Home /News /nation /

कोरोना को लेकर केंद्र सरकार की केरल को नसीहत, एक्सपर्ट टीम ने राज्य में पाई कई खामियां

कोरोना को लेकर केंद्र सरकार की केरल को नसीहत, एक्सपर्ट टीम ने राज्य में पाई कई खामियां

केरल में कोरोना के 20 हजार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं. (सांकेतिक फोटो)

केरल में कोरोना के 20 हजार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं. (सांकेतिक फोटो)

Kerala Coronavirus Case: केरल में कोरोना के केस में काफी इजाफा हुआ है. देशभर में आ रहे कुल केस का पचास फीसदी अकेले केरल से है.

नई दिल्ली. केरल में कोरोना वायरस के बढ़ते केस को देखते हुए वहां भेजी गई 6 सदस्यों वाली एक टीम ने लौटकर केंद्र को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. टीम ने केरल में जमीनी स्तर पर कई खामियां पाईं, जिसके बाद उन्होंने प्रदेश सरकार को कोरोना मामले को कंट्रोल करने के लिए कुछ सुझाव दिए. टीम ने पाया कि केरल में एक्टिव सर्विलांस ठीक तरह से नहीं हो रहा है जिसके बाद एक्सपर्ट टीम ने एक्टिव सर्विलांस बढ़ाने का सुझाव दिया. संयुक्त स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने मंगलवार को यह जानकारी दी.

केंद्रीय टीम ने ये भी पाया कि केरल सरकार ने कोरोना के केस कंट्रोल करने के लिए वहां पर सख्ती लगाई थी, लेकिन इसका भी जमीनी स्तर पर कोई असर नहीं हुआ. टीम ने आरटीपीसीआर टेस्ट बढ़ाने का भी सुझाव दिया है. इसके साथ ही कोरोना से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने वालों की पहचान में तेजी लाने की जरूरत पर जोर दिया.

खत्म नहीं हुई दूसरी लहर, एक से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर रहा कोविड रोगी: स्वास्थ्य मंत्रालय

टीम ने ये भी देखा कि राज्य में होम आइसोलेशन को लेकर गाइडलाइन का पालन भी ठीक से नहीं हो रहा है. कोमोर्बिडिटी यानी किसी दूसरी बीमारी वाले कोरोना मरीज को राज्य सरकार की तरफ से बने क्वारंटाइन सेंटर में ही क्वारंटाइन करने की भी केंद्र की टीम ने सलाह दी है. इसके अतिरिक्त वैक्सीनेशन बढ़ाने और कंटेनमेंट जोन बनाने की जरूरत पर भी केंद्रीय टीम ने जोर दिया.

गौरतलब है कि केरल में कोरोना के केस में काफी इजाफा हुआ है. देशभर में आ रहे कुल केस का पचास फीसदी अकेले केरल में है, जिसके बाद केंद्र सरकार ने एक टीम का गठन करके केरल रवाना किया था.

Tags: Coronavirus, Kerala

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर