COVID-19: दिल्ली मेट्रो फिर से दौड़ने के लिए तैयार, लेकिन AIIMS के डॉक्टर ने दी ये चेतावनी

दिल्ली मेट्रो. (पीटीआई फाइल फोटो)

दिल्ली मेट्रो. (पीटीआई फाइल फोटो)

Delhi Metro Service Resume: दिल्ली मेट्रो की उपलब्ध ट्रेनों में से केवल आधी ही सोमवार को पांच से पंद्रह मिनट के अंतराल पर संचालित होगी. कोरोना स्थिति में सुधार होने के बाद सात जून से दिल्ली मेट्रो 50 फीसदी क्षमता के साथ चलेगी.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए दिल्ली में लागू पाबंदियों में ढील के बाद 10 मई से बंद दिल्ली मेट्रो एक बार फिर चलने के लिए तैयार है. इस बीच, एम्स के डॉक्टर नवनीत विज ने कहा कि मेट्रो का संचालन करने वाली कंपनी डीएमआरसी को अतिरिक्त सावधानी बरतने की जरूरत है क्योंकि अगर ज्यादा भीड़भाड़ हुई, तो हालात फिर पहले जैसे हो सकते हैं.


एम्स में मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष और कोविड टास्क फोर्स के चेयरमैन डॉ विज ने रविवार को कहा, 'हमें तुरंत ही मेट्रो को शुरू नहीं करना चाहिए, बल्कि प्रयोग के तौर पर एक से दो सप्ताह के लिए 33 से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ मेट्रो सेवा की शुरुआत करनी चाहिए. हमें संयम से चलने की जरूरत है. नहीं तो, हालात बेकाबू हो जाएंगे और उसे संभालना हमारे लिए बेहद मुश्किल होगा.'


कोरोना से हुई मौतों को छुपा रही केरल सरकार? विपक्ष के आरोपों पर CM विजयन का बड़ा फैसला


दिल्ली में सोमवार से शुरू हो रही है मेट्रो
गौरतलब है कि दिल्ली मेट्रो की उपलब्ध ट्रेनों में से केवल आधी ही सोमवार को पांच से पंद्रह मिनट के अंतराल पर संचालित होगी. कोरोना स्थिति में सुधार होने के बाद सात जून से दिल्ली मेट्रो 50 फीसदी क्षमता के साथ चलेगी. दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने शनिवार को कहा कि सेवा में ट्रेनों की संख्या को क्रमिक तरीके से बढ़ाया जाएगा.


महामारी के बीच में सेंट्रल विस्टा पर 20 हजार करोड़ रुपये? केंद्र ने कहा- बढ़ा-चढ़ाकर पेश किए दावे


डीएमआरसी ने एक बयान में कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा शनिवार को जारी संशोधित दिशा-निर्देशों के मद्देनजर मेट्रो सेवाएं जनता के वास्ते सात जून से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ फिर से शुरू होंगी. अधिकारियों ने बताया कि लोगों को सलाह दी जाती है कि वे अपनी यात्रा के दौरान कोविड-उपयुक्त व्यवहार का अनुपालन सुनिश्चित करने में मेट्रो अधिकारियों के साथ सहयोग करें.





डीएमआरसी ने कहा, ‘सामाजिक दूरी और ट्रेनों के भीतर 50 प्रतिशत यात्रियों के सफर करना सुनिश्चित करने के वास्ते लोगों को अपने दैनिक आवागमन के लिए अतिरिक्त समय लेने और स्टेशनों के बाहर प्रवेश के लिए अपनी बारी की प्रतीक्षा करते समय भी कोविड उपयुक्त व्यवहार करने की सलाह दी जाती है.’ दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर आम आदमी पार्टी की सरकार ने 19 अप्रैल को लॉकडाउन लगाया था और बाद में इसे बढ़ाया जाता रहा.


(इनपुट भाषा से भी)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज