• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • क्या भारत में आने वाली है कोरोना की तीसरी लहर? केरल ने बढ़ाई चिंता

क्या भारत में आने वाली है कोरोना की तीसरी लहर? केरल ने बढ़ाई चिंता

हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत केरल से हो सकती है (फ़ाइव फोटो)

हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत केरल से हो सकती है (फ़ाइव फोटो)

Coronavirus: देश के कई राज्यों में स्कूल खुलने लगे हैं. लिहाज़ा एक्सपर्ट्स को इस बात का डर है कि कोरोना की तीसरी लहर जल्द दस्तक दे सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने एक बार फिर से लोगों के मन में डर पैदा कर दिया है. कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले तीसरी लहर के संकेत दे रहे है. पिछले 24 घंटे में भारत में कोरोना के 47092 नए मामले सामने आए हैं. पिछले दो महीने में ये मरीज़ों की संख्या में सबसे बड़ा इज़ाफ़ा है. इस दौरान 509 लोगों की मौत भी हुई. कोरोना के सबसे ज्यादा डरावने आंकड़े केरल से आ रहे हैं. यहां पिछले 24 घंटे के दौरान 32803 नए मामले सामने आए हैं. चिंता की बात ये है कि केरल से लगातार 30 हज़ार से ज्यादा नए केस सामने आ रहे हैं. अब तक यहां 40 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं.

    देश के कई राज्यों में स्कूल खुलने लगे हैं. लिहाज़ा एक्सपर्ट्स को इस बात का डर है कि कोरोना की तीसरी लहर जल्द दस्तक दे सकती है. आइए एक नज़र डालते हैं कि क्या देश कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबला करने के लिए तैयार है. साथ ही किन राज्यों ने बढ़ा दी है चिंता.

    कब आ सकती है तीसरी लहर?
    तीसरी लहर को लेकर एक्सपर्ट्स की अलग-अलग राय है. कुछ लोगों का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर इस साल अक्टूबर में आ सकती है. जबकि कुछ लोगों का ये मानना है कि नवंबर में कोरोना का पीक आ सकता है. भारत में कोरोना की दूसरी लहर डेल्टा वेरिएंट से आई थी. आईआईटी-कानपुर के वैज्ञानिक मनिंद्र अग्रवाल, जो विशेषज्ञों की तीन सदस्यीय टीम का हिस्सा हैं, जिन्हें संक्रमण में किसी भी वृद्धि की भविष्यवाणी करने का काम सौंपा गया है, उनका कहना है, ‘भारत अक्टूबर और नवंबर के बीच कोविड ​​​​-19 की तीसरी लहर को चरम पर देख सकता है यदि अधिक विषाणु म्यूटेंट मौजूदा की तुलना में सितंबर तक उभरता है तो.’

    ये भी पढ़ें:- तालिबान ने कभी मौत की सजा के लिए किया था स्टेडियमों का इस्तेमाल, अब वहां होंगे क्रिकेट मैच

    क्या कहते हैं केरल के आंकड़े?
    हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत केरल से हो सकती है. हालांकि केंद्र और राज्य सरकार ने अधिकारिक तौर पर तीसरी लहर के बारे में कुछ नहीं कहा है. लेकिन देश के 72 फीसदी केस इस वक्त केरल से ही आ रहे हैं. महामारी विज्ञानी डॉ. रमन कुट्टी ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि हमारे पास एक बड़ी अतिसंवेदनशील आबादी है और सरकार को इसके लिए खास रणनीति बनानी पड़ेगी.

    महाराष्ट्र भी ज्यादा पीछे नहीं
    राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि महाराष्ट्र अक्टूबर के अंत तक या नवंबर के पहले सप्ताह तक कोरोना वायरस की तीसरी लहर की चपेट में आ जाएगा. दरअसल अधिकांश उत्सव इसी दौरान समाप्त होंगे. और कम से कम 60 लाख लोग कोविड -19 से संक्रमित हो सकते हैं. महाराष्ट्र के चिकित्सा शिक्षा मंत्री अमित देशमुख ने लोगों से आगामी त्योहारों को छोटे स्तर पर मनाने की अपील की है.

    बाक़ी राज्यों का हाल
    सिर्फ केरल और महाराष्ट्र ही नहीं बल्कि मिजोरम और आंध्र प्रदेश में भी कोविड के मामलों में वृद्धि दर्ज की जा रही है. मिजोरम में पिछले सात दिनों की तुलना में साप्ताहिक मामलों में 44% की वृद्धि हुई. दक्षिण में आंध्र में 13.2% की वृद्धि दर्ज की गई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज