थर्ड वेव की आशंका, बच्चों के लिए तैयार किए जा रहे आइसोलेशन सेंटर, जानिए कहां-कहां बनेंगे ये सभी?

बच्चों का अच्छे से ख्याल रखने के लिए सभी चाइल्ड केयर इंस्टीट्यूशंस में भी आने वाले समय में आइसोलेशन सेंटर बनाने की तैयारी भी की है. (सांकेतिक फोटो).

Corona Third wave Alert: कोविड-19 की सेकेंड वेव के दौरान बच्चों के पेरेंट्स के जाने के बाद अकेला रहने की समस्या ज्यादा आई जिसके बाद दो आईसोलेशन सेंटर खोले गए थे. इनमें 6 से 18 साल तक के बच्चों के लिए व्यवस्था की गई थी. लेकिन आने वाले समय में बच्चों के लिए कोरोना की थर्डवेव के ज्यादा खतरनाक बताए जाने के बाद इस सभी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना वायरस (Corona virus) की दूसरी लहर (Second Wave) में बहुत से बच्चों ने अपने पेरेंट्स को खो दिया है. इस तरह के बच्चों के लिए दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने जहां फिलहाल दो आइसोलेशन एवं क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Centre) बनाए हुए हैं. वहीं, बच्चों का अच्छे से ख्याल रखने के लिए सभी चाइल्ड केयर इंस्टीट्यूशंस (Child Care Institutions) में भी आने वाले समय में आइसोलेशन सेंटर बनाने की तैयारी भी की है. ऐसा कोरोना की संभावित थर्ड वेव (Third Wave) को लेकर किया जा रहा है.

    दिल्ली सरकार का महिला एवं बाल विकास विभाग स्वास्थ्य विभाग के साथ लगातार कोआर्डिनेशन बनाकर और मीटिंग करके आने वाले समय में बच्चों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए बड़ी तैयारियों में जुटा हुआ है. महिला व बाल विकास विभाग के अंतर्गत राजधानी में 26 सरकारी और 75 एनजीओ की ओर से चाइल्ड केयर इंस्टीट्यूशंस (Child Care Institutions) संचालित हो रहे हैं.

    इन सभी चाइल्ड केयर इंस्टिट्यूशन (CCI) में भी आने वाले समय में थर्डवेव को लेकर आइसोलेशन सेंटर बनाने की तैयारी है. दिल्ली के महिला एवं बाल विकास मंत्री राजेंद्र पाल गौतम (Rajendra Pal Gautam) का भी कहना है कि फिलहाल विभाग के अंतर्गत लड़कों के लिए लाजपत नगर में आइसोलेशन सेंटर (Isolation Centre) बनाया गया है. वहीं, लड़कियों के लिए जोनापुर में यह आइसोलेशन सेंटर चल रहा है.

    मंत्री का कहना है कि अब यहां काफी कम बच्चे हैं. इनको आइसोलेशन सेंटर में रखा गया है. आइसोलेशन सेंटर में 14 दिन के बाद उनकी जांच आदि सभी होने के बाद सीसीआई में भेज दिया जाता है. खासकर इनमें वह बच्चे होते हैं जिनके पेरेंट्स की कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर जान चली गई और इन बच्चों को रेस्क्यू किया गया है.

    मंत्री का कहना है कि कोविड-19 (COVID-19) के दौरान इस तरह की समस्या ज्यादा आई थी जिसके बाद यह दो सेंटर खोले गए थे. इनमें 6 से 18 साल तक के बच्चों के लिए व्यवस्था की गई थी. लेकिन आने वाले समय में बच्चों के लिए कोरोना की थर्डवेव के ज्यादा खतरनाक बताए जाने के बाद इस सभी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है.

    सभी इंस्टीट्यूशंस में आइसोलेशन सेंटर बनाने को WCD हेल्थ विभाग के साथ बनाए हुए है तालमेल
    उनका कहना है कि सभी चिल्ड्रन होम में आइसोलेशन रूम बनाए गए हैं. वहीं, थर्ड वेव के चलते बाकी इंस्टीट्यूशंस में भी आइसोलेशन सेंटर बनाने की पूरी तैयारी है. इसके लिए सरकार के पास सेंटरों में पर्याप्त स्थान भी है. इस मामले पर दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग के साथ भी WCD विभाग पूरी तरीके से कोआर्डिनेशन बनाए हुए हैं.

    स्टाफ को भी पूरी तरीके से तैयार किया जाएगा
    उनका कहना यह भी है कि हम पहले से ही पूरी तैयारी कर रहे हैं जिससे कि एकदम वक्त पड़ने पर तुरंत इस तरह के सेंटर बनाए जा सके. इसके लिए स्टाफ को भी पूरी तरीके से तैयार किया जाएगा. स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि बच्चों की जरूरतों को देखते हुए हम इन सभी सेंटरों की तैयारी करेंगे.

    चार आइसोलेशन सेंटर जल्द तैयार होंगे 
    बताया जाता है कि चार आइसोलेशन सेंटर जल्द ही तैयार किए जा रहे हैं. इसको लेकर जिले की टास्क फोर्स भी दौरा कर चुकी है. इनमें तीन सेंटर प्रयास एनजीओ की ओर से बनाए जा रहे हैं और एक बचपन बचाओ आंदोलन की ओर से तैयार किया जा रहा है.

    जिला टास्क फोर्स कर रही आइसोलेशन सेंटर और क्वारंटाइन सेंटर का दौरा 
    बताते चलें कि महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से एक टास्क फोर्स बनाई गई है जो सभी कोविड-19 संक्रमित बच्चों की मदद करने का पूरा ध्यान रखेगी. जिला टास्क फोर्स को आइसोलेशन सेंटर और क्वारंटाइन सेंटर का भी लगातार दौरा करने के लिए कहा गया है जिससे कि सभी बच्चों को सुरक्षा और सुविधाएं मुहैया कराई जा सके.

    सरकारी स्कूलों में आइसोलेशन सेंटर खोलने के प्रस्ताव 
    इस बीच देखा जाए तो दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) भी कोरोना की थर्डवव की संभावना को लेकर बेहद चिंतित और गंभीर है. हाईकोर्ट की ओर से केंद्र सरकार (Central Government) और राज्य सरकार (Delhi Government) से सरकारी स्कूलों में आइसोलेशन सेंटर खोलने के प्रस्ताव की संभावनाओं पर गंभीरता से विचार करने को कहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.