अलर्ट! कोरोना के हॉटस्पॉट बन सकते हैं ये 4 राज्य, बिहार की हालत सबसे ज्यादा खराब

अलर्ट! कोरोना के हॉटस्पॉट बन सकते हैं ये 4 राज्य, बिहार की हालत सबसे ज्यादा खराब
देश में इस वक्त पॉजिटिविटी रेट 8.5% है. राज्यों की बात की जाय तो महाराष्ट्र इस लिस्ट में सबसे आगे है. यहां पॉजिटिविटी रेट 21% है. (फोटो-AP)

आंकड़ों के ट्रेंड और एक्सपर्ट्स की राय मानें तो ये चार राज्य आने वाले दिनों में कोरोना का हॉटस्पॉट (Coronavirus Hotspot) बन सकता है. यानी हमें यहां मरीज़ों की संख्या में रिकॉर्ड इज़ाफा देखने को मिल सकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित मरीजों की संख्या 14 लाख के पार पहुंच गई है. पिछले 4 दिनों से हर रोज़ 45 हज़ार से ज्यादा नए केस सामने आ रहे हैं. वैसे तो पूरे देश में कोरोना का कहर दिख रहा है, लेकिन चार राज्यों ने देश की चिंता बढ़ा दी है. ये हैं बिहार, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल. आंकड़ों के ट्रेंड और एक्सपर्ट्स की राय मानें तो ये चार राज्य आने वाले दिनों में कोरोना का हॉटस्पॉट (Corona Hotspot) बन सकता है. यानी हमें यहां मरीज़ों की संख्या में रिकॉर्ड इज़ाफा देखने को मिल सकता है.

हॉटस्पॉट बनने की मुख्य वजह
दुनिया के किसी भी इलाके में हॉटस्पॉट बनने के पीछे मुख्य तौर पर 3 वजहें होती है- बढ़ते पॉजिटिविटी रेट, रोज आने वाले नए केस की ग्रोथ रेथ और हर 10 लाख की आबादी पर कम टेस्ट. पिछले चार महीने के दौरान ये चीज़ें दिल्ली, महाराष्ट्र और तमिलनाडु में देखने को मिली थी और ये सारे राज्य देश के हॉटस्पॉट थे. अब यहां कोरोना के नए मामलों में कमी आने लगी है, लेकिन अब दूसरे राज्य हॉटस्पॉट बनने की कगार पर पहुंच गए हैं.

कितने दिनों में दोगुने हो रहे हैं केस?
भारत में इन दिनों हर 19.3 दिनों में कोरोना के केस दोगुने हो रहे हैं. आंकड़ों पर नजर डालें तो इस चार्ट में सबसे ऊपर कर्नाटक है. यहां हर 5.5 दिनों में कोरोना के मरीज़ों की संख्या दोगुनी हो रही है. इसके बाद आंद्र प्रदेश की बारी आती है. यहां एक महीने पहले डबलिंग रेट 13.2 दिन थे. लेकिन अब ये 6.2 दिनों पर पहुंच गया है. पश्चिम बंगाल में ये आंकड़ा 8.5 है, जबकि बिहार में फिलहाल 14.9 दिनों में मरीज़ों की संख्या दोगुनी हो रही है. एक महीने पहले बिहार में डबलिंग रेट करीब 28 दिन थे.



हर 10 लाख की आबादी पर टेस्टिंग
देश भर में इन दिनों टेस्ट की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है. ऐसे में ये देखना जरूरी है कि हर 10 लाख की आबादी पर फिलहाल कितने टेस्ट हो रहे हैं. भारत में हर 10 लाख की आबादी पर 12222 लोगों के टेस् हो रहे हैं.  राज्यों की बात करें तो इस लिस्ट में आंध्र प्रदेश टॉप पर है. यहां हर 10 लाख की आबादी पर सबसे ज्यादा 30,556 टेस्ट हो रहे हैं. जबकि कर्नाटक में 17375 टेस्ट हो रहे हैं. इस लिस्ट में बिहार की हालत सबसे ज्यादा खराब है. यहां हर 10 लाख की आबादी पर सिर्फ 3,699 टेस्ट हो रहे हैं. झारखंड (6775), उत्तर प्रदेश (7834), बंगाल (8143), मध्य प्रदेश(8323). ये वो राज्य हैं जो टेस्ट के मामले में सबसे नीचे है.

ये भी पढ़ें:-राम मंदिर निर्माण के दौरान 2000 फीट नीचे डलेगा 'टाइम कैप्सूल', जानें वजह

पॉजिटिविटी रेट कहां है सबसे ज्यादा?
देश में इस वक्त पॉजिटिविटी रेट 8.5% है. राज्यों की बात की जाय तो महाराष्ट्र इस लिस्ट में सबसे आगे है. यहां पॉजिटिविटी रेट 21% है. इसके बाद कर्नाटक 16.2%, पश्चिम बंगाल 16.1%, बिहार-13.8% और आंध्र प्रदेश-13% है. पॉजिटिविटी रेट में लगातार इजाफा देखा जा रहा है जो खतरे की घंटी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading