मनरेगा मजदूरों के लिए खुशखबरी, 10 अप्रैल तक सरकार देगी पूरा बकाया

मनरेगा मजदूरों को 10 अप्रैल तक सरकार देगी पूरा बकाया
मनरेगा मजदूरों को 10 अप्रैल तक सरकार देगी पूरा बकाया

CoronaVirus: केंद्र सरकार (Government) ने ग्रामीण रोजगार योजना मनरेगा (MGNREGA) के तहत लंबित मजदूरी का भुगतान करने के लिए 4,431 करोड़ रुपये जारी किये.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस (CoronaVirus) की महामारी भारत में भी तेजी से पैर पसार रही है. अब तक 700 से ज्‍यादा लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं और एक दर्जन से ज्‍यादा लोगों की जान जा चुकी है. इस महामारी का सबसे ज्‍यादा असर दिहाड़ी-मजदूरी करने वालों पर पड़ रहा है. ऐसे में केंद्र सरकार (Government) ने ऐलान किया है कि मनरेगा (MGNREGA) के तहत 11,499 करोड़ रुपये की संपूर्ण लंबित मजदूरी की राशि 10 अप्रैल तक जारी कर दी जाएगी. वहीं केंद्र ने ग्रामीण रोजगार योजना मनरेगा के तहत लंबित मजदूरी का भुगतान करने के लिए 4,431 करोड़ रुपये जारी किये. अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

सरकार 10 अप्रैल तक सभी बकाए का करेगी भुगतान
अधिकारियों ने बताया कि सरकार रोजगार गारंटी योजना के तहत सभी बकाए का 10 अप्रैल तक भुगतान कर देगी. बकाया राशि 11,499 करोड़ रुपये की है और 4,431 करोड़ रुपये शुक्रवार को जारी किए गए. उन्होंने कहा कि सभी धनराशि सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में भेजी जाएगी.

अधिकारियों ने कहा कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी कानून (मनरेगा) के तहत मजदूरी में वृद्धि एक अप्रैल से लागू होगी. इसके साथ ही मनरेगा के तहत राष्ट्रीय औसत मजदूरी 182 रुपये से बढ़कर प्रति दिन 202 रुपये हो जाएगी. मनरेगा के तहत 13.62 करोड़ जॉब कार्ड धारक हैं, जिनमें से 8.17 करोड़ जॉब कार्ड धारक सक्रिय हैं.
गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ रुपये का राहत पैकेज


गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस महामारी और उसके आर्थिक प्रभाव से निपटने को लेकर गुरुवार को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की. इसमें कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए जुटे डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को बीमा कवर तथा मनरेगा के तहत दैनिक मजदूरी 182 रुपये से बढ़ाकर 202 रुपये करने के साथ प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत किसानों को अग्रिम भुगतान, 80 करोड़ परिवारों को 5 किलो गेहूं या चावल के साथ एक किलो दाल तीन महीने के लिए मुफ्त देने सहित गरीब वृद्धों, गरीब विधवाओं तथा गरीब दिव्यांगों के लिए भी घोषणाएं की गई हैं.

मोदी ने ट्वीट के साथ नरेंद्र मोदी डाट इन को भी संलग्न किया जहां पैकेज का ब्योरा दिया गया है. इसमें कहा गया है कि विशेष बीमा योजना के दायरे में सफाई कर्मचारियों, वार्ड बॉय, नर्स, आशा कर्मी, पैरामेडिक कर्मी, तकनीशियन, डॉक्टर, विशेषज्ञ एवं अन्य स्वास्थ्य कर्मी आएंगे और यह बीमा कवर 50 लाख रुपये का होगा. इसके दायरे में सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र, आरोग्य केंद्र, केंद्र एवं राज्य सरकारों के अस्पताल आएंगे और इस महामारी से लड़ने वाले करीब 22 लाख स्वास्थ्य कर्मी इसके दायरे में आएंगे.

ये भी पढ़ें:- 

कोरोना वायरस की चपेट में आए ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन, प्रिंस चार्ल्‍स भी हैं संक्रमित

Corona Lockdown: इसलिए सैन्य छावनियों में नहीं पहुंचा कोरोना, सेना ने उठाए हैं ये 4 कड़े कदम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज