Assembly Banner 2021

कोरोनाः स्वास्थ्य मंत्री के. सुधाकर बोले- अधेड़ और युवाओं की मौत चिंता का विषय

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकारी अस्पतालों में 15,733 ऑक्सीजन सुविधा वाले बेड हैं, जिनमें 10,083 बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित किये गये हैं. फाइल फोटो

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकारी अस्पतालों में 15,733 ऑक्सीजन सुविधा वाले बेड हैं, जिनमें 10,083 बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित किये गये हैं. फाइल फोटो

Coronavirus in Karnataka: स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘‘कई को आईसीयू और ऑक्सीजन वाले बेडों की जरूरत है और हम इंतजाम कर रहे हैं.’’

  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के. सुधाकर (K. Sudhakar) ने कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बीच युवाओं और अधेड़ उम्र वर्ग के लोगों के बीच मृत्यु के अनुपात पर मंगलवार को चिंता प्रकट की और इसकी वजह जानने के लिए विशेषज्ञ डॉक्टरों से मृत्यु ऑडिट की मांग की. उन्होंने यह भी कहा कि महामारी की दूसरी लहर पहली लहर से अधिक तेजी से फैल रही है. सुधाकर ने कहा, ‘‘कल मामलों में वृद्धि हुई. पिछले छह महीने में पहली बार 5279 नये मामले सामने आये. देश में पिछले 24 घंटे में एक लाख से अधिक मामले सामने आये हैं और मृत्यु दर भी बढ़ रही है. राज्य में भी कल 32 मौतें हुईं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘कल की मौतों में 25 साल, 35 साल के युवा और 40 वर्ष से अधिक के लोग शामिल थे, जिससे चिंता पैदा हो गई है. इसलिए मैंने मौतों की वजह जानने के लिए तकनीकी परामर्श समिति और विशेषज्ञों के पैनल से मौत ऑडिट करने को कहा है.’’ उन्होंने कहा कि वैसे तो दूसरी लहर, पहली लहर से अधिक तेजी से फैल रही है, लेकिन यह नहीं कहा जा सकता कि उसकी तीव्रता कम थी. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘‘कई को आईसीयू और ऑक्सीजन वाले बेडों की जरूरत है और हम इंतजाम कर रहे हैं.’’

Youtube Video




उन्होंने कहा कि राज्य में सरकारी अस्पतालों में कोविड मरीजों के लिए 33,697 बेड आरक्षित किये गये हैं. उन्होंने कहा कि सरकारी अस्पतालों में 15,733 ऑक्सीजन सुविधा वाले बेड हैं, जिनमें 10,083 बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित किये गये हैं.

उन्होंने कहा कि निजी अस्पतालों को कोविड आरक्षित बेडों को 20 फीसद बढ़ाने को कहा गया है और यदि और मामले सामने आते हैं तो उन्हें और संख्या बढ़ानी पड़ सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज