झारखंड कोरोना: 24 घंटे में 2296 नए मरीज, 21 की मौत, रांची में हालात चिंताजनक

झारखंड में कोरोना से 21 की मौत, 2296 नए मरीज मिले

झारखंड में कोरोना से 21 की मौत, 2296 नए मरीज मिले

रविवार को राज्य में हुए 36855 सेम्पल की जांच में जहां कोरोना के 2296 नए संक्रमित मिले, वहीं राज्य में covid19 वायरस  से 21 लोगों की मौत हो गयी.

  • Share this:
रांची. झारखंड (Jharkhand) में हर दिन कोरोना न सिर्फ मारक होता जा रहा है बल्कि विकराल रूप भी लेता जा रहा है. रविवार को राज्य में हुए 36855 सेम्पल की जांच में जहां कोरोना के 2296 नए संक्रमित मिले, वहीं राज्य में covid19 वायरस  से 21 लोगों की मौत हो गयी. सबसे ज्यादा 14 लोगों की मौत रांची (ranchi) में  हुई वहीं पूर्वी सिंहभूम में 04 ,धनबाद में 01,गोड्डा में 01 और पाकुड़ के 01 संक्रमित की इलाज के दौरान मौत हो गयी. राज्य में अबतक 1213 लोगों की जान कोरोना ले चुका है.

झारखण्ड में रविवार को भी कोरोना संक्रमण के मरीजों के मिलने की रफ्तार तेज रही. यहां रविवार को कोरोना के 2296 नए संक्रमित मिले जिसमें सबसे ज्यादा 1076 संक्रमित रांची में मिले हैं. रांची के बाद सबसे ज्यादा संक्रमित मिलने वाले अन्य जिलों में पूर्वी सिंघभूम  में 362, दुमका में 128, कोडरमा में 70, हजारीबाग में 66, देवघर में 64, बोकारो में 57 और रामगढ़ में 53 संक्रमित मिले हैं.

कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या के साथ राज्य में रविवार को 635 संक्रमित ठीक भी हुए हैं. इसके बाद कोरोना के एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 13933 हो गयी है. वहीं अभी तक राज्य में 1 लाख 39 384 लोग  कोरोना संक्रमित हो चुके हैं.

कोरोना के केंद्र में राजधानी रांची
रांची कोरोना की दूसरी लहर के केंद्र में बना हुआ है. एक दिन में कोरोना से मौत का रिकॉर्ड भी रविवार को टूट गया जब 14 लोगों ने अलग अलग अस्पतालों में कोरोना की वजह से दम तोड़ दिया. अब तक रांची में ही 309 लोगों की जान कोरोना ले चुका है. रविवार को 1076 नए संक्रमित मिलने के साथ ही रांची में ही कोरोना संक्रमितों की संख्या 42 हजार 387 हो गयी है.

रिकवरी रेट राष्ट्रीय औसत से भी कम, संक्रमण की रफ्तार ज्यादा

झारखंड में कोरोना संक्रमण की रफ्तार काफी तेज हो गयी है. राष्ट्रीय औसत 0.74% की तुलना में राज्य में संक्रमण का 7 डेज ग्रोथ 01.19% हो गया है , इसी तरह 7 डेज डबलिंग भी घटकर 58.73 दिन का हो गया है, वहीं इसका राष्ट्रीय औसत  93.89 दिन है. रिकवरी रेट भी राष्ट्रीय औसत से नीचे चले जाना चिंता बढ़ाने वाला है. राज्य में कोरोना का रिकवरी रेट 90 % से भी कम 89.13% है तो राष्ट्रीय औसत उससे ज्यादा  90.40% है. आंकड़े बताते हैं कि राज्य में कोरोना कैसे भयावह रूप लेता जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज