Coronavirus In India: सोनिया गांधी बोलीं- केंद्र सरकार विपक्षी दलों पर नहीं, कोरोना के खिलाफ छेड़े जंग

सोनिया गांधी की फाइल फोटो

सोनिया गांधी की फाइल फोटो

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, 'मुझे लगता है कि हमारी भूमिका दोतरफा है. पहली बात यह है कि पारदर्शिता और जवाबदेही पर जोर देना होगा.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 5:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने कहा है कि देश को कोरोना संक्रमण की आपदा से लड़ने के लिए एक साथ होने की जरूरत है. सोनिया ने कहा कि कांग्रेस पार्टी सरकार का सहयोग करने को तैयार है. यह 'आप बनाम हम' नहीं, बल्कि 'देश बनाम कोरोना' की जंग है.

अंग्रेजी अखाबर द इंडियन एक्सप्रेस को दिए एक इंटरव्यू में सोनिया गांधी ने कहा कि हमें एक देश के तौर पर कोरोना का मुकाबला करना होगा. कांग्रेस अध्यक्ष ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार को यह महसूस करना चाहिए कि लड़ाई कोरोना के खिलाफ है, यह लड़ाई कांग्रेस या अन्य राजनीतिक विपक्षियों के खिलाफ नहीं है.

Youtube Video


'जो हमारा नेतृत्व कर रहा है, उसका रवैया चौंकाने वाला'
रायबरेली सांसद ने कहा कि मुझे लगता है कि हमारी भूमिका दोतरफा है. पहली बात यह है कि पारदर्शिता और जवाबदेही पर जोर देना होगा. उन्होंने कहा कि लोगों के साथ जुड़कर सरकार पर दबाव डालना होगा कि जीवन को बचाने से ज्यादा अधिक महत्वपूर्ण कुछ नहीं है. अभी भी देर नहीं हुई है. कोविड की समय पर कार्रवाई, नेतृत्व और प्रबंधन अभी भी लाखों लोगों की जान बचा सकता है.

कांग्रेस नेता ने कहा कि आज जो हमारा नेतृत्व कर रहा है, उसका रवैया चौंकाने वाला है. ऐसा लग रहा है मानों वह हर जिम्मेदारी से मुक्त हैं. ऐसे में लोगों को सुनने और उनकी पीड़ा को सरकार तक पहुंचाने के लिए विपक्ष के रूप में हमारी भूमिका और अधिक अनिवार्य हो जाती है.





सोनिया गांधी ने सुझाव दिया कि स्पेशल ट्रेनों और अन्य माध्यमों से प्रवासी मजदूरों को सुरक्षित उनके घर तक पहुंचाया जाए. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष ने कहा कि सरकार ऑक्सीजन का इंतजाम, दवा की कालाबारी को रोकने, बेड्स की मौजूदगी, वैक्सीनेशन, टेस्टिंग की दिशा में भी काम करे. अंतरिम अध्यक्ष ने अपील की है कि देश भर में मनरेगा के तहत काम दिए जाएं ताकि घर लौटने वाले और बिना आजीविका के लोगों बुनियादी जरूरतों के लिए मोहताज ना रहें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज