• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Corona In India: केरल में बिगड़ते हालात के बीच देश में आए 47,092 नए मामले, 509 की मौत

Corona In India: केरल में बिगड़ते हालात के बीच देश में आए 47,092 नए मामले, 509 की मौत

कोलकाता में वैक्सीनेशन के लिए कतार में खड़े लोग (AP Photo/Bikas Das)

कोलकाता में वैक्सीनेशन के लिए कतार में खड़े लोग (AP Photo/Bikas Das)

Mohfw के अनुसार देश में फिलहाल 3,89,583 एक्टिव केस, 3,20,28,825 लोग डिस्चार्ज और 4,39,529 की मौत हो गई है. वहीं 47,092 नए मामले पाए गए हैं. इसमें से 32,803 केस सिर्फ केरल से हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Corona In India) की तीसरी लहर की आशंका के बीच नए मामलों का बढ़ना जारी है. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (Mohfw) के अनुसार देश में बीते 24 घंटे में 47,092 नए मामले पाए तो वहीं 509 की मौत हो गई. इसी समयावधि में 35,181लोग डिस्चार्ज किए गए. मंत्रालय के अनुसार देश में फिलहाल 3,89,583 एक्टिव केस, 3,20,28,825  लोग डिस्चार्ज और 4,39,529 की मौत हो गई है. मंत्रालय ने बताया कि देश में फिलहाल कोरोना के 3,28,57,937 कुल पुष्ट मामले हैं. इसमें से 1.15% एक्टिव, 97.51% डिस्चार्ज और 1.34% की मौत हो चुकी है. टीकाकरण के मोर्चे पर बात करें तो मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि देश में अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 66 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है.

    बुधवार को कोविड-19 रोधी टीके की 81,09,244 खुराकें दी गईं. जिसके बाद अब तक 66,30,37,3 लोगों का टीकाकरण हो चुका है. मंत्रालय ने कहा कि टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण की शुरुआत के बाद से विभिन्न राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में 18-44 साल के उम्रवर्ग में कुल 25,89,65,198 लोगों को पहली खुराक लगी है जबकि 2,97,99,597 लोगों को दोनों खुराक दे दी गई है.

    केरल में बढ़ते मामलों के बीच मंडाविया ने कर्नाटक, तमिलनाडु में की समीक्षा
    केरल में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने बुधवार को कहा कि संक्रमण के अंतर-राज्यीय प्रसार को रोकने के लिए पर्याप्त कदम उठाये जाने चाहिए. उन्होंने कर्नाटक और तमिलनाडु से सीमावर्ती जिलों में टीकाकरण की गति बढ़ाने का आग्रह किया. स्वास्थ्य मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि बुधवार को कर्नाटक और तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ टेलीफोन पर बातचीत में, मंडाविया ने इन राज्यों में कोविड​​-19 स्थिति की समीक्षा की.

    केरल में बढ़ते मामलों के कारण, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कर्नाटक और तमिलनाडु के उन क्षेत्रों में कोविड-19 प्रबंधन से संबंधित मामलों पर चर्चा की, जो केरल की सीमा से लगे हैं. बयान में कहा गया है कि कोविड​​-19 संक्रमण के अंतर-राज्यीय प्रसार को रोकने के लिए पर्याप्त कदम उठाने की आवश्यकता पर प्रकाश डालते हुए मंडाविया ने कर्नाटक और तमिलनाडु के संबंधित स्वास्थ्य मंत्रियों से केरल की सीमा से लगे जिलों में टीकाकरण की गति बढ़ाने का अनुरोध किया.

    इसमें कहा गया है कि भारत सरकार कोरोना वायरस महामारी से निपटने में सबसे आगे रही है. बयान में कहा गया है कि टीकाकरण महामारी से लड़ने के लिए पांच सूत्री (जांच, पता लगाना, उपचार और कोविड उपयुक्त व्यवहार सहित)रणनीति का एक महत्वपूर्ण घटक है. इस बीच मंडाविया ने देश में कोविड-19 से संबंधित आवश्यक दवाओं की आपूर्ति और उपलब्धता की समीक्षा की.

    स्वास्थ्य मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि समीक्षा के दौरान यह पाया गया कि सभी आवश्यक दवाओं का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है. इन दवाओं के लिए कच्चा माल भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है. बयान में कहा गया है कि आठ दवाओं के लिए रणनीतिक बफर स्टॉक बनाया गया है और ये सभी देश में उपलब्ध हैं. ये दवाएं टोसीलिजुमैब , मिथाइल प्रेडनिसोलोन, एनाक्सोपिरिन, डेक्सामेथासोन, रेमडेसिविर, एम्फोटेरिसिन बी डीओक्सीकोलेट, पॉसकोनाजोल और इंट्रावेनस इम्युनोग्लोबिलिन (आईवीआईजी) हैं.

    केरल में कोविड-19 के 32,803 नए मामले सामने आए, 173 मौतें
    केरल में कोविड-19 संक्रमण के बुधवार को 32,803 नए मामले सामने आए जबकि संक्रमण से 173 और लोगों की मौत हुई. नए मामलों के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 40,90,036 हो गई जबकि मृतकों की संख्या 20,961 पर पहुंच गई. राज्य सरकार की एक विज्ञप्ति के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 1,74,854 नमूनों के परीक्षण के बाद परीक्षण सकारात्मकता दर (टीपीआर) 18.76 प्रतिशत पाई गई. इसके साथ ही अब तक 3,17,27,535 नमूनों की जांच की जा चुकी है.

    इसमें बताया गया कि मंगलवार से अब तक 21,610 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं और कुल स्वस्थ होने वालों की संख्या 38,38,614 हो गई है जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या 2,29,912 हो गई है. राज्य के 14 जिलों में, त्रिशूर में सबसे अधिक 4,425 मामले सामने आए, इसके बाद एर्नाकुलम (4,324), कोझीकोड (3,251), मलप्पुरम (3,099), कोल्लम (2,663), तिरुवनंतपुरम (2,579), पलक्कड़ (2,309), कोट्टायम (2,263), अलाप्पुझा (1,975), कन्नूर (1,657), पठानमथिट्टा (1,363), वायनाड (1,151) और इडुक्की (1,130) हैं

    विज्ञप्ति में कहा गया है कि नए मामलों में से 108 स्वास्थ्य कार्यकर्ता थे, राज्य के बाहर के 154 मरीज और संक्रमितों के संपर्क में आने से संक्रमण की चपटे में आए 3 1,380 लोग शामिल हैं. वहीं, 1,161 मामलों में स्पष्ट कारण नहीं थे. वर्तमान में विभिन्न जिलों में 5,57,085 लोग निगरानी में हैं. इनमें से 5,24,380 घर पर या संस्थागत पृथकवास में और 32,705 अस्पतालों में हैं.

    महाराष्ट्र में कोविड-19 के 4,456 नये मामले, 183 मरीजों की मौत
    महाराष्ट्र में बुधवार को कोविड-19 के 4,456 नये मामले सामने आने के साथ ही कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर प्रदेश में 64,69,332 हो गयी जबकि 183 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की तादाद 1,37,496 पर पहुंच गयी. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 4,430 मरीज संक्रमण मुक्त भी हुए, जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस के संक्रमण को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 62,77,230 हो गयी. राज्य में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 51,078 हो गयी है.

    स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी के मुताबिक महाराष्ट्र में संक्रमण से ठीक होने की दर 97.03 प्रतिशत हो गयी है जबकि मृत्यु दर 2.12 प्रतिशत बनी हुई है. धुले, जालना, हिंगोली और वाशिम जिलों के ग्रामीण हिस्सों के अलावा मालेगांव, धुले और नांदेड़ के नगर निगम क्षेत्रों में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण का एक भी नया मामला सामने नहीं आया.

    राज्य के अहमदनगर जिले में बुधवार को सर्वाधिक 653 नये मामले सामने आए, उसके बाद पुणे में कोरोना वायरस संक्रमण के 608 नये मामले दर्ज किए गए. पुणे शहर में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के सर्वाधिक 32 मरीजों की मौत हुई. राजधानी मुंबई में कोरोना वायरस संक्रमण के 415 नये मामले सामने आए जबकि चार मरीजों की मौत हुई. महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे के दौरान 1,78,004 नमूनों की कोविड-19 जांच की गयी. राज्य में अब तक 5,41,54,890 नमूनों की कोविड-19 जांच हो चुकी है.

    छत्तीसगढ़ में कोविड-19 के 31 नए मामले
    छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस से 31 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही राज्य में बुधवार तक कोविड-19 की चपेट में आने वालों की कुल संख्या 10,04,482 हो गई है.

    राज्य में बुधवार को 24 लोगों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई है, वहीं 28 लोगों ने घर में पृथकवास की अवधि पूरी की. राज्य में बुधवार को कोरोना वायरस से संक्रमित किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई.

    राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि संक्रमण के 31 नए मामले आए हैं. इनमें रायपुर जिले से दो, दुर्ग से एक, राजनांदगांव से एक, गरियाबंद से एक, बिलासपुर से पांच, कोरबा से तीन, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही से एक, कोरिया से एक, जशपुर से एक, बस्तर से दो, कोंडागांव से एक, दंतेवाड़ा से दो, सुकमा से आठ, बीजापुर से एक और अन्य राज्य से एक मामला शामिल है.

    उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ में अब तक 10,04,482 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जिनमें से 9,90,536 मरीज इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हो गए हैं. राज्य में 391 मरीज उपचाराधीन हैं. राज्य में वायरस से संक्रमित 13,555 लोगों की मौत हुई है.

    राज्य के रायपुर जिले में सबसे अधिक 1,57,873 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है. जिले में कोरोना वायरस संक्रमित 3,139 लोगों की मौत हुई है.

    तमिलनाडु में कोविड-19 के 1,509 नये मामले, 20 मरीजों की मौत
    तमिलनाडु में बुधवार को कोविड-19 के 1,509 नये मामले सामने आने के साथ कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 26,16,381 हो गयी जबकि 20 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की तादाद 34,941 पर पहुंच गयी. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन जारी कर यह जानकारी दी.

    बुलेटिन के अनुसार तमिलनाडु में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 1,719 मरीज संक्रमण मुक्त भी हुए, जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस के संक्रमण को मात देने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 25,64,820 हो गयी. तमिलनाडु में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 16,620 हो गयी है. संक्रमण के नये मामलों में कोयम्बटूर में 186, चेन्नई में 177 और इरोड जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के 137 नये मामले सामने आए हैं.

    दिल्ली में कोविड-19 से कोई मौत नहीं, 36 नए मामले आए
    दिल्ली में बुधवार को कोविड-19 से कोई मौत नहीं हुई, जबकि 0.06 प्रतिशत की संक्रमण दर के साथ 36 नए मामले सामने आए. स्वास्थ्य विभाग द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के मुताबिक यह जानकारी मिली है. राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के बाद से यह 20वीं बार है जब एक दिन में कोई मौत नहीं हुई.

    आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 18 जुलाई, 24 जुलाई, 29 जुलाई, 2 अगस्त, 4 अगस्त, 8 अगस्त, 11 अगस्त, 12 अगस्त, 13 अगस्त, 16 अगस्त, 20 अगस्त, 21 अगस्त, 22 अगस्त, 23 अगस्त और 24 अगस्त, 26 अगस्त, 27 अगस्त, 28 अगस्त और 29 अगस्त को भी कोविड-19 के कारण कोई मौत दर्ज नहीं की गई थी.

    इस साल दो मार्च को, राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के कारण शून्य मृत्यु की सूचना थी. उस दिन संक्रमण के 217 मामले आए थे और संक्रमण दर 0.33 प्रतिशत थी. अप्रैल-मई की अवधि के दौरान शहर में दूसरी लहर आई थी. नवीनतम बुलेटिन के अनुसार, बुधवार को 0.06 प्रतिशत की संक्रमण दर के साथ 36 नए मामले आए, जबकि कोविड​​​​-19 के कारण कोई मौत नहीं हुई.

    आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 30 अगस्त को दैनिक मामलों की संख्या घटकर 20 रह गई थी, जबकि एक मौत दर्ज की गई थी. मंगलवार को, 0.05 प्रतिशत की संक्रमण दर के साथ 28 मामले आए थे और एक मरीज की मौत हुई थी.

    आंध्र प्रदेश में कोविड-19 के 1,186 नये मामले, 10 मरीजों की मौत
    आंध्र प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोविड-19 के 1,186 नये मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 20,15,302 हो गई है. वहीं, महामारी से 10 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 13,867 हो गई है.

    राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार को एक बुलेटिन में कहा कि बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 1,396 मरीज संक्रमण मुक्त भी हुए, जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 19,86,962 हो गई है और उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 14,473 हो गई है.

    संक्रमण के नये मामलों में पूर्वी गोदावरी जिले में सर्वाधिक 175 मामले सामने आए. इसके बाद कुरनूल और विजयनगरम में कोरोना वायरस संक्रमण के 13-13 नये मामले सामने आए. कई सप्ताह बाद राज्य के सभी 13 जिलों में कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामलों की संख्या 200 से कम रही है.

    कृष्णा जिले में कोविड-19 के चार मरीजों की मौत हुई. इसके बाद एसपीएस नेल्लोर में दो, चित्तूर, पूर्वी गोदावरी, प्रकाशम और विशाखापत्तनम में एक-एक मरीज की मौत हुई है.

    छत्तीसगढ़ में आज से स्कूलों में शुरू होंगी सभी कक्षाएं
    छत्तीसगढ़ सरकार ने बृहस्पतिवार से राज्य के स्कूलों की सभी कक्षाओं को प्रारंभ करने का फैसला किया है. हालांकि कक्षा में विद्यार्थी की उपस्थिति अनिवार्य नहीं है. राज्य के जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि राज्य के स्कूल शिक्षा विभाग ने बृहस्पतिवार से स्कूलों की सभी कक्षाओं को प्रारंभ करने का फैसला किया है.

    अधिकारियों ने बताया कि स्कूल शिक्षा विभाग के आदेशानुसार विभाग के अंतर्गत सभी निजी और शासकीय विद्यालयों में छठी, सातवीं, नवमीं और 11 वीं कक्षा की ऑफलाइन कक्षाएं दो सितंबर से प्रारंभ करने की अनुमति दी गई है.

    आदेश में कहा गया है कि स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत सभी निजी और शासकीय विद्यालयों में कक्षाएं प्रारंभ करने के संबंध में ग्रामीण क्षेत्रों के लिए संबंधित ग्राम पंचायत तथा स्कूल की पालक समिति की अनुशंसा प्राप्त करना होगा. इसमें कहा गया है कि वहीं शहरी क्षेत्रों के लिए संबंधित वार्ड पार्षद और स्कूल की पालक समिति की अनुशंसा लेनी होगी. अनुशंसा प्राप्त होने पर कक्षाएं दो सितंबर से प्रारंभ होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज