लाइव टीवी

कोरोना वायरस: CRPF ने प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष में दिए 33.81 करोड़ रुपये

भाषा
Updated: March 26, 2020, 9:20 PM IST
कोरोना वायरस: CRPF ने प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष में दिए 33.81 करोड़ रुपये
देश भर में कोरोना वायरस के 694 केस सामने आ चुके हैं.

कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रकोप से लड़ने में मदद करते हुए सीआरपीएफ (CPRF) के जवानों, भारतीय पैरालंपिक समिति (Indian Paralympic Assosiation) के कर्मचारियों और कई सांसदों (MP's) ने अपने एक दिन का वेतन प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (Prime Minister National Relief Fund) में देने का फैसला किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. सीआरपीएफ (CRPF) ने कोविड-19 (Covid-19) से लड़ने के लिए अपने जवानों के एक दिन के वेतन से एकत्र की गई 33.81 करोड़ रुपये की राशि प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (Prime Minister National Relief Fund) में दी है. अर्द्धसैनिक बल (Paramilitary Forces) के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह आम सहमति से लिया गया फैसला था और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (Central Reserve Police Force) ‘‘देश के समक्ष कोरोना वायरस के चुनौतीपूर्ण समय में पूरी प्रतिबद्धता के साथ खड़ा है.’’

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘यह तय किया गया कि सीआरपीएफ के कर्मचारी प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष में एक दिन के वेतन का योगदान करेंगे. प्रयास किया गया कि तुरंत योगदान किया जाए और इसका खुलासा नहीं किया जाए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘सेवा और निष्ठा के अपने उद्देश्य के साथ सीआरपीएफ हमेशा तत्पर है.’’

गृह मंत्रालय (Home Ministry) के तहत आने वाला सीआरपीएफ देश में आंतरिक सुरक्षा और नक्सल विरोधी अभियानों में संलग्न है जिसमें करीब सवा तीन लाख कर्मी हैं.

पीसीआई कर्मचारियों ने भी किया सहयोग



वहीं भारतीय पैरालंपिक समिति (पीसीआई) ने भी गुरुवार को फैसला किया कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ देश की जंग में योगदान देने के लिये उनके कर्मचारी अपना एक दिन का वेतन दान करेंगे. पीसीआई ने बयान में कहा, ‘‘संकट के इस समय में हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोंदी की अपील के साथ पूरी एकजुटता के साथ खड़े हैं. पीसीआई कार्यालय के सभी सदस्यों और कर्मचारियों ने प्रधानमंत्री राहत कोष में एक दिन का वेतन देने का फैसला किया है. ’’

इसमें कहा गया है कि पीसीआई के मुख्य संरक्षक अविनाश राय खन्ना ने भी अपनी एक महीने की पेंशन दान की है. तोक्यो परालंपिक खेलों का आयोजन तोक्यो ओलंपिक के बाद 25 अगस्त से छह सितंबर के बीच होना था लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण उन्हें भी अगले साल तक स्थगित कर दिया गया है.

सांसदों ने भी दान की एक दिन की सैलरी
इससे पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को कहा था कि वह कोरोना वायरस के मद्देनजर अपने एक महीने का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में देंगे. बिरला के अलावा केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कोरोना वायरस की महामारी से लड़ने में मदद करते हुए अपनी एक महीने की तनख्वाह प्रधानमंत्री राहत कोष में दान कर दी.

संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने भी अपनी एक महीने की तनख्वाह प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करने की घोषणा की. कई अन्य सांसदों ने भी कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के कार्य में योगदान देते हुए अपने वेतन का दान किया.

ये भी पढ़ें-
कोरोना वायरस: देश में एक दिन में सामने आए सबसे ज्यादा नए केस, संख्या बढ़कर 694

PM मोदी से मांग, दिहाड़ी मजदूर समेत इन लोगों के लिए ₹7 लाख करोड़ दे सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 9:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर