नागपुर में कोरोना के हालात हुए बेकाबू, होम आइसोलेशन के कारण बढ़ रहे हैं मरीज!

बिहार में कोरोना के मरीजों की संख्या 15 हजार के आसपास जा पहुंची है (सांकेतिक चित्र)

बिहार में कोरोना के मरीजों की संख्या 15 हजार के आसपास जा पहुंची है (सांकेतिक चित्र)

Nagpur Corona case updates: जिले में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 7,201 नए मामले दर्ज किए गए हैं. जबकि 63 मरीजों की मौत हो गई है. नए मामले सामने आने के बाद जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2, 78, 556 पर पहुंच गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 12, 2021, 5:20 AM IST
  • Share this:
रवि गुलकारी

महाराष्ट्र के नागपुर जिले में एक बार फिर कोरोना के हालात बेकाबू होते जा रहे हैं. जिले में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 7,201 नए मामले दर्ज किए गए हैं. जबकि 63 मरीजों की मौत हो गई है. नए मामले सामने आने के बाद जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2, 78, 556 पर पहुंच गई है. जबकि महामारी के कारण अब तक 5,769 लोगों की मौत हो चुकी है. जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण का कारण होम आइसोलेशन कहा जा रहा है.

दरअसल, जिले में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. जिले के लगभग सभी अस्पतालों में बेड फुल हो गए हैं, जिसके कारण मरीजों को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी जा रही है.

डॉक्टरों का कहना हैं कि यदि संक्रमण के शुरुआती दिनों में जांच एवं उपचार कराए गए तो इससे निपटा जा सकता है. उनका कहना है कि संक्रमण को शुरुआत से ही नजरअंदाज किया जा रहा है, जिसके कारण मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. डॉक्टर्स का कहना है कि होम आइसोलेशन में संक्रमित मरीज परिवार के अन्य सदस्यों के संपर्क में आ रहे हैं. एक ये भी वजह है जिसके कारण जिले में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं.
ऑक्सीजन बेड की कमी से जूझ रहे हैं

इसी बीच नागपुर मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में ऑक्सीजन बेड की कमी हो गई. अस्पताल परिसर के बाहर जूनियर डॉक्टरों ने जिला प्रशासन के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरूकर दिया. डॉक्टरों ने ऑक्सीजन बेड की कमी और रेमोडिसविर इंजेक्शन की किल्लत का आरोप लगाया है. एएनआई से बातचीत करते हुए डॉक्टर ने बताया कि प्रशासन को हालात को देखते हुए इमरजेंसी घोषित कर देना चाहिए.


Youtube Video




पूरे महाराष्ट्र में 63 हजार से ज्यादा मामले

वहीं, बात अगर पूरे महाराष्ट्र की जाए तो पिछले 24 घंटे में यहां संक्रमण के 63,294 नए मामले सामने आए हैं. यह पहला मौका है, जब राज्य में एक दिन में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना के नए केस मिले हैं. वहीं राहत की खबर ये भी है कि 34 हजार 8 मरीजों को डिस्चार्ज कर घर भेजा गया. राज्य में रिकवरी रेट 81.65% पहुंच गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज