कर्नाटक: CM येडियुरप्पा का फैसला- जिन इलाकों में कोविड-19 के 3-4 मामले वहां लगेगा सख्त लॉकडाउन

कर्नाटक: CM येडियुरप्पा का फैसला- जिन इलाकों में कोविड-19 के 3-4 मामले वहां लगेगा सख्त लॉकडाउन
बेंगलुरु में कोविड -19 के 1,272 मामले दर्ज किए गए हैं

सीएम कार्यालय ने बताया कि जो लोग कोरोना वायरस (Coronavirus) के क्वारंटाइन (Quarantine) के मानदंडों का उल्लंघन करते हैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी और यदि आवश्यक हुआ तो एफआईआर दर्ज की जाएगी.

  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक (Karanataka) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा (BS Yediyurappa) ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जिन इलाकों में 3-4 मामले हैं वहां सख्ती से लॉकडाउन (Lockdown) लगाया जाए. येडियुरप्पा ने बेंगलुरु में कोविड-19 (Covid-19) को फैलने से रोकने को लेकर मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की और कहा कि इस लक्ष्य को तभी प्राप्त किया जा सकता है जब इसे रोकने के उपायों को सख्ती से लागू किया जाए. मुख्यमंत्री ने इस संबंध में अधिकारियों को काम करने के निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री कार्यालय ने बताया "लॉकडाउन को उन जगहों पर सख्ती से लागू किया जाएगा, जहां पर अधिक संख्या में मामलों की सूचना मिली है, विशेष रूप से केआर मार्केट और आसपास के क्षेत्रों जैसे कि सिदपुरा, वीवी पुरम, कलसिपाल्या आदि. बैठक में उन सड़कों को सील करने का निर्णय लिया गया, जहां से अधिक मामले सामने आए हैं." सीएम कार्यालय ने बताया कि जो लोग क्वारंटाइन (Quarantine) के मानदंडों का उल्लंघन करते हैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी और यदि आवश्यक हुआ तो एफआईआर दर्ज की जाएगी.

बेंगलुरु में 1200 से ज्यादा मामले
रविवार शाम तक, बेंगलुरु में कोविड -19 के 1,272 मामले दर्ज किए गए हैं, जिसमें 64 मौतें और 411 डिस्चार्ज शामिल हैं. रविवार को, 196 ताजा मामले दर्ज किए गए हैं.
ये भी पढ़ें- ऑनर किलिंग के मामले में मद्रास हाईकोर्ट ने 5 की सजा पलटी, लड़की का पिता बरी



अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे स्वच्छता सुनिश्चित करें और समाज कल्याण विभाग के छात्रावासों और अन्य सरकारी संस्थानों में रहने वाले लोगों को अन्य बुनियादी सुविधाएं प्रदान करें.

क्वारंटाइन में रह रहे लोगों की हो रही निगरानी
मुख्यमंत्री ने कहा, "बेंगलुरु में आर्थिक गतिविधियों को प्रभावित किए बिना COVID-19 को रोकने के लिए काम करना चाहिए." उन्होंने कहा कि बूथ स्तर के अधिकारी और स्वयंसेवक संपर्क का पता लगाने और क्वारंटाइन में रह रहे लोगों की निगरानी करने के लिए काम कर रहे हैं.

येडियुरप्पा ने कहा कि कोविड वॉर रूम में विभिन्न नामित अस्पतालों में बेड की उपलब्धता के बारे में वास्तविक समय की जानकारी होगी और संक्रमित लोगों को समय की हानि के बिना उपचार की सुविधा होगी.

ये भी पढ़ें- कोविड-19 के चलते खाली पड़ा रहा प्रसिद्ध कामाख्या मंदिर, अंबुबाची अनुष्ठान से दूर रहे भक्त

शहर के नागरिक निकाय, ब्रुहत बेंगलुरु महानगर पालिक (बीबीएमपी) के एक बुलेटिन ने कहा कि शहर में 298 सक्रिय कंटेनमेंट जोन हैं. अधिकारियों ने कहा कि बीबीएमपी आयुक्त बी एच अनिल कुमार ने चामराजेपेट के कांग्रेस विधायक बी जेड ज़मीर अहमद खान के साथ मिलकर शहर के कुछ स्लम इलाकों का दौरा किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज