होम /न्यूज /राष्ट्र /RT-PCR टेस्ट में 1 मिनट की देरी, इंडिगो ने गर्भवती महिला को फ्लाइट में बोर्डिंग से रोका

RT-PCR टेस्ट में 1 मिनट की देरी, इंडिगो ने गर्भवती महिला को फ्लाइट में बोर्डिंग से रोका

 आरटी-पीसीआर (Covid RT-PCR Test)

आरटी-पीसीआर (Covid RT-PCR Test)

Covid RT-PCR Test Lapes by 1 minute: यूएई यात्रियों के लिए तय गाइडलाइन के मुताबिक 13-सप्ताह की गर्भवती रुखसार सहित तीनो ...अधिक पढ़ें

    बंगलुरू. कोरोना वायरस महामारी (Covid-19 Pandemic) के बीच कुछ नियमों के तहत हवाई यात्रा की अनुमति दी गई है. इन नियमों की वजह से एक गर्भती महिला को मुश्किलों का सामना करना पड़ा. दरअसल, इंडिगो एयरलाइंस (Indigo Airlines) की फ्लाइट में बंगलुरू की एक गर्भवती महिला और उसके परिवार के दो सदस्यों को महज इसलिए बोर्डिंग नहीं करने दिया गया, क्योंकि उनके आरटी-पीसीआर टेस्ट में एक मिनट की देरी हो गई थी. हवाई यात्रा के लिए कोविड के आरटी-पीसीआर (Covid RT-PCR Test) नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट की 48 घंटे की वैधता है. इस महिला की रिपोर्ट की वैधता खत्म हुए एक मिनट हो चुके थे. उन्हें एयरपोर्ट पर 3,000 रुपये में रैपिड आरटी-पीसीआर टेस्ट कराने के बाद भी फ्लाइट में चढ़ने नहीं दिया गया.

    टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोरट के मुताबिक, रुखसार मेमन (28) अपने पति सुहैल सैयद (39) और सास मुमताज मुनव्वर (63) के साथ 9 अक्टूबर को सालाना छुट्टियां मनाने बंगलुरु आए थे. मंगलवार की सुबह परिवार दुबई के लिए रवाना होने वाला था. केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (केआईए) में इंडिगो की फ्लाइट 6E95 थी, जो दोपहर 1.15 बजे उड़ान भरने वाली थी.

    Indian Railway News- ट्रेनों में नॉनवेज खाने और साथ ले जाने में होगी मनाही, जानें वो ट्रेनें कौन सी होंगी?

    यूएई यात्रियों के लिए तय गाइडलाइन के मुताबिक 13-सप्ताह की गर्भवती रुखसार सहित तीनों ने केआईए के बाहर रैपिड आरटी-पीसीआर टेस्ट कराया. मंगलवार को सुबह 10 बजे के आसपास इंडिगो चेक-इन काउंटर पर पहुंचने से पहले 9,000 रुपये में नकारात्मक मिली. लेकिन वे फ्लाइट में बोर्डिंग नहीं कर पाए.

    दुबई में सेल्स एग्जीक्यूटिव के रूप में काम करने वाले सुहैल ने कहा, ‘हमें मंगलवार को दोपहर 1.15 बजे फ्लाइट में चढ़ने से मना कर दिया गया, क्योंकि इंडिगो ग्राउंड स्टाफ ने कहा कि हमारी शुरुआती आरटी-पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट से पता चला है कि रविवार दोपहर 1.15 बजे हमारे सैंपल लिए गए थे.’ एयरलाइन सैंपल कलेक्शन के समय से 48 घंटे की वैधता अवधि की गणना करती है. इंडिगो के ग्राउंड स्टाफ ने परिवार को बताया कि दोपहर 1.15 बजे उड़ान भरने तक, उनकी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट अनिवार्य 48 घंटों से एक मिनट अधिक की देरी से थी.

    IIT बॉम्बे का अलर्ट: घर के अंदर इन जगहों पर कोराेना का खतरा 10 गुना ज्यादा

    सुहैल ने कहा, ‘मैंने इंडिगो के मैनेजर से गुजारिश की. क्योंकि जब हम हवाई अड्डे पर पहुंचे तो हम 48 घंटे की वैधता के भीतर थे. लेकिन, स्टाफ का बर्ताव हमारे लिए अच्छा नहीं था. विशेष रूप से एयरलाइन मैनेजर ने हमें तीन घंटे तक इंतजार कराया और फिर बोर्डिंग से इनकार कर दिया.’

    इंडिगो के ग्राउंड स्टाफ के सूत्रों ने घटना की पुष्टि की. सूत्रों ने कहा कि वे कोविड प्रोटोकॉल नियमों का पालन कर रहे थे. परिवार ने घटना की शिकायत इंडिगो में दर्ज कराई है. गुरुवार शाम तक एयरलाइन की ओर से कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं आई.

    Tags: Coronavirus, Covid Vaccine Supply, RT-PCR, RT-PCR Testing

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें