अपना शहर चुनें

States

Covid-19: महाराष्ट्र में रिकॉर्ड मौतें, तमिलनाडु में लौटेगा लॉकडाउन, दिल्ली के हर अस्पताल में CCTV कैमरे

जिन गरीब देशों में कोविड -19 रोगियों की संख्या ज्यादा है वहां इस दवा से बहुत फायदा हो सकता है.
जिन गरीब देशों में कोविड -19 रोगियों की संख्या ज्यादा है वहां इस दवा से बहुत फायदा हो सकता है.

Coronavirus: स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा जानकारी के मुताबिक, देश में अभी कोरोना के एक लाख 53 हजार 106 एक्टिव केस हैं. कोरोना से अब तक 9 हजार 520 मरीजों की मौत हो गई है, वहीं एक लाख 69 हजार 797 लोग रिकवर भी हुए हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा जांच की क्षमता बढ़ाने और कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) से संक्रमित लोगों के लिए बिस्तरों की उपलब्धता बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित किए जाने के बीच भारत में सोमवार को कोविड-19 (Covid-19) के मरीजों की संख्या बढ़कर तीन लाख 30 हजार के पार हो गई और मृतकों की संख्या भी 9,500 से ज्यादा हो गई है.

देशभर में चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन (Lockdown) से बाहर निकलने के लिए उठाए जा रहे कदमों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) मंगलवार और बुधवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों तथा केंद्रशासित क्षेत्रों के प्रशासकों के साथ इस महामारी पर लगाम लगाने के प्रयासों को लेकर चर्चा करेंगे.

तमिलनाडु के फिर से लॉकडाउन
तमिलनाडु में बढ़ते मामलों के बीच प्रदेश सरकार ने सोमवार को कहा कि चेन्नई और आसपास के इलाकों में 19 जून से 30 जून तक फिर से पूर्ण लॉकडाउन लगाया जाएगा, और उस दौरान सिर्फ आवश्यक सेवाओं की इजाजत होगी. यह फैसला एक विशेषज्ञ पैनल के सुझाव के बाद लिया गया जिसने राज्य में वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन की रियायतों को कम करने को कहा था.
तमिलनाडु में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण से 44 और लोगों की मौत के साथ राज्य में महामारी से मरने वालों की संख्या 479 तक पहुंच गई है. राज्य में संक्रमण के 1,843 नए मामले भी सामने आए जिससे संक्रमित लोगों का आंकड़ा 46,504 हो गया.



दिल्ली और गुजरात में लॉकडाउन नहीं
इस बीच, पाबंदियों के फिर से लागू होने की अटकलों के बीच दिल्ली और गुजरात सरकार ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए बंद को फिर से लागू करने से इनकार किया है. राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन को फिर से लागू किए जाने की आशंका जताई जा रही थी.

दिल्ली के हर कोविड वॉर्ड में लगेंगे सीसीटीवी कैमरे
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ हुई सर्वदलीय बैठक के बाद सत्ताधारी आम आदमी पार्टी और मुख्य विपक्षी दल भाजपा ने कहा कि दिल्ली में 20 जून तक कोविड-19 जांच बढ़ाकर 18 हजार की जाएगी. केंद्र द्वारा दिल्ली को कोविड-19 मरीजों के इलाज के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर, वेंटिलेटर और पल्स ऑक्सीमीटर के अलावा अन्य आवश्यक उपकरणों के साथ ही इस महीने के अंत तक मरीजों के लिए राष्ट्रीय राजधानी में 37,000 बिस्तरों का भी इंतजाम किया जाएगा. वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की ओर से राजधानी के सभी कोविड अस्पतालों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के आदेश के बाद ही सोमवार देर शाम दिल्ली सरकार ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया.

दिल्ली में अनुमान के मुताबिक फिलहाल रोजाना करीब पांच हजार जांच की जा रही हैं. दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस के 1647 नए मरीजों की पुष्टि हुई. इसके बाद कोविड-19 के कुल मामले 43 हजार के करीब पहुंच गए और मृतकों का आंकड़ा 1,400 हो गया है. स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में बताया गया है कि यहां पिछले 24 घंटे में 73 मरीजों की मौत हुई है.

कोरोना वायरस संक्रमण के लिए अधिक से अधिक जांच करने की दिल्ली की तैयारी के बीच स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में केंद्र के तहत आने वाली प्रयोगशालाओं की सुविधाएं शहर की सरकार को दी जा रही हैं.

10 हजार के करीब मृतकों की संख्या
स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सुबह दिए गए अपडेट में बताया गया कि देश में कोरोना संक्रमण के पुष्ट मामले 3,32,424 हो गए हैं, जबकि रविवार सुबह आठ बजे से अगले 24 घंटे में 11,502 नए मामले सामने आए और 325 लोगों ने दम तोड़ा. देश में मृतकों की कुल संख्या 9,502 हो गई है. मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटे में उपचार के बाद 7419 लोग ठीक हो गए जिससे अब तक स्वस्थ होने वाले व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 1,69,797 हो गई है . स्वस्थ होने की दर बढ़कर 51.08 प्रतिशत हो गई है यानी आधे से अधिक संक्रमण के मामलों में मरीज स्वस्थ हो गए हैं . मंत्रालय ने कहा कि अभी 1,53,106 मरीज उपचाराधीन हैं.

हालांकि, देश के अलग-अलग राज्यों/केन्द्रशासित प्रदेशों की ओर से उपलब्ध आंकड़ों पर आधारित पीटीआई-भाषा की रात 9:45 बजे की तालिका के मुताबिक, देशभर में अब तक कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 9,733 तक पहुंच गई है जबकि संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 3.33 लाख के करीब पहुंच चुके हैं.

कई अन्य राज्यों ने भी अपने यहां नमूनों के परीक्षण ढांचे और कोविड-19 मरीजों के लिए बिस्तरों की संख्या बढ़ाने की घोषणा की है.

तेलंगाना में, राज्य सरकार ने निजी प्रयोगशालाओं में कोविड-19 की जांच के लिए 2,200 रुपये और निजी अस्पतालों में इलाज के लिए शुल्क भी सोमवार को तय किया. कर्नाटक सरकार ने भी कहा है कि कोविड-19 के मरीजों के इलाज में निजी अस्पतालों को भी लगाया जाएगा और इनमें परीक्षण से लेकर इलाज तक की एक दर तय की जाएगी.

महाराष्ट्र में एक दिन में सर्वाधिक मौतें
वहीं, सर्वाधिक प्रभावित महाराष्ट्र में रेड जोन इलाकों को छोड़कर एक जुलाई से नौवीं से 12वीं तक की कक्षाओं को शुरू किया जाएगा जबकि छठी से आठवीं तक की कक्षाएं अगस्त में शुरू होंगी. सोमवार को महाराष्‍ट्र में 178 लोगों की मौत हुई है. यह अब तक एक दिन में होने वाली मौतों का सर्वाधिक आंकड़ा है. इसके साथ ही राज्य में सोमवार को कोरोना वायरस के 2786 नए मामले सामने आए हैं. अब राज्‍य में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 1,10,744 हो गए हैं. महाराष्‍ट्र में अब तक 4128 लोगों की मौत जानलेवा संक्रमण से हो चुकी है. साथ ही 56,049 लोग कोरोना वायरस संक्रमण से ठीक हो चुके हैं.

मध्य एवं पश्चिम रेलवे ने सोमवार को आवश्यक सेवाओं से जुड़े महाराष्ट्र के कर्मियों के आने जाने की सुविधा के लिए चुनिंदा उपनगरीय ट्रेन सेवा भी बहाल कर दी.

दुनिया में चौथे नंबर पर भारत
अमेरिका, ब्राजील और रूस के बाद भारत कोरोना वायरस संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित देशों की सूची में चौथे स्थान पर पहुंच गया है. वहीं जॉन हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसार भारत संक्रमण से मौत के मामले में नौवां देश है जबकि मरीजों के स्वस्थ होने के मामले में भारत का दुनिया में छठा स्थान है.

दिसंबर में चीन में सामने आए कोरोना वायरस ने अब तक दुनियाभर में करीब 80 लाख लोगों को अपनी चपेट में लिया है जबकि 4.34 लाख लोग इस घातक वायरस से जान गंवा चुके हैं. अब तक करीब 38 लाख मरीज स्वस्थ हुए हैं.

ये भी पढ़ें- 
महाराष्‍ट्र की बढ़ी चिंता, एक दिन में कोरोना से रिकॉर्ड 178 मौतें और 2786 केस

दिल्ली के सभी Covid-19 अस्पतालों में 24 घंटे के अंदर लगेंगे CCTV
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज