लाइव टीवी

कोरोनावायरस: एयर इंडिया का विमान 1.30 हुआ रवाना, 6 डॉक्टरों की टीम के साथ दी गई ये सुविधाएं

News18Hindi
Updated: January 31, 2020, 3:52 PM IST
कोरोनावायरस: एयर इंडिया का विमान 1.30 हुआ रवाना, 6 डॉक्टरों की टीम के साथ दी गई ये सुविधाएं
एअर इंडिया का 423 सीटों वाला बी747 विमान रवाना

एअर इंडिया (Air India) का 423 सीटों वाला बी747 विमान शुक्रवार को दिल्ली से दोपहर 1 बजकर 20 मिनट पर वुहान हवाईअड्डे (Wuhan Airport) के लिए रवाना हुआ. स्वास्थ्य मंत्रालय के 5 डॉक्टर और एक परा-चिकित्सक भी है साथ में.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 31, 2020, 3:52 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. चीन में कोरोनावायरस (Coronavirus) के फैलने के कारण भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए एअर इंडिया (Air India) का 423 सीटों वाला बी747 विमान शुक्रवार को दिल्ली से दोपहर 1 बजकर 20 मिनट पर वुहान हवाईअड्डे (Wuhan Airport) के लिए रवाना हुआ. अधिकारियों ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय के 5 डॉक्टर और एक परा-चिकित्सक विमान में सवार होंगे. करीब 400 भारतीय लोगों को वापस लाने की संभावना है. अधिकारी ने बताया कि वुहान से भारतीयों को लेकर विमान के शुक्रवार को देर रात एक बजे से दो बजे के बीच लौटने की संभावना जताई जा रही है. एक और विशेष उड़ान T3 कल दिल्ली से रवाना हो सकती है.

विमान में है 20 लोगों का स्टाफ
वुहान के लिए उड़ान भरने वाले विमान में 15 क्रू मेंबर और 5 कॉकपिट क्रू शामिल हैं. विमानन कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार विमान करीब 12 बजकर 50 मिनट पर रनवे पर आया और इसने दोपहर 1 बजकर 20 मिनट पर उड़ान भरी. विमान के उड़ान भरने में देरी हुई क्योंकि कुछ चीजों की मंजूरी मिलने में थोड़ा समय लग गया. इस विमान में एक परा-चिकित्सक भी है.





सभी के लिए मास्क की वयवस्था
अधिकारियों ने बताया कि चालक दल के सदस्यों और यात्रियों के लिए मास्क का प्रबंध किया गया है. हमने चालक दल के सदस्यों के लिए सुरक्षा कवच का भी प्रबंध किया है. भारतीय सेना ने हरियाणा के पास मानेसर में इन लोगों के रुकने की व्यवस्था की गई है. इन स्टूडेंट को कुछ हफ्तों तक निगरानी में रखा जाएगा.


ऐसे की जाएगी खाने की व्यवस्था
एअर इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अश्वनी लोहानी ने शुक्रवार को कहा, 'विमान में कोई सेवा नहीं दी जाएगी. जो भी खाद्य पदार्थ होंगे वह सीट पॉकेट में रखे होंगे. कोई सेवा न होने से चालक दल के सदस्यों और यात्रियों के बीच कोई संपर्क नहीं हो पाएगा.

स्क्रीनिंग के होंगे 2 स्टेप
स्क्रीनिंग की प्रक्रिया दो स्टेप में होगी, पहले एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की जाएगी उसके बाद यदि किसी व्यक्ति को संक्रमित होने का संदेह है, तो उसे बेस हॉस्पिटल / कैंटोनमेंट के आइसोलेशन वार्ड में ट्रांसफर कर दिया जाएगा.

सरकार ने चीन के हुबेई प्रांत में रहने वाले 600 भारतीय लोगों से यहां वापस लौटने की इच्छा जानने के लिए संपर्क किया था. हुबेई प्रांत के वुहान में इस वायरस से सबसे ज्यादा लोग प्रभावित हैं. चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या शुक्रवार को 213 पहुंच गई है. वहीं कुल 9,692 मामलों की पुष्टि हुई है. इनमें से 5,806 मामले हुबेई प्रांत के हैं और यहां 204 लोगों की मौत हो चुकी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 31, 2020, 3:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर