Home /News /nation /

कोरोना वायरस: देश में 24 घंटे में आए 1975 केस, 47 लोगों की हुई मौत; संक्रमितों की संख्या 27000 के करीब

कोरोना वायरस: देश में 24 घंटे में आए 1975 केस, 47 लोगों की हुई मौत; संक्रमितों की संख्या 27000 के करीब

जानकारी के अनुसार डॉक्टर दंपती सेक्‍टर 3 स्थित गार्डेनिया ग्लैमर सोसायटी में रहते हैं. (सांकेतिक फोटो)

जानकारी के अनुसार डॉक्टर दंपती सेक्‍टर 3 स्थित गार्डेनिया ग्लैमर सोसायटी में रहते हैं. (सांकेतिक फोटो)

स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के मुताबिक देश में अब तक कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित 5804 लोग ठीक हो चुके हैं.

    नई दिल्ली. देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस (Coronavirus) के 1975 मामले सामने आए हैं जिसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 26,917 हो गई है. पिछले 24 घंटों में 47 लोगों की मौत हो गई जिसके चलते मरने वालों का आंकड़ा 826 हो गया है. वहीं अब तक 5804 लोग ठीक हुए हैं.

    देश में कोविड-19 (Covid-19) संक्रमित 19,868 मरीजों का इलाज चल रहा है, वहीं 5,804 को ठीक होने के बाद अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों से छुट्टी दी जा चुकी है. एक रोगी देश छोड़कर जा चुका है. संक्रमण के कुल मामलों में 111 विदेशी नागरिक भी हैं.

    राज्यों के हिसाब से ये है मौत का आंकड़ा
    शनिवार शाम से सामने आए मौत के 45 मामलों में महाराष्ट्र से 22 , गुजरात से छह और मध्य प्रदेश से सात मामले हैं. अब तक मौत के कुल 824 मामलों में सर्वाधिक महाराष्ट्र से आए हैं जिनकी संख्या 323 है, इसके बाद गुजरात से 133, मध्य प्रदेश से 99, दिल्ली से 54, आंध्र प्रदेश से 31 और राजस्थान से 27 रोगियों की मौत के मामले आए हैं.

    मुख्यमंत्रियों से बात करेंगे प्रधानमंत्री
    वहीं कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में किस तरह से आगे बढ़ना है इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार सुबह वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद करेंगे. यह संवाद इन संकेतों के बीच होगा कि यह लागू लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने केंद्रित हो सकता है. देश में कोविड-19 के प्रसार के बाद मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री मोदी की यह तीसरी वीडियो कॉन्फ्रेंस होगी.

    सरकार के सूत्रों ने संकेत दिया कि महामारी से निपटने के तरीके पर चर्चा करने के अलावा, चर्चा लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने पर भी ध्यान केंद्रित हो सकती है जो तीन मई तक लागू है.

    केंद्र और राज्य सरकारें आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने और लोगों को राहत प्रदान करने के लिए विभिन्न क्षेत्रों को क्रमिक छूट दे रही हैं. हालांकि कुछ राज्य लॉकडाउन को तीन मई के बाद भी जारी रखने के इच्छुक हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोरोना वायरस के मामले नियंत्रण में रहें.

    'जनता द्वारा जनता के नेतृत्व में लड़ी जा रही कोरोना की लड़ाई'
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात (Mann Ki Baat) वैश्विक महामारी कोरोना के खिलाफ भारत में जारी जंग को पूरी तरह से जनता द्वारा, जनता के नेतृत्व में लड़ी जा रही लड़ाई बताया. उन्होंने देशवासियों को आगाह किया कि कुछ इलाकों को संक्रमण मुक्त बनाने में मिली सफलता के बाद अति आत्मविश्वास में न आयें, क्योंकि जरा सी भी लापरवाही बेहद घातक साबित हो सकती है.

    ये भी पढ़ें-
    बार-बार संक्रमित कर सकता है कोरोना वायरस, इम्‍युनिटी पासपोर्ट जारी न करें देश

    महाराष्ट्र के 80 प्रतिशत कोरोना वायरस मामलों में नहीं दिख रहे लक्षण: CM ठाकरे

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर