अपना शहर चुनें

States

Covid-19 Vaccine: भारत के पास है कोरोना वैक्सीन का भंडार, करोड़ों डोज पहले से ही हैं तैयार

ताजा आंकड़ों के मुताबिक अब तक दुनिया भर में एक करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी है. (फोटो- AP)
ताजा आंकड़ों के मुताबिक अब तक दुनिया भर में एक करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी है. (फोटो- AP)

Covid-19 Vaccine: सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ ​इंडिया ने कोरोना वैक्सीन की 7.5 करोड़ डोज़ पहले ही तैयार कर ली है, जबकि उम्मीद की जा रही है कि जनवरी के पहले हफ्ते में 10 करोड़ डोज़ तैयार कर लिए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 8:45 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नए साल के दस्तक देते ही देशवासियों के लिए अच्छी खबर है. कोरोना की वैक्सीन 'कोविशील्ड' (Covishield) को एक्सपर्ट पैनल ने इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी है. अब किसी भी वक्त वैक्सीन (Corona Vaccine) लगाने का काम देश भर में शुरू हो जाएगा. ये वैक्सीन ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्रेजेनेका की है, जिसे भारत में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ ​इंडिया (SII) ने तैयार किया है. अमेरिका और ब्रिटेन सहित दुनिया के कई देशों में कोरोना की वैक्सीन लगाने का काम पहले ही शुरू हो चुका है. उम्मीद की जा रही है कि हमारे देश में भी टीकाकरण की रफ्तार तेजी से आगे बढ़ेगी.

सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ ​इंडिया ने पहले ही वैक्सीन की 7.5 करोड़ डोज़ तैयार कर ली है, जबकि उम्मीद की जा रही है कि जनवरी के पहले हफ्ते में 10 करोड़ डोज़ तैयार कर लिए जाएंगे. SII के डायरेक्टर ऑफ रिसर्च एंड डेवलपमेंट उमेश शालीग्राम ने पिछले दिनों एक वेबिनार में कहा था कि दुनिया के किसी भी देश में वैक्सीन का इतना बड़ा स्टॉक नहीं होगा जितना भारत के पास है. इसी हफ्ते SII के प्रमुख आदर पूनावाला ने कहा था कि उनके यहां जितना भी वैक्सीन का डोज़ तैयार होगा उसमें 50 फीसदी हिस्सा भारत का होगी, जबकि वैक्सीन की बाक़ी डोज़ WHO को दी जाएगी.

हर महीने एक करोड़ डोज़
आदर पूनावाला ने कहा, ' हमने हमेशा कहा है कि हम जितना भी डोज़ तैयार करेंगे, उसमें भारत की आधी हिस्सेदारी होगी. अगर हम एक महीने में 6-7 करोड़ डोज़ तैयार करते हैं तो फिर वो भारत और दूसरे देशों को दिए जाएंगे. हम उम्मीद कर रहे हैं कि पहले करीब 5 करोड़ डोज़ भारत को मिलेंगे. मार्च तक हर महीने 1 करोड़ डोज़ तैयार किए जाएंगे. वैक्सीन बनाने के लिए तीसरी फैक्ट्री तैयार हो रही है.
ये भी पढ़ें:- ब्रिटेन से वाराणसी लौटे युवक में कोरोना की पुष्टि, नए स्ट्रेन की होगी जांच



दूसरे वैक्सीन का हाल
सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ ​इंडिया अमेरिकी कंपनी नोवाक्स के साथ मिलकर एक और वैक्सीन तैयार कर रही है. भारत को इससे भी 50 फीसदी डोज़ मिलेंगे. हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक के तीसरे फेज के ट्रायल इन दिनों चल रहे हैं. उम्मीद की जा रही है कि ये कंपनी भी एक साल में करीब 30 करोड़ डोज़ तैयार करेगी. इसके अलावा जैडस कैडिला भी वैक्सीन तैयार कर रही है. इससे भी भारत को हर साल करोड़ों डोज़ मिलेंगे.

अब तक कितने लोगों को लगे हैं वैक्सीन?
ताजा आंकड़ों के मुताबिक अब तक दुनिया भर में एक करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी है. वैक्सीन की सबसे ज्यादा डोज़ चीन, अमेरिका, ब्रिटेन और इजरायल में लगे हैं. अब तक इज़रायल में सबसे ज्यादा 11 फीसदी लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है. अगर जनसंख्या की बात की जाए तो चीन में अब तक 45 लाख लोगों को वैक्सीन की डोज़ लगाई जा चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज