लाइव टीवी

Coronavirus: लॉकडाउन की निगरानी के लिए कश्मीर पुलिस ने ड्रोन का लिया सहारा

भाषा
Updated: March 23, 2020, 7:50 PM IST
Coronavirus: लॉकडाउन की निगरानी के लिए कश्मीर पुलिस ने ड्रोन का लिया सहारा
लॉकडाउन की निगरानी के लिए कश्मीर पुलिस ने ड्रोन का लिया सहारा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) पुलिस ने शहर के कुछ हिस्सों में ड्रोन (Drone) की सहायता से सोमवार को लोगों से आग्रह किया कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए किए गए दस दिन के लॉकडाउन के दौरान वे अपने घरों से बाहर न निकलें.

पुलिस द्वारा सोशल मीडिया पर जारी एक वीडियो में एक अधिकारी ड्रोन में संदेश रिकॉर्ड करते देखा जा सकता है जिसमें लोगों से घरों के भीतर रहने को कहा जा रहा है.

घंटा घर के पास ड्रोन का इस्तेमाल

ड्रोन द्वारा प्रसारित किए जा रहे संदेश में अधिकारी कह रहा है, “कृपया पुलिस के साथ सहयोग करें. आपका सहयोग ही कोरोना वायरस का इलाज है. कृपया अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए घर के भीतर रहें.” लाल चौक पर घंटा घर के पास ड्रोन का इस्तेमाल किया गया.



पुलिस और अर्धसैनिक बल तैनात
प्रशासन द्वारा रविवार से 31 मार्च तक किए गए लॉकडाउन के तहत क्षेत्र को पूरी तरह सील कर दिया गया है. पूरे शहर में इस बाबत भारी मात्रा में पुलिस और अर्धसैनिक बल तैनात है.

बॉर्डर किए सील
जम्मू और कश्मीर प्रशासन ने सोमवार को केंद्रशासित प्रदेश (Union Territories) की पंजाब (Punjab), हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) और लद्दाख (Ladakh) से जुड़ने वाली सीमाओं को कोरोना वायरस के प्रसार से बचाव के कदमों के तहत बंद कर दिया है.

सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल (Official Twitter handle) पर इसकी जानकारी देते हुए लिखा, 'अंतरराज्यीय स्तर पर गाड़ियों का परिचालन पहले से ही प्रतिबंधित है, श्रीनगर-जम्मू हाईवे (Srinagar-Jammu Highway) पर भी ट्रैफिक को नियंत्रित किया जाएगा. जरूरी सामान लाने-ले जाने वाले वाहन सामान्य रूप से चलते रहेंगे. हालांकि अभी यह साफ नहीं है कि इस निर्णय को कब से लागू किया जाएगा.'

ये भी पढ़ें-

मस्जिदों में अब सिर्फ यह 6 लोग पढ़ेंगे नमाज़, जमात-ए-इस्लामी हिंद ने दी हिदायत

जानिए कैसे इंसानी शरीर के अंदर घुसता है कोरोना वायरस, फिर क्या करता है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 23, 2020, 7:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर