अपना शहर चुनें

States

कोरोना वायरस: लगातार दूसरे दिन भी सूरत की सड़कों पर जमा हुए प्रवासी मजदूर

सूरत में गृह नगर जाने की मांग करते हुए सैकड़ों मजदूर मंगलवार को सड़कों पर उतर आए थे (फाइल फोटो)
सूरत में गृह नगर जाने की मांग करते हुए सैकड़ों मजदूर मंगलवार को सड़कों पर उतर आए थे (फाइल फोटो)

इससे पहले मंगलवार को देश भर में लॉकडाउन (Nationwide Lockdown) बढ़ने के घंटों बाद सूरत (Surat) में सैंकड़ों मजदूर (Labourers) अपने-अपने गृह नगर जाने की मांग करते हुए सड़कों पर उतर आए थे.

  • Share this:
सूरत. गुजरात (Gujarat) के सूरत (Surat) में लगातार दूसरे दिन बुधवार को भी प्रवासी मजदूरों की भीड़ सड़कों पर नजर आयी. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

सहायक पुलिस उपायुक्त (ACP) डी जे चावड़ा ने कहा कि पंडोल औद्योगिक क्षेत्र (Pandol Industrial Area) के वेद रोड पर शाम चार बजे के आसपास लगभग भोजन परोसने से संबंधित किसी छोटी समस्या (Trifle Issue) के कारण लगभग 300 मजदूर सड़कों पर उतर आए.

सूरत के कारखानों में काम करने वाले यूपी, बिहार और ओडिशा जैसे राज्यों के हैं ये मजदूर
सूरत के कारखानों में काम करने वाले उत्तर प्रदेश (UP), बिहार (Bihar) और ओडिशा (Odisha) जैसे राज्यों के हजारों प्रवासी पंडोल क्षेत्र में फंस गए हैं. उन्हें कुछ संगठनों की मदद से अधिकारियों द्वारा भोजन मुहैया कराया जा रहा है.
चावड़ा ने कहा, “ कुछ मजदूर मांग कर रहे थे कि भोजन उनके घरों के पास मुहैया कराया जाये. इन मजदूरों ने भोजन स्वादहीन होने की भी शिकायत की. आखिरकार पुलिस (Police) ने समय रहते समस्या हल कर इन मजदूरों को तितर-बितर कर दिया.”



मंगलवार को गृह नगर जाने की मांग करते हुए भी सूरत की सड़कों पर उतरे थे सैकड़ों मजदूर
मंगलवार को लॉकडाउन (Lockdown) बढ़ने के घंटों बाद वराछा क्षेत्र में सैंकड़ों मजदूर अपने-अपने गृह नगर (Home Town) जाने की मांग करते हुए सड़कों पर उतर आए थे.

हाल में प्रवासी मजदूरों (Migrant Labours) ने शहर के लस्काना क्षेत्र में किसी छोटी सी बात को लेकर पथराव (Stone Pelting) और आगजनी का प्रयास भी किया था.

यह भी पढ़ें: सहारनपुर- लॉकडाउन के बीच बेसहारा महिला की मौत पर 'बेटा' बनी यूपी पुलिस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज