कोरोना वायरस: सरकार ने अगले आदेश तक रोका जनगणना और एनपीआर का काम

कोरोना वायरस: सरकार ने अगले आदेश तक रोका जनगणना और एनपीआर का काम
जनगणना का काम देश भर में 1 अप्रैल से शुरू होना था.

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (National Population Register) के अद्यतन और 2021 के जनगणना (Census) के पहले चरण का कार्य तय समय-सारिणी पर नहीं शुरू होगा क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) से निपटने के लिए 21 दिन की बंद की घोषणा की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2020, 4:48 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. देश भर में फैल रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रकोप के चलते सरकार ने जनगणना (Census) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (National Population Register) के काम को अगले आदेश तक रोक दिया है. जनगणना 2021 (Census 2021) का पहला चरण और एनपीआर (NPR) का अपडेशन, जो 1 अप्रैल 2020 से राज्य और केंद्रशासित प्रदेश सरकारों द्वारा तय की गई विभिन्न तारीखों पर शुरू होना था उसे अगले आदेश तक स्थगित कर दिया गया है.

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के अद्यतन और 2021 के जनगणना के पहले चरण का कार्य तय समय-सारिणी पर नहीं शुरू होगा क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश में कोरोना वायरस से निपटने के लिए 21 दिन की बंद की घोषणा की है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. पहले यह दोनों कार्य एक अप्रैल से 30 सितंबर के बीच में होने थे.

मौजूदा हालात के चलते रोका गया काम
गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए एनपीआर और जनगणना का कार्य अगले आदेश तक के लिए रोक दिया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में मंगलवार से 21 दिन बंद की घोषणा की है.



बता दें गृह मंत्रालय ने पिछले हफ्ते कहा था कि जनगणना 2021 और एनपीआर को अद्यतन करने की तैयारियां अंतिम चरण में हैं और एक अप्रैल को यह शुरू होगा. मंत्रालय ने यह बात जनगणना और एनपीआर की तैयारियों पर निदेशकों के सम्मेलन के बाद कही.



कई राज्यों ने किया था एनपीआर का विरोध
उल्लेखनीय है कि कई राज्य सरकारों ने एनपीआर का विरोध किया और यहां तक इसको लेकर चिंताओं को प्रकट करने के लिए कुछ राज्यों ने अपनी-अपनी विधानसभाओं में प्रस्ताव पारित किया है. केरल, पश्चिम बंगाल, पंजाब, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और बिहार ने एनपीआर का विरोध किया है. हालांकि, स्पष्ट किया है कि वे जनगणना के पहले चरण में घरों को सूचीबद्ध करने के काम में सहयोग करेंगे.

ये भी पढ़ें :-

लॉकडाउन के कारण हो रही हैं ग्रॉसरी लाने में दिक्कत तो बिग बाजार को करें फोन

COVID-19: यूपी की जेलों ने बनाया रिकॉर्ड, 10 दिन में बनाए सवा लाख Mask
First published: March 25, 2020, 4:14 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading