आइसोलेशन से परेशान महिला ने बहू को जबरन गले लगाकर किया कोरोना पॉजिटिव

तेलंगाना में एक महिला ने कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उठाया अजीबोगरीब कदम. (सांकेतिक फोटो)

तेलंगाना में एक महिला ने कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उठाया अजीबोगरीब कदम. (सांकेतिक फोटो)

मामला तेलंगाना (Telangana ) के सोमरीपेटा गांव का है. सोमरीपेटा गांव की एक महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव (Corona Positive) आने के बाद उसे घर के सदस्‍यों ने आइसोलेट (Isolate) कर दिया था. इस बात से नाराज महिला ने ऐसा अजीबोगरीब कदम उठाया, जिससे सुनने के बाद हर कोई हैरान रह गया.

  • Share this:

हैदराबाद. कोरोना संक्रमित (Corona Infection) होने के बाद हर किसी से आइसोलेट (Isolate) होने को कहा जा रहा है. घर में अगर किसी भी एक व्‍यक्ति को कोरोना (Corona) हो जाता है, तो उसके संपर्क में आने वाले परिवार के सदस्‍यों के कोरोना संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है. लेकिन, कई लोग इस बात को शायद समझना ही नहीं चाहते हैं. ऐसे ही एक मामले में कोरोना से संक्रमित महिला ने एक ऐसा कदम उठाया जिसे सुनने के बाद लोग हैरान रह गए. दरअसल, कोरोना पॉजिटिव महिला ने अपनी बहू को केवल इसलिए जबरदस्‍ती पकड़कर गले लगाया, जिससे वो भी कोरोना पॉजिटिव हो जाए. महिला इस बात से परेशान थी कि उसे एक कमरे में बंद कर दिया गया है और उसे किसी को भी मिलने नहीं दिया जाता है.

मामला तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद के सोमरीपेटा गांव का है. सोमरीपेटा गांव की एक महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे घर के सदस्‍यों ने आइसोलेट कर दिया था. महिला को एक कमरे में रखा गया था, जहां किसी को भी जाने की इजाजत नहीं दी गई थी. परिवार के सदस्‍यों ने उससे मिलना जुलना बंद कर दिया था और उससे कहा था कि उनकी रिपोर्ट निगेटिव आते ही उन्‍हें फिर से परिवार के साथ मिलने का मौका मिल जाएगा. लेकिन, एक कमरे में अलग रहने की बात से नाराज महिला ने अपनी बहू को जबरदस्ती गले लगा लिया और उसे भी कोरोना पॉजिटिव कर दिया.

इसे भी पढ़ें :- मिल्खा सिंह PGIMER अस्पताल के ICU में भर्ती, ऑक्सीजन लेवल गिरा

बताया जा रहा है कि बहू के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद जब घर पर उसे अलग रखने की कोई जगह नहीं बची तो उसे बाहर निकाल दिया गया. लाख समझाने के बाद भी घरवालों ने उसे घर के अंदर आने ही नहीं दिया. इसके बाद महिला की बहन उसे राजन्ना सिरसिला जिले के थिम्मापुर गांव ले गई जहां पर उसके माता-पिता रहते हैं.
इसे भी पढ़ें :- कमजोर पड़ी है पर खत्म नहीं हुई कोरोना की दूसरी लहर, जून के अंत तक राहत के आसार

महिला ने स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी को बताया कि उसकी सास ने कहा कि जब मैं कोरोना पॉजिटिव हो गई तो तू कैसे नहीं होगी. ये कहते हुए उन्‍होंने मुझे लगे लगा लिया. आइसोलेशन से परेशान महिला का कहना था कि उसके मरने के बाद परिवार के सदस्‍य सुखी से रहना चाहते हैं. सास ने कहा कि अगर वो इस दुनिया में नहीं रही तो वो और भी लोगों को सुखी से नहीं रहने देगी. इतना बोलते ही उसने सबसे पहले बहू को ही गले लगाया और उसे कोरोना पॉजिटिव कर दिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज