कोरोना वायरस: एम्बुलेंस के नाम पर मरीजों से लूट, 10 किलोमीटर के लिए वसूले जा रहे हैं 10 हजार रुपये

कोरोना वायरस: एम्बुलेंस के नाम पर मरीजों से लूट, 10 किलोमीटर के लिए वसूले जा रहे हैं 10 हजार रुपये
कई प्राइवेट एम्बुलेंस वाले तो PPE किट के नाम पर 3000 रुपये एक्सट्रा चार्ज कर रहे हैं (फोटो-AP)

कोलकाता में कोरोना के मरीजों को एम्बुलेंस (Ambulance) से 5 किलोमीटर आने-जाने के लिए 6-8 हज़ार रुपये देने पड़ रहे हैं. इतना ही नहीं कई प्राइवेट एम्बुलेंस वाले तो PPE किट के नाम पर 3000 रुपये एक्सट्रा चार्ज कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 20, 2020, 12:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) से कोहराम मचा है. हर रोज हज़ारों की संख्या में नए मरीज़ सामने आ रहे हैं. लेकिन इस असाधारण त्रासदी के बीच प्राइवेट अस्पतालों और एम्बुलेंस सेवा देने वाली कंपनियों ने मरीज़ों को लूटने का मौका नहीं छोड़ा है. इन दिनों कई राज्यों में एम्बुलेंस के चार्ज (Ambulance Charge) यूरोप के फ्लाइट के बराबर है. सिर्फ 10-15 किलोमीटर की दूरी के लिए हजारों रुपये वसूले जा रहे हैं. हैदराबाद में तो सिर्फ 10 किलोमीटर के लिए मरीजों को 10 हज़ार रुपये देने पड़ रहे हैं. पंजाब और महाराष्ट्र को छोड़ कर बाक़ी सारे राज्यों का यही हाल है.

हर राज्य में लूट
अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक एम्बुलेंस के चार्ज को लेकर लगभग हर राज्य से शिकायतें आ रही हैं. बेंगलुरु में एक शख्स को अपनी मां को हॉस्पिटल ले जाने के लिए 15 हजार रुपये देने पड़े. जबकि उनके घर से हॉस्पिटल की दूरी सिर्फ 6 किलोमीटर थी. यानी 12 किलोमीटर के लिए उन्हें 15 हज़ार रुपये देने पड़े. कोलकाता में कोरोना के मरीजों को 5 किलोमीटर आने-जाने के लिए 6-8 हज़ार रुपये देने पड़ रहे हैं.

PPE किट के लिए अलग से पैसा
इतना ही नहीं कई प्राइवेट एम्बुलेंस वाले तो PPE किट के नाम पर 3000 रुपये एक्सट्रा चार्ज कर रहे हैं. कई शहरों में तो लोगों को एम्बुलेंस भी नहीं मिल रहे हैं. कर्नाटक में सरकार की तरफ से 71 एम्बुलेंस चलाए जाते हैं, जिसमें से सिर्फ 23 कोरोना के मरीजों के लिए है. यहां से ऐसी भी खबरें आईं कि एम्बुलेंस के इंतज़ार में दर्जनों लोगों ने दम तोड़ दिया.



पंजाब और महाराष्ट्र में सुधरे हालात
पंजाब और महाराष्ट्र में भी ऐसे ही हालात थे. लेकिन शिकायत मिलने के बाद दोनों राज्यों ने यहां चार्ज को फिक्स कर दिए. इससे पहले मुंबई में 10-15 किलोमीटर जाने आने के लिए मरीजों से 30 हज़ार रुपये तक मांगे जाते थे. यानी एक करीब 3 हज़ार रुपये प्रति किलोमीटर. पुणे में भी 7 किलोमीटर के लिए 8 हज़ार रुपये तक लिए जाते थे. लेकिन जून के आखिरी हफ्ते में उद्धव ठाकरे की सरकार ने इस पर लगाम लगा दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज