कोरोना संक्रमित सुरक्षाकर्मियों को भी सिक्किम में आने की नहीं होगी इजाजत

कोरोना संक्रमित सुरक्षाकर्मियों को भी सिक्किम में आने की नहीं होगी इजाजत
कोरोना संक्रमित होने पर सिक्किम में प्रवेश नहीं कर सकेंगे सुरक्षाकर्मी.(सांकेतिक फोटो)

राज्य सरकार ने कहा है कि रैपिड एंटीजन जांच (Rapid Antigen Detection Test) के दौरान जो सुरक्षाकर्मियों कोराना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाए जाएंगे, उन्हें सिक्किम (Sikkim) में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा और वहीं पृथक केंद्रों में वापस भेज दिया जाएगा

  • Share this:
गंगटोक. सिक्किम सरकार (Sikkim Government) ने केवल उन सुरक्षाकर्मियों (Security Personnel) को हिमालयी राज्य में प्रवेश की अनुमति देने का फैसला किया है जो कोरोना वायरस (Coronavirus) की जांच में संक्रमित नहीं पाए जाएंगे. राज्य के एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने शनिवार को बताया कि शनिवार से रंगपो सीमा जांच चौकी पर सेना और अर्द्धसैन्य बलों के सुरक्षाकर्मियों की रैपिड एंटीजन जांच (Rapid Antigen Detection Test) की जाएगी.

स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक एवं सचिव डॉ. पेम्बा टी भूटिया ने कहा, रैपिड एंटीजन जांच के दौरान जो कोराना वायरस से संक्रमित पाए जाएंगे, उन्हें सिक्किम में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा और वहीं पृथक केंद्रों में वापस भेज दिया जाएगा जहां से वे आए थे. यह कदम तब उठाया गया है कि जब चीन की सीमा से लगते इस राज्य में 36 से अधिक सुरक्षाकर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं.

इससे पहले सीमा जांच चौकियों से होकर राज्य में प्रवेश करने वाले सुरक्षाकर्मियों समेत हर किसी की थर्मल जांच की गई. उन्होंने बताया कि शीघ्र नतीजे देने वाली रैपिड एंटीजन जांच पहले 15 दिनों के लिए नि:शुल्क की जाएगी.



इसे भी पढ़ें :- देश में एक दिन में आए 27,114 नए कोरोना केस, 6 राज्यों ने बढ़ाई टेंशन
121 मामलों में से अब 41 मरीज ही संक्रमित
इस बीच, राज्य में आठ और मरीज कोविड-19 को मात देकर स्वस्थ हो गए. अधिकारियों ने बताया कि राज्य में कोविड-19 के 121 मामलों में से 41 मरीज अब भी संक्रमित हैं और 13 मरीज (सैन्यकर्मी) पड़ोसी पश्चिम बंगाल चले गए हैं जबकि बाकी के लोग इस संक्रामक रोग से उबर चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज