देश में धीमा पड़ा कोरोना! 3.42 लाख नए मरीज मिले, रिकवरी के आंकड़ों ने दी राहत

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के नए मरीजों की संख्या में कमी आई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के नए मरीजों की संख्या में कमी आई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Coronavirus in India: सरकार ने कहा है कि वायरस दोबारा सामने आ सकता है. ऐसे में राज्यों के सहयोग के साथ राष्ट्रीय स्तर पर तैयारी रखनी होगी. कहा गया है कि पाबंदियों और कोविड संबंधी नियमों के पालन के साथ मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को भी बढ़ाना होगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश में नए कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमितों की संख्या में एक बार फिर गिरावट देखी गई. बीते गुरुवार को भी देश में 3 लाख 42 हजार 896 नए मामले दर्ज किए गए. हालांकि, इस दौरान अच्छी खबर यह रही कि नए मरीजों की संख्या से ज्यादा लोग स्वस्थ हुए. इस दौरान 3 लाख 44 हजार 570 मरीज कोरोना को मात देकर ठीक हुए. वहीं, मौत के आंकड़ों में भी गिरावट दर्ज की गई है. एक्टिव केस की संख्या 37 लाख 327 बनी हुई है.

प्रभावित राज्यों में काबू हुआ कोरोना!

गुरुवार को राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के नए मरीजों की संख्या में कमी आई. राजधानी में 10 हजार 489 नए मरीज दर्ज किए गए. जबकि, यहां 308 मरीजों की मौत हो गई. देश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले महाराष्ट्र में 42 हजार 582 नए मामले दर्ज किए गए. यहां एक दिन में 850 लोगों ने अपनी जान गंवाई. वहीं, दक्षिण भारतीय राज्य केरल में बुधवार की तुलना में कम मरीज मिले. यहां 39 हजार 955 नए मरीज मिले हैं. इनमें से 97 मरीजों की मौत हो गई है.

केंद्र ने कहा तैयार रहना होगा
गुरुवार को सरकार ने कहा है कि वायरस दोबारा सामने आ सकता है. ऐसे में राज्यों के सहयोग के साथ राष्ट्रीय स्तर पर तैयारी रखनी होगी. कहा गया है कि पाबंदियों और कोविड संबंधी नियमों के पालन के साथ मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को भी बढ़ाना होगा. नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ) वीके पॉल ने कहा कि अगस्त और दिसंबर के बीच 5 महीनों में देश में 200 करोड़ से ज्यादा कोविड-19 वैक्सीन उपलब्ध हो जाएंगी. उन्होंने जानकारी दी है कि रूसी वैक्सीन स्पूतनिक भी अगले हफ्ते से उपलब्ध हो सकती है.

कोविड के ताजा अपडेट्स

आंध्र प्रदेश सरकार ने कोविड-19 वैक्सीन प्राप्त करने के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करने की बात कही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुख्यमंत्री कार्यालय ने कंपनियों को 3 दिनों के भीतर प्रतिक्रिया देने के लिए कहा गया है. केरल के मुख्मयंत्री पिनराई विजयन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर राज्य की ऑक्सीजन सप्लाई को 450 मीट्रिक टन करने की मांग की है.




इधर, गुजरात में सरकार ने कोविड-19 के चलते माता-पिता गंवाने वाले बच्चों के लिए प्रतिमाह 4 हजार रुपए की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में हुए ऑक्सीजन सप्लाई के मुद्दे को लेकर तीन सदस्यीय समिति गठित की गई है. भारत को विदेशों से मदद जारी है. शुक्रवार को दोहा, कतर से विशेष उड़ान के जरिए चिकित्सकीय सहायता भारत पहुंची.

(कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़े आंकड़े www.covid19india.org से लिए गए हैं.)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज