्हें सदन के अंदर ऐसी गतिविधियों में शामिल नहीं होना चाहिए.' (फोटो: ANI/Twitter)

Sitharaman Comments on Rahul Gandhi: बजट को लेकर सदन में हुई चर्चा के दौरान वित्तमंत्री ने कांग्रेस (Congress) नेता गांधी पर कई सवाल उठाए थे. सीतारमण ने आरोप लगाया था कि वे फर्जी विचार तैयार करते हैं और देश को तोड़ने वाली ताकतों के साथ खड़े होते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 13, 2021, 6:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की तरफ से कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को लेकर की गई टिप्पणी के बाद सियासत गरमा गई है. कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ( Adhir Ranjan Chowdhury) ने इस मामले में कड़ा रुख अपनाने का फैसला किया है. उन्होंने कहा है कि हम गंभीर कार्रवाई करेंगे. वहीं, एक अन्य कांग्रेस सांसद टीएन प्रतापन (TN Prathapan) ने टिप्पणी को लेकर वित्तमंत्री के खिलाफ विशेषाधिकारी हनन का नोटिस सौंपा है. लोकसभा में बजट डिबेट के दौरान सीतारमण ने गांधी को 'भारत का डूम्सडे मैन' कह दिया था.

शनिवार को अधीर रंजन चौधरी ने कहा 'सदन में वित्तमंत्री की तरफ से राहुल गांधी के खिलाफ की गई टिप्पणी का मैं विरोध करता हूं. उन्हें सदन के अंदर ऐसी गतिविधियों में शामिल नहीं होना चाहिए.' उन्होंने कहा 'हम तत्काल रूप से उनकी तरफ से की गई टिप्पणी पर कड़ी कार्रवाई कर रहे हैं.' वहीं, कांग्रेस सांसद प्रतापन ने भी वायनाड सांसद गांधी के खिलाफ की गई टिप्पणी को लेकर विशेषाधिकार हनन का नोटिस सौंप दिया है.

बजट को लेकर सदन में हुई चर्चा के दौरान वित्तमंत्री ने कांग्रेस नेता गांधी पर कई सवाल उठाए थे. सीतारमण ने आरोप लगाया था कि वे फर्जी विचार तैयार करते हैं और देश को तोड़ने वाली ताकतों के साथ खड़े होते हैं. साथ ही उन्होंने कांग्रेस नेता पर संवैधानिक संस्थाओं का अपमान करने की बात भी कही थी. इससे पहले गांधी ने भी केंद्र सरकार को सदन में कृषि कानून समेत कई मुद्दों पर घेरा था.



राहुल गांधी के आरोपों का पलटवार करते हुए वित्तमंत्री ने पूछा है कि कांग्रेस ने कृषि सुधारों से यू टर्न क्यों ले लिया है? जबकि, यह कांग्रेस के घोषणा पत्रों का हिस्सा थे. इसके अलावा सीतारमण ने कहा कि उन्होंने उम्मीद की थी कि राहुल गांधी समझाएंगे कि कांग्रेस के सत्ता में रहते हुए मध्य प्रदेश और राजस्थान में किसान कर्ज माफी लागू क्यों नहीं हुई. उन्होंने कहा 'कांग्रेस किसान मुद्दों पर काफी हमदर्द है. तो फिर क्यों आपने कर्जमाफी नहीं कि. खासतौर से तब जब आप इन्हीं वादों के भरोसे सत्ता में आए थे.'

इसके साथ ही वित्त मंत्री ने पंजाब के 'काले कानून' और पराली जलाने को लेकर भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा 'मैंने राहुल गांधी से उम्मीद की थी कि वे तीन कानूनों में से एक बात बताएं, जो किसानों के विरोध में है.' राहुल ने इससे पहले सरकार पर 'हम दो हमारे दो' को लेकर भी तंज कसा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज