COVID-19 in India: देश में कम हुई कोरोना के नए मामलों की रफ्तार! 24 घंटे में आए 3.29 लाख नए केस, 3876 लोगों की हुई मौत

 (AP Photo/Anupam Nath)

(AP Photo/Anupam Nath)

Coronavirus In India: देश में कोरोना वायरस के नए केस और मौतों की रफ्तार कम हुई है. इसके साथ ही बीते 24 घंटे में देश में 25,52,843 लोगों को टीका (Vaccination In India) लगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश में कोरोना संक्रमण (Coronavirus In India) की रफ्तार कुछ कम हो रही है. इसके साथ ही मौतों की संख्या भी कम हो रही है. आंकड़ों के अनुसार 3 लाख 29 हजार 942 नए मामले आए हैं. वहीं बीते 24 घंटे में 3876 लोगों की मौत हुई. इसके साथ ही बीते 24 घंटे के दौरान 3,56,082 लोग डिस्चार्ज हुए. डिस्चार्ज होने वालों में महाराष्ट्र, यूपी, गुजरात, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल, राजस्थान और दिल्ली के 74 फीसदी मरीज है.

इसके साथ ही देश में अब तक कोविड-19 टीके की 17.26 करोड़ खुराक लगायी जा चुकी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी. मंत्रालय ने बताया कि 18 से 44 आयु वर्ग के 5,18,479 लाभार्थियों को सोमवार को पहली खुराक मिली, जिससे टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के शुरू होने के बाद से सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में टीका लगवाने वाले इस श्रेणी के लोगों की संख्या बढ़कर 25,52,843 हो गई.

कोरोना वायरस संक्रमण के राज्यवार आंकड़े

इस आयुवर्ग में अबतक महाराष्ट्र के 5,10,347, राजस्थान के 4,11,002, दिल्ली के 3,66,309, गुजरात के 3,23,601 और हरियाणा के 2,93,716, बिहार के 1,77,885, उत्तर प्रदेश के 1,66,814 और असम के 1,06,538 लोगों ने टीका लगवाया है. मंत्रालय ने कहा कि अंतरिम रिपोर्ट के अनुसार देश में अब तक दी गई कोविड-19 टीके की खुराकों की कुल संख्या बढ़कर 17,26,33,761 हो गई है.
इसके अलावा, 45 से 60 वर्ष के बीच के 5,54,97,658 और 71,73,939 लाभार्थियों को क्रमशः पहली और दूसरी खुराक दी गई है, जबकि 60 साल से अधिक के 5,38,00,706 और 1,56,39,381 लाभार्थियों ने पहली और दूसरी खुराक ली है. मंत्रालय ने कहा कि टीकाकरण अभियान के 115वें दिन (10 मई, 2021) को कुल 24,30,017 टीके लगाए गए, जिनमें 10,47,092 पहली खुराक और 13,82,925 दूसरी खुराक शामिल हैं.

महाराष्ट्र में कोविड-19 के 37,236 नए मामले, गुजरात में 11,592 नए मामले

महाराष्ट्र में 31 मार्च के बाद सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में सबसे कम 37,236 नए मामले सामने आए, जिससे संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 51,38,973 हो गई. राज्य स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, इसी अवधि में 549 रोगियों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 76,398 तक पहुंच गई है. विभाग के मुताबिक, महाराष्ट्र में 31 मार्च को 39,544 नए मामले सामने आए थे. दूसरी तरफ महाराष्ट्र में सोमवार को 61,607 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी गई, जिसके बाद ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या 44,69,425 हो गई है. राज्य में फिलहाल 5,90,818 मरीज उपचाराधीन हैं.



इस बीच, गुजरात में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 11,592 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 6,92,604 हो गई. वहीं, इसी अवधि में 117 रोगियों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 8,511 तक पहुंच गई है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. विभाग के मुताबिक, गुजरात में रविवार को 14,931 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी गई, जिसके बाद ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या 5,47,935 हो गई है. राज्य में उपचाराधीन रोगियों की कुल संख्या 1,36,158 है, जिनमें से 792 मरीज वेंटिलेटर पर हैं. विभाग के मुताबिक, गुजरात में अब तक 1,37,49,335 लाभार्थियों को कोविड-19 टीके की खुराक दी गई हैं. गुजरात में सोमवार को 2,07,700 लोगों को टीका लगाया गया.

वहीं, तमिलनाडु में सोमवार को कोरोना वायरस के 28,978 नए मामले आए, जिससे राज्य में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 14,09,237 हो गई. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटों में संक्रमण के कारण 232 लोगों की मौत हो गई, जिससे राज्य में मृतक संख्या 15,880 तक पहुंच गई. अधिकारी ने बताया कि दिन में 20,904 मरीज बीमारी से ठीक हो गए, जिससे अब तक तमिलनाडु में ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 12,40,968 हो गई जबकि 1,52,389 रोगियों का उपचार चल रहा है.

उधर, कर्नाटक में सोमवार को कोविड-19 के 39,305 नए मामले सामने आने के साथ ही राज्य में अब तक कुल 19,73,683 मामले सामने आ चुके हैं. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, इसी अवधि में कोविड-19 के 596 मरीजों की मौत होने से राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 19,372 हो गई. इसके मुताबिक, राज्य में सोमवार को 32,188 और मरीजों के ठीक होने के साथ ही अब तक ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 13,83,285 हो गई. कर्नाटक में अब उपचाराधीन मरीजों की संख्या 5,71,006 है.

झारखंड में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों में रिकार्ड एकतिहाई की कमी

झारखंड में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस से हुई मौतों की संख्या में रिकार्ड 31.2 प्रतिशत की कमी दर्ज की गयी और पिछले दिन की कुल 141 मौतों की तुलना में कोरोना से पिछले चैबीस घंटों में 97 लोगों की मौत हुई. संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या में भी लगभग 32 प्रतिशत की कमी आयी और पिछले 24 घंटों में कुल 4169 लोगों के संक्रमित होने की सूचना है जबकि इससे पूर्व रविवार को कुल 6112 लोगों के कोरोना संक्रमित होने की रिपोर्ट प्राप्त हुई थी.

आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि झारखंड में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस से 97 लोगों की मौत हुई जबकि रविवार को इस वायरस से कुल 141 लोगों की मौत हुई थी. आंकड़े बताते हैं कि राज्य में पिछले 24 घंटों में रविवार की तुलना में लगभग 18 प्रतिशत कम नमूनों की जांच की गयी. इस दौरान राज्य में रविवार के 45658 नमूनों की तुलना में कुल 37676 ही नमूनों की जांच कमी गयी. झारखंड में पिछले 24 घंटों में कोरोना से कुल 4169 लोग संक्रमित हुए जबकि रविवार को कोरोना से राज्य में कुल 6112 लोग संक्रमित हुए थे. इस प्रकार राज्य में पिछले चैबीस घंटों में रविवार की तुलना में 31.78 प्रतिशत लोग कम संक्रमित हुए.

राज्य में कोरोना से संक्रमित होने वालों की कुल संख्या बढ़कर 286343 हो गयी है जिनमें अबतक 3853 मरीज जान गंवा चुके हैं. राज्य में 223684 लोग अब तक ठीक हो चुके हैं. इसके अलावा 58806 मरीज उपचाररत हैं. पिछले 24 घंटों में राज्य में कुल 37676 नमूनों की जांच की गयी जिनमें से 4169 संक्रमित पाये गये. पिछले चैबीस घंटों में रांची में 779 ,पूर्वी सिंहभूम में 562 और देवघर में 280 लोग इस वायरस से संक्रमित पाये गये. इसी प्रकार अकेले राजधानी रांची में कोरोना संक्रमण से पिछले 24 घंटों में 43 लोगों की मौत हो गयी. पूर्वी सिंहभूम में 11, धनबाद में छह एवं बोकारो में पांच लोगों की मौत इस संक्रमण से हो गयी.

छत्तीसगढ़ में 11,867 और लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि

इसके साथ ही छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटों के दौरान 11,867 और लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. राज्य में इस वायरस से संक्रमित हुए लोगों की संख्या अब बढ़कर 8,63,343 हो गई है.राज्य में सोमवार को 281 लोगों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई है, जबकि 12,376 लोगों ने पृथक-वास पूर्ण किया है. राज्य में कोरोना वायरस के 172 मरीजों की मौत हुई है.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि आज रायपुर जिले से 871, दुर्ग से 674, राजनांदगांव से 294, बालोद से 264, बेमेतरा से 178, कबीरधाम से 296, धमतरी से 229, बलौदाबाजार से 694, महासमुंद से 354, गरियाबंद से 168, बिलासपुर से 531, रायगढ़ से 821, कोरबा से 815, जांजगीर चांपा से 927, मुंगेली से 515, गौरेला पेंड्रा मरवाही से 260, सरगुजा से 535, कोरिया से 618, सूरजपुर से 690, बलरामपुर से 561, जशपुर से 607, बस्तर से 130, कोंडागांव से 180, दंतेवाड़ा से 90, सुकमा से 52, कांकेर से 447, नारायणपुर से 35, बीजापुर से 30 और अन्य राज्य से एक नया मामला सामने आया.

उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ में अब तक 8,63,343 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. उनमें 7,27,497 मरीज संक्रमण मुक्त हुए हैं. राज्य में फिलहाल 1,25,104 मरीज उपचाराधीन हैं. राज्य में वायरस से संक्रमित 10,742 लोगों की मौत हुई है. राज्य के रायपुर जिले में सबसे अधिक 1,50,097 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है. जिले में कोरोना वायरस संक्रमित 2836 लोगों की मौत हुई है.

बिहार में कोरोना वायरस 75 और की मौत, 10174 नए मामले आये सामने

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पिछले 24 घंटे के दौरान 75 और व्यक्ति की मौत हो जाने से इससे मरने वालों की संख्या सोमवार को 3357 हो गयी तथा इस महामारी के 10174 नए मामले सामने आए. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान पटना में 22, मुजफ्फरपुर नालंदा में नौ-नौ, पश्चिम चंपारण में पांच, दरभंगा एवं नवादा में चार-चार, मुंगेर में तीन, भागलपुर, गया, कटिहार, मधुबनी, पूर्वी चंपारण एवं वैशाली में दो-दो तथा अररिया, जहानाबाद, खगड़िया, पूर्णिया, सहरसा, समस्तीपुर एवं सीतामढ़ी में एक-एक मरीज की मौत हो गयी. अबतक 3357मरीज अपनी जान गंवा चुके हैं.

बिहार में रविवार अपराहन चार बजे से सोमवार चार बजे तक कोरोना वायरस संक्रमण के जो 10174 नए मामले प्रकाश में आए हैं उनमें प्रदेश की राजधानी पटना में सबसे अधिक 1745 प्रकाश में आए हैं . उसके अलावा अररिया में 247, अरवल में 121, औरंगाबाद में 226, बांका में 82, बेगूसराय में 435, भागलपुर में 205, भोजपुर में 71, बक्सर में 81, दरभंगा में 154, पूर्वी चंपारण में 478, गया में 236, गोपालगंज में 541, जमुई में 162, जहानाबाद में 108, कटिहार में 706, खगड़िया में 286, किशनगंज में 83, लखीसराय में 95, मधेपुरा में 178, मधुबनी में 175, मुंगेर में 304, मुजफ्फरपुर में 293, नालंदा में 95, नवादा में 75, पूर्णिया में 313, रोहतास में 141, सहरसा में 283, समस्तीपुर में 463, सारण में 333, शेखपुरा में 96, शिवहर में 62, सीतामढ़ी में 77, सिवान में 242, सुपौल में 221, वैशाली में 417 तथा पश्चिम चंपारण में 289 नये मरीजों का पता चला है.

अबतक बिहार में इस महामारी से संक्रमित होने वालों की संख्या 601650 पहुंच गयी है . उनमें से 493189 मरीज ठीक हुए जिनमें पिछले 24 घंटे के भीतर ठीक हुए 15800 मरीज भी शामिल हैं.बिहार में पिछले 24 घंटों के दौरान कुल 100112 सैम्पल की जांच की गयी जबकि अबतक प्रदेश में 27411255 नमूनों की जांच की गयी है . बिहार में वर्तमान में कोविड 19 के 105103 मरीज उपचाररत हैं . मरीजों के स्वस्थ होने की दर 81.97प्रतिशत है.

बिहार में सोमवार को 18 से 44 वर्ष और 45 वर्ष से उपर सहित 124748 लोगों ने कोविड 19 का टीका लिया और प्रदेश में अबतक 8181939 लोग टीका ले चुके हैं . इस बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम सोमवार को स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक की. इस बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्वित किया जाय कि कोरोना संक्रमितों को किसी प्रकार की परेशानी न हो. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग योजनाबद्ध तरीके से बेहतर प्रबंधन के साथ कार्य करे. सरकार की तरफ से राशि की कोई कमी नहीं होने दी जायेगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि 18 वर्ष से अधिक और 45 वर्ष से कम उम्र के लोगों का भी टीकाकरण शुरू किया गया है. राज्य सरकार की तरफ से निःशूल्क टीकाकरण कराया जा रहा है. उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण कराने के लिये तेजी से कार्य करें. कुमार का कहना था कि जांच की संख्या और बढ़ायें ताकि अधिक से अधिक संक्रमितों का पता चल सके.

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण से 278 और मरीजों की मौत, 21,331 नये संक्रमित मिले

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों और नये मामलों में लगातार गिरावट देखी जा रही है . सोमवार को कोविड-19 संक्रमण से 278 संक्रमितों की मौत हुई है और 21,331 नये मामले सामने आये हैं . एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी . अपर मुख्‍य सचिव (स्‍वास्‍थ्‍य) अमित मोहन प्रसाद ने सोमवार को यहां पत्रकारों को बताया कि पिछले 24 घंटे में राज्‍य में 278 संक्रमितों की मौत हो गयी है और 21,331 नये संक्रमित पाए गए हैं . उन्होंने बताया कि संक्रमण के प्रारंभ से अब तक कुल 15,742 लोगों की मौत हो गयी है और 15,24,767 लोग संक्रमित हो चुके हैं.

प्रसाद ने दावा किया कि संक्रमित होने वालों की अपेक्षा उपचारित होकर घर जाने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है. उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में 21,331 नये संक्रमितों के सापेक्ष 29,709 लोग संक्रमण मुक्त हुये हैं . उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 12,83,754 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. अधिकारी ने बताया कि राज्‍य में इस समय 2,25,271 मरीज उपचाराधीन हैं जिनमें पृथकवास में 1,66,370 लोग हैं और बाकी सरकारी एवं निजी अस्पतालों में अपना उपचार करा रहे हैं पिछले 24 घंटों में, राज्य में 2.19 लाख से अधिक नमूनों का परीक्षण किया गया है, जबकि अब तक राज्य में 4.31 करोड़ से अधिक नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है .

सोमवार को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार राज्य की राजधानी लखनऊ में लगातार संक्रमितों की संख्या घट रही है और पिछले 24 घंटे में 1,274 नये संक्रमित पाए गए और 26 मरीजों की मौत हुई है. हालांकि इस अवधि में राज्‍य में सर्वाधिक नये मरीज मेरठ में पाये गये जिनकी संख्या 2,269 दर्ज की गई है. गोरखपुर में 1,031, गौतमबुद्धनगर में 1,026 मरीज मिले और बाकी जिलों में इसकी संख्या एक हजार से नीचे हो गई है. पिछले 24 घंटे में राज्य में सबसे अधिक कानपुर नगर में 30 संक्रमितों की मौत हुई है. इसके अलावा झांसी में 16, आजमगढ़ में 15, हरदोई और गोंडा में 12-12 तथा गौतम बुद्ध नगर में 10 और मरीजों की मौत हो गई.

म्यूकोरमाइकोसिस के मरीजों का महाराष्ट्र की योजना के तहत मुफ्त इलाज होगा: टोपे

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने सोमवार को कहा कि म्यूकोरमाइकोसिस के मरीजों का इलाज राज्य सरकार की प्रमुख चिकित्सा बीमा योजना के तहत मुफ्त में किया जाएगा. म्यूकोरमाइकोसिस एक दुर्लभ कवक (फंगल) संक्रमण होता है जो अब कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियाों में सामने आ रहा है. एक आधिकारिक बयान में टोपे के हवाले से कहा गया है कि म्यूकोरमाइकोसिस रोगियों को महात्मा ज्योतिबा फुले जन आरोग्य योजना के तहत कवर किया जाएगा क्योंकि इस कवक संक्रमण से निपटने के लिए जरूरी दवाएं महंगी हैं.

बयान के अनुसार उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य योजना के तहत शामिल 1,000 अस्पतालों में ऐसे मरीजों का मुफ्त इलाज किया जाएगा. मंत्री ने कहा कि इस बीमारी के लक्षण उन कोविड-19 रोगियों में देखे जा रहे हैं जो मधुमेह से पीड़ित हैं और जिनका मधुमेह नियंत्रण में नहीं है. बयान में कहा गया कि टोपे ने मध्य महाराष्ट्र के जालना में मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत करते हुए यह टिप्पणी की. मंत्री ने कहा कि म्यूकोरमाइकोसिस रोगियों के इलाज के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले इंजेक्शनों के बारे में शिकायतें हैं कि उन्हें वास्तविक कीमत से अधिक पर बेचा जा रहा है. उन्होंने कहा कि उनकी दरों पर सीमा तय की जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज