Home /News /nation /

लेटरल फ्लो टेस्ट से 3 से 8 दिन और RT-PCR से 20 दिन तक संक्रमण का पता चलता है: ICMR

लेटरल फ्लो टेस्ट से 3 से 8 दिन और RT-PCR से 20 दिन तक संक्रमण का पता चलता है: ICMR

ICMR के महानिदेशक बलराम भार्गव ने कहा, 'वायरस को आपके शरीर में बढ़ने में समय लगता है और इसे ‘लेटेंट पीरियड’ कहा जाता है. फाइल फोटो

ICMR के महानिदेशक बलराम भार्गव ने कहा, 'वायरस को आपके शरीर में बढ़ने में समय लगता है और इसे ‘लेटेंट पीरियड’ कहा जाता है. फाइल फोटो

Coronavirus Lateral flow Test: आईसीएमआर के महानिदेशक ने कहा कि वायरस के ओमिक्रॉन स्वरूप के लिए लेटरल फ्लो जांच का आधार बन चुका है. भार्गव ने कहा कि सरकारी परामर्श के अनुसार, संक्रमितों के संपर्क में आने वाले उन लोगों को, जिन्हें उम्र या बीमारी के आधार पर चिह्नित किया गया है, अंतरराज्यीय यात्रा करने वाले लोगों को जांच करवाने की जरूरत नहीं है. भार्गव ने कहा, 'वायरस को आपके शरीर में बढ़ने में समय लगता है और इसे ‘लेटेंट पीरियड’ कहा जाता है. तीसरे दिन से आठवें दिन तक यह लेटरल फ्लो जांच में सामने आएगा जो ‘इंफेक्शियस पीरियड’ होता है.'

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने बुधवार को कहा कि रैपिड एंटीजन टेस्ट और घर पर की गई एंटीजन टेस्ट समेत ‘लेटरल फ्लो’ जांच के द्वारा, वायरस से संक्रमित होने के तीसरे दिन से आठवें दिन तक कोविड का पता चल सकता है, जबकि आरटी पीसीआर जांच से 20 दिन तक संक्रमण का पता चल सकता है. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि चाहे किसी भी प्रकार की जांच करवाई जाए, संक्रमण के पहले दिन उसका नतीजा ‘निगेटिव’ आएगा.

भार्गव ने कहा, ‘वायरस को आपके शरीर में बढ़ने में समय लगता है और इसे ‘लेटेंट पीरियड’ कहा जाता है. तीसरे दिन से आठवें दिन तक यह लेटरल फ्लो जांच में सामने आएगा जो ‘इंफेक्शियस पीरियड’ होता है.’ उन्होंने कहा, ‘इसीलिए अस्पताल से छूटने और घर पर पृथक-वास में रखने की नीति सात दिन की अवधि पर केंद्रित होती है.’ उन्होंने कहा कि आरटी पीसीआर जांच के नतीजे आठवें दिन के बाद भी पॉजिटिव आते हैं क्योंकि कुछ RNA कण जोकि संक्रमित नहीं करते, उनसे जांच में संक्रमण की पुष्टि होती है.’

आईसीएमआर के महानिदेशक ने कहा कि वायरस के ओमिक्रॉन स्वरूप के लिए लेटरल फ्लो जांच का आधार बन चुका है.

भार्गव ने कहा कि सरकारी परामर्श के अनुसार, संक्रमितों के संपर्क में आने वाले उन लोगों को, जिन्हें उम्र या बीमारी के आधार पर चिह्नित किया गया है, अंतरराज्यीय यात्रा करने वाले लोगों को जांच करवाने की जरूरत नहीं है.

Tags: Coronavirus, Omicron

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर