लाइव टीवी

पी चिदंबरम बोले- ‘बाहुबल वाले राष्ट्रवाद’ को पराजित करेगी धैर्यपूर्ण देशभक्ति

भाषा
Updated: October 24, 2019, 9:10 PM IST
पी चिदंबरम बोले- ‘बाहुबल वाले राष्ट्रवाद’ को पराजित करेगी धैर्यपूर्ण देशभक्ति
दिल्ली की एक अदालत ने गुरुवार को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को 30 अक्टूबर तक ईडी की हिरासत में भेज दिया.

आईएनएक्स मीडिया मामले (INX Media Case) में पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने अपने आवेदन में दलील दी थी कि दोनों सीबीआई और ईडी मामले एक ही वित्तीय लेन-देन से संबंधित है और इसलिए दोनों मामलों के लिए उन्हें अलग से हिरासत में नहीं लिया जा सकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव (Maharashtra & Haryana Assembly Elections) में भाजपा (BJP) एवं सहयोगी दलों की सीटें कम होने के बाद कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने कटाक्ष करते हुए गुरुवार को कहा कि धैर्यपूर्ण देशभक्ति आखिरकार ‘बाहुबल वाले राष्ट्रवाद’ को पराजित करेगी.

आईएनएक्स मीडिया मामले (INX Media Case) में गिरफ्तार चिदंबरम ने अदालत परिसर से बाहर आते हुए कहा, ‘‘धैर्यपूर्ण देशभक्ति आखिरकार बाहुबल वाले राष्ट्रवाद को पराजित करेगी.’’ पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम को आईएनएक्स मीडिया मामले में गुरुवार को दिल्ली की एक अदालत में पेश किया गया. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ करने की अवधि समाप्त होने के बाद उनकी पेशी हुई. 74 साल के चिदंबरम को विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहाड़ के समक्ष पेश किया गया.

30 अक्टूबर तक ईडी की हिरासत में रहेंगे चिदंबरम
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता को सीबीआई की ओर से दायर आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिल गई है. वहीं दिल्ली की एक अदालत ने गुरुवार को आईएनएक्स मीडिया धनशोधन मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को 30 अक्टूबर तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में भेज दिया.

विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहाड़ ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को चिदंबरम से पूछताछ की अनुमति दी और कहा कि स्वास्थ्य संबंधी किसी भी जटिलता के मामले में उन्हें तुरन्त एम्स ले जाया जाये.

हिरासत की शर्तें रहेंगी पहले जैसी
कोर्ट ने कहा कि उनकी हिरासत की अन्य शर्तें वही रहेंगी जिसमें उन्हें घर का बना खाना उपलब्ध कराया जाना भी शामिल है. जांच एजेंसी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता से पूछताछ के लिए उन्हें सात दिन की हिरासत में भेजे जाने का अदालत से अनुरोध किया था.
Loading...

दिल्ली उच्च न्यायालय ने आईएनएक्स मीडिया धनशोधन मामले में पूर्व केन्द्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम की जमानत याचिका पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से गुरुवार को जवाब मांगा. न्यायमूर्ति सुरेश कैत ने चिदंबरम की जमानत याचिका पर ईडी को नोटिस जारी किया और उसे एक सप्ताह के भीतर जवाब देने को कहा है. मामले की अगली सुनवाई चार नवंबर को होगी.

ये भी पढ़ें-
लातूर में रितेश देशमुख के भाई धीरज के सामने शिवसेना पस्त, NOTA ने किया मुकाबला

हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019: कौन जीता-कौन हारा, यहां पढ़ें पूरी लिस्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 8:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...