अपना शहर चुनें

States

असम में लगेगा कांग्रेस को झटका! 30 दिसंबर तक 2 विधायक बीजेपी में हो सकते हैं शामिल

असम बीजेपी के अध्यक्ष रंजीत कुमार दास (फोटो: ANI/Twitter)
असम बीजेपी के अध्यक्ष रंजीत कुमार दास (फोटो: ANI/Twitter)

Assam Election: असम बीजेपी (BJP) के अध्यक्ष रंजीत कुमार दास ने कहा 'दो कांग्रेस विधायकों ने गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात की है और बीजेपी में शामिल होने की इच्छा जताई है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 27, 2020, 5:08 PM IST
  • Share this:
दिसपुर. भारत सरकार में गृहमंत्री अमित शाह देश के पूर्वोत्तर राज्यों के दौरे पर हैं. इसी बीच असम से बड़ी खबर सामने आई है. असम बीजेपी के अध्यक्ष रंजीत कुमार दास (Ranjeet Kumar Das) ने दावा किया कि 2 कांग्रेस विधायक बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. रविवार को दास ने कहा 'दो कांग्रेस विधायकों ने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की है और बीजेपी में शामिल होने की इच्छा जताई है.' उ्न्होंने जानकारी दी 'हमारी हाल में एक कोर मीटिंग हुई थी और 30 दिसंबर से पहले इन विधायकों को पार्टी में शामिल करने की तैयारी कर रहे हैं.'

अमित शाह शुक्रवार को असम पहुंचे थे. राज्य में उन्होंने कांग्रेस के दो निष्कासित विधायक अजंता नेओग और राजदीप गोआला से मुलाकात की थी. इसके बाद इन दोनों नेताओं ने इस बात की पुष्टि की थी कि वे बीजेपी में शामिल हो जाएंगे. खास बात है कि असम में भी 2021 में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसे लेकर भारतीय जनता पार्टी राज्य में अलर्ट मोड पर काम कर रही है. गृहमंत्री ने देर रात आगामी चुनाव की तैयारियों को लेकर बीजेपी की राज्य कोर कमेटी के साथ बैठक की है. वहीं, गुवाहाटी में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया. उन्होंने राज्य में चार विकासकार्यों की घोषणा की है.

यह भी पढ़ें: ILP सिस्टम के लिए अमित शाह का सम्मान करेगी मणिपुर सरकार, जानिए क्या है ये व्यवस्था



रविवार को शाह ने मणिपुर के लिए निकलने से पहले शक्तीपीठ कामाख्या मंदिर में देवी दर्शन किए. इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री सरबानंद सोनोवाल और स्वास्थ्य मंत्री हेमंत विश्व शर्मा भी मौजूद थे. गृहमंत्री मणिपुर में चूराचांदपुर में मेडिकल कॉलेज समेत 7 प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करेंगे.

असम को दिल्ली में प्राथमिकता दी
अमित शाह ने शनिवार को गुवाहाटी में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत की थी. यहां उन्होंने कहा कि असम को इन 6 साल के अंदर हमने कभी पराया नहीं समझा. असम को दिल्ली ने प्राथमिकता दी  है, नार्थ ईस्ट को प्राथमिकता दी है. उन्होंने कहा कि हर योजना का फायदा असम और यहां की जनता को पहुंचे इसका प्रयास हमने किया है. गृहमंत्री शाह ने गुवाहाटी में विपक्षी दलों पर भी निशाना साधा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज