पश्चिम बंगाल में Corona से एक दिन में 144 मौत, 30 तक रहेगा पूर्ण लॉकडाउन

पश्चिम बंगाल में शनिवार को कोविड से 144 की मौत.

पश्चिम बंगाल में शनिवार को कोविड से 144 की मौत.

विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद बंगाल में कोरोना का संक्रमण बढ़ा तो बढ़ता ही गया. शनिवार को राज्य में कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें हुईं. फिलहाल सूबे में 15 दिन का पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है ताकि हालात काबू में आ सकें.

  • Share this:

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है. राज्य में शनिवार को एक दिन में सबसे अधिक 144 कोविड-19 रोगियों की मौत हुई, जिसके बाद मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 13,137 हो गई. स्वास्थ्य विभाग के एक बुलेटिन में बताया गया है कि कि संक्रमण के 19,511 नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की कुल तादाद 11,14,313 तक पहुंच गई है. राज्य में 1 लाख 31,948 मरीजों का इलाज चल रहा है. बुलेटिन के अनुसार बीते 24 घंटे के दौरान कम से कम 19,211 लोग संक्रमण से उबरे हैं. शुक्रवार के बाद से राज्य में 66,563 सैंपल्स की जांच की जा चुकी है.

30 मई तक है लॉकडाउन

राज्य में कोरोना के बिगड़ते हालात देखकर बंगाल सरकार ने कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए राज्य में 16 से 30 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है. इस लॉकडाउन के दौरान वाहनों की आवाजाही पर पाबंदी रहेगी और किसी तरह का कोई जमावड़ा नहीं हो सकेगा. इस अवधि के दौरान सभी सरकारी और निजी कार्यालय, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, मॉल, बार, खेल कॉम्प्लेक्स, पब और ब्यूटी पार्लर बंद रहेंगे. 15 दिन के लॉकडाउन के दौरान निजी वाहन, टैक्सी, बस, मेट्रो रेल, उपनगरीय ट्रेन की सेवा भी बंद रहेगी. पेट्रोल पंप, गैरेज, एलपीजी गैस के दफ्तर खुले रहेंगे. चाय के बागानों में 50 फीसदी कार्यबल और जूट की मिलों में 30 फीसदी कर्मचारी काम कर सकेंगे.

लॉकडाउन में इन सेवाओं को इज़ाजत
पेट्रोल पम्प खुले रहेंगे और आवश्यक सेवाएं जैसे कि दूध, पानी, दवा, बिजली, अग्निशमन, कानून एवं व्यवस्था और मीडिया इस प्रतिबंध के दायरे में नहीं आएंगे. ई-कॉमर्स और घर पर सामान पहुंचाने की सेवाओं को मंजूरी दी जाएगी. चिकित्सकीय सामानों, ऑक्सीजन और जरूरी खाद्य सामग्रियों को लेकर ट्रक आवाजाही कर सकेंगे. अस्पताल, जांच केंद्र, टीकाकरण केंद्र, हवाई अड्डा और मीडिया संस्थान आने-जाने में गाड़ियों के इस्तेमाल की अनुमति होगी. बैंकों में सुबह 10 बजे से दोपहर दो बजे के बीच कामकाज होगा. मिठाई की दुकानों को सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक और आभूषण-साड़ियों की दुकानों को दिन में 12 बजे से 3 बजे तक खोलने की अनुमति होगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज