• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 2019 जीतने के लिए कांग्रेस ने सपा-बसपा के साथ पक्की की डील!

2019 जीतने के लिए कांग्रेस ने सपा-बसपा के साथ पक्की की डील!

मायावती, सोनिया गांधी, राहुल गांधी (File Photo)

मायावती, सोनिया गांधी, राहुल गांधी (File Photo)

कांग्रेस पार्टी का मानना है कि उसे राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब, छत्तीसगढ़ और कुछ अन्य राज्यों में अगले लोकसभा चुनाव में बड़ा लाभ होगा जो उसे विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व करने में मदद करेगा.

  • Share this:
    कांग्रेस के शीर्ष सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि 2019 के लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और आरएसएस को हराने के लिए विपक्षी दलों के बीच व्यापक आम सहमति बनी है. कांग्रेस का मानना है कि उत्तर प्रदेश, बिहार और महाराष्ट्र में यथोचित गठबंधन जरूरी है, क्योंकि अगर इन तीन राज्यों में बीजेपी अपनी सीटों का बड़ा हिस्सा हार जाती है तो मोदी को प्रधानमंत्री के पद से हटाया जा सकता है.

    समाजवादी पार्टी (एसपी), बहुजन समाजवादी पार्टी (बीएसपी) और कांग्रेस के बीच 80 लोकसभा सीटों वाले राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश में 'व्यापक रणनीतिक समझ' आवश्यक है. एक सूत्र ने बताया कि तीनों पार्टियों के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही है.

    कांग्रेस पार्टी का मानना है कि उसे राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब, छत्तीसगढ़ और कुछ अन्य राज्यों में अगले लोकसभा चुनाव में बड़ा लाभ होगा जो उसे विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व करने में मदद करेगा.

    ये भी पढ़ें: 2019 के लिए कांग्रेस से जुड़ने को तैयार है यह नेता, लेकिन रखी शर्त

    कांग्रेस ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को समान विचारधारा वाले दलों के साथ राज्य-दर-राज्य गठबंधन करने के लिए अधिकृत किया है, पार्टी के एक अंदरूनी सूत्र ने बताया कि गठबंधन करने से पहले राज्य इकाइयों का विचार जाना जाएगा. सूत्रों ने बताया कि राज्य या राष्ट्रीय स्तर पर गठबंधन करने से पूर्व प्रदेश कांग्रेस कमेटी के हितों को संरक्षित किया जाएगा.

    कांग्रेस को यह भी लग रहा है कि इस साल के अन्त में होने वाले राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में उसकी जीत होगी. इस बात की संभावना भी काफी कम है कि कांग्रेस यहां चुनाव से पूर्व किसी को मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित करेगी. सूत्रों के अनुसार पार्टी चुनाव में सही उम्मीदवार के चयन पर ध्यान केंद्रित करेगी.

    ये भी पढ़ें: 150 नहीं कांग्रेस ने 2019 में 274 से ज्यादा सीट जीतने का बनाया है प्लान

    सूत्रों के अनुसार कांग्रेस 2019 के आम चुनावों के लिए दो स्तरीय कार्य योजना पर काम कर रही है, इसके अंतर्गत पहले सभी विक्षी दलों को बीजेपी/आरएसएस को हराने के लिए एकजुट करना और नेतृत्व मुद्दे पर चुनाव परिणामों के बाद निर्णय लेना है.

    कांग्रेस का मानना है कि चुनाव परिणामों के बाद के परिदृश्य पर चर्चा विपक्षी गठबंधन के लिए प्रतिकूल और बांटनेवाली हो सकती है. सूत्रों ने बताया कि पार्टी को विभिन्न राज्यों में अल्पकालिक लक्ष्यों के लिए गठजोड़ करना है, लेकिन पार्टी के लिए उत्तर प्रदेश और बिहार में अपना आधार मजबूत करने का अवसर उभर रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज