Assembly Banner 2021

चुनावी राज्‍यों में रैलियों के कारण कई गुना बढ़े कोरोना केस, विशेषज्ञों ने जताई चिंता

देश में बढ़ रहे हैं कोरोना वायरस संक्रमण के मामले. (Pic- AP)

देश में बढ़ रहे हैं कोरोना वायरस संक्रमण के मामले. (Pic- AP)

Coronavirus in India: एम्‍स के पूर्व निदेशक डॉ. एमसी मिश्रा ने चिंता जताई है. उनका कहना है कि इन चुनावी राज्‍यों में अधिक ध्‍यान देने की जरूरत है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) की रफ्तार तेजी से फैल रही है. इसे दूसरी लहर कहा जा रहा है. सरकार ने भी लोगों से एहतियात बरतने को कहा है. गुरुवार को स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Covid 19) के 72,330 नए केस सामने आए हैं. इस बीच विशेषज्ञों ने चिंता जाहिर की है कि चुनावी राज्‍यों में चुनावी रैलियों के कारण कोरोना वायरस संक्रमण के केस कई गुना बढ़े हैं. इस ओर ध्‍यान देने की जरूरत है.

रिपोर्ट के अनुसार तीन चुनावी राज्‍यों तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी में कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ने के पीछे चुनावी रैलियां भी अहम वजह हैं. इनमें कोरोना नियमों का पालन न होने के कारण इन राज्‍यों में संक्रमण के मामले कई गुना बढ़े हैं.

Youtube Video




तमिलनाडु की बात करें तो राज्‍य में कोरोना वायरस संक्रमण के मरीजों की संख्‍या में 386 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. वहीं पश्चिम बंगाल में यह आंकड़ा 190 फीसदी का है. इसके साथ ही पुडुचेरी में भी कोरोना के नए मामले रोजाना 20 से बढ़कर 115 हो गए हैं.
इस पर एम्‍स के पूर्व निदेशक डॉ. एमसी मिश्रा ने चिंता जताई है. उनका कहना है कि इन चुनावी राज्‍यों में अधिक ध्‍यान देने की जरूरत है. कुछ हफ्ते पहले स्‍वास्थ्‍य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों में तमिलनाडु, केरल और पश्चिम बंगाल का जिक्र होता था. लेकिन अब बुलेटिन में इनका नाम नहीं होता है.

वहीं स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार शुक्रवार को कैबिनेट सचिव सभी राज्‍यों के साथ कोरोना मामलों पर बैठक करेंगे. बैठक में एनसीडीसी के निदेशक डॉ. सुजीत कुमार सिंह भी चुनावी राज्‍यों पर रिपोर्ट प्रस्‍तुत कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज