Corona Crisis: आंध्र प्रदेश से आ रही एंबुलेंस को सीमा पर रोक रही है तेलंगाना पुलिस

तेलंगाना के बॉर्डर पर रोकी जा रही हैं एंबुलेंस.

तेलंगाना के बॉर्डर पर रोकी जा रही हैं एंबुलेंस.

कोरोना संक्रमण के मामले आंध्र प्रदेश में बढ़ने के बाद अस्पताल, बेड और ऑक्सीजन की कमी हो रही है. मेडिकल उपकरणों की कमी से जूझ रहे राज्य के मरीज पड़ोसी राज्य में एडमिट हो रहे हैं, लेकिन अब उन्हें यहां से एंट्री करने के लिए भी मशक्कत करनी पड़ रही है.

  • Share this:

हैदराबाद. कोरोना संक्रमण (Corona cases) के हालात महाराष्ट्र में थोड़े संभले हैं, तो दक्षिणी राज्य आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में स्थिति भयानक हो रही है. यहां कोरोना के मरीजों की तादाद इतनी बढ़ गई है कि पड़ोसी राज्य में मरीजों को एडमिट करने के लिए ले जाना पड़ रहा है. इसी बीच तेलंगाना पुलिस राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों में पड़ोसी आंध्रप्रदेश से आने वाले मरीजों की एंबुलेंस को रोक रही है. ये कदम अस्पतालों के पास बेड के लिए इंतजार कर रहे मरीजों की लंबी लाइन से बचने के लिए उठाया गया है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सिर्फ उन्हें ही राज्य में आने की अनुमति दी जा रही है, जिनको बेड दिए जाने की पुष्टि हो गई है. तेलंगाना के सीमाई जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने न्यू एजेंसी पीटीआई-भाषा को बताया, 'हम देख रहे हैं कि बेहतर इलाज की उम्मीद में बहुत सारे मरीज दूसरे राज्यों से आ रहे हैं. हालांकि जिन मरीजों को किसी भी अस्पताल में बेड मिलने की पुष्टि नहीं की गयी है, उन्हें आने की इजाजत नहीं दी जा रही. बेड नहीं मिलने वाले लोग अस्पतालों के बाहर इंतजार करते रहते हैं.'

हर दिन भर्ती के लिए आ रही हैं 500-600 एंबुलेंस

पुलिस सूत्रों ने बताया कि हर दिन तेलंगाना में सीमा प्रवेश स्थल से विभिन्न अस्पतालों में भर्ती के लिए 500 से 600 एंबुलेंस आती है. आंध्र प्रदेश से लगे सीमाई जिले के एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि एंबुलेंस को रोकने के लिए तेलंगाना सरकार से कोई लिखित आदेश नहीं मिला है लेकिन मौखिक निर्देश में ऐसा कहा गया है और अगले कुछ दिनों के लिए यह पाबंदी लागू रहेगी. तेलंगाना सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने हाल में कहा था कि हैदराबाद में अस्पतालों में 50 प्रतिशत से ज्यादा बेड पर पड़ोसी राज्यों के मरीज हैं.

Youtube Video

आंध्र में लगेंगे 42 ऑक्सीजन प्लांट

कोरोना की बेकाबू रफ्तार की वजह से इस वक्त आंध्र में ऑक्सीजन की कमी भी हो गई है. ऐसे में आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) की मदद से 42 ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाने वाले हैं. 4 जगहों पर प्लांट के सेट अप का काम शुरू हो चुका है जबकि बाकी 38 जगहों पर NHAI हेडक्वार्टर से ऑर्डर मिलने के बाद काम शुरू होगा. उधर आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में बढ़ते कोरोना केसेज को देखते हुए दिल्ली में इन दोनों राज्यों से आने वाले लोगों को 14 दिन के लिए क्वारंटाइन होना होगा. दिल्ली सरकार की ओर से ये आदेश जारी किया गया है. कोविड वैक्सीन की दोनों खुराक ले चुके लोग और आरटी-पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लाने वाले लोगों को भी 7 दिन का क्वारंटाइन पीरियड पूरा करना होगा.

(Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज