• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • CORONAVIRUS CASES IN INDIA HEALTH MINISTRY SAYS 66 PERCENT CASES IN FIVE STATES

देश में कोरोना के मामलों में 68 फीसदी की कमी, 5 राज्यों में 66 फीसदी केस ने बढ़ाई टेंशन

पंजाब के एक गांव में लोगों की कोरोना जांच करते स्वास्थ्यकर्मी. फाइल फोटो

Health Ministry ने कहा कि कोरोना संक्रमण के 66 फीसदी मामले 5 राज्यों से आ रहे हैं और 33 फीसदी मामले 31 राज्यों से आ रहे हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को देश में कोरोना संक्रमण की ताजा स्थिति की जानकारी देते हुए कहा कि पिछले 8 दिनों से संक्रमण के प्रतिदिन 2 लाख से कम मामले सामने आ रहे हैं. वायरस संक्रमण के कुल मामलों में 68 फीसदी की कमी दर्ज की गई है. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के 66 फीसदी मामले 5 राज्यों से आ रहे हैं और 33 फीसदी मामले 31 राज्यों से आ रहे हैं. मंत्रालय ने कहा कि देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 1,32,000 मामले दर्ज किए गए हैं.

    कोरोना के मौजूदा हालात पर स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि रिकवरी रेट में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है. मौजूदा वक्त में रिकवरी रेट 93.1 फीसदी है. उन्होंने कहा कि देश के 377 जिलों में पॉजिटिविटी रेट 5 फीसदी से कम है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि सात मई को कोरोना वायरस संक्रमण के चरम पर पहुंचने के बाद से अब तक कोविड-19 मामलों में लगभग 68 प्रतिशत तक गिरावट देखी गई है. दस मई को कोविड-19 के उपचाराधीन रोगियों की संख्या चरम पर पहुंचने के बाद से अब तक इनकी तादाद में 21 लाख से अधिक की कमी आई है.

    मंत्रालय ने कहा कि प्रतिदिन के मामलों में 68 प्रतिशत की कमी देखी जा रही है और 66 प्रतिशत मामले 5 राज्यों से आ रहे हैं, जबकि संक्रमण के 31 फीसदी मामले 31 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से आ रहे हैं. इससे पता चलता है कि वायरस पर नियंत्रण स्थापित हो रहा है. सरकार ने कहा कि फिलहाल 377 जिलों में कोविड-19 की संक्रमण दर पांच प्रतिशत से कम बताई जा रही है. यदि कोविड-19 की रोकथाम के उपायों, कोविड-19 उपयुक्त व्यवहार या टीकाकरण में ढिलाई बरती गई तो मामले फिर बढ़ सकते हैं. हमें कोविड-19 रोधी टीकाकरण का बड़ा लक्ष्य प्राप्त करने के लिए समय चाहिए होगा.

    सरकार के मुताबिक देश में अब तक 60 वर्ष से अधिक आयु की करीब 43 प्रतिशत जबकि 45 साल से ज्यादा उम्र की 37 प्रतिशत आबादी को कोविड-19 रोधी टीके लगाए जा चुके हैं. कोविड-19 रोधी टीके की कम से कम एक खुराक ले चुके लोगों की संख्या के मामले में भारत ने अमेरिका को पीछे छोड़ दिया है.