लाइव टीवी

कोरोनावायरस: कैबिनेट सचिव ने की बैठक, भारतीयों को चीन से वापस लाएगी सरकार

भाषा
Updated: January 27, 2020, 10:26 PM IST
कोरोनावायरस: कैबिनेट सचिव ने की बैठक, भारतीयों को चीन से वापस लाएगी सरकार
कोरोनावायरस: भारतीयों को चीन से वापस लाने का लिया गया फैसला

कैबिनेट सचिव की बैठक में वुहान (Wuhan) शहर से भारतीय नागरिकों को बाहर निकालने का फैसला लिया गया है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. सरकार ने चीन में कोरोनावायरस (Coronavirus) से प्रभावित हुबेई (Hubei) प्रांत के वुहान (Wuhan) शहर से भारतीय नागरिकों को बाहर निकालने के लिए तैयारी करने का सोमवार को फैसला कर लिया. कैबिनेट सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय बैठक में यह फैसला किया गया. बैठक में चीन में कोरोना वायरस के संक्रमण से पैदा हालात की समीक्षा की गई.

चीन में अब तक 80 लोगों की मौत
अधिकारियों ने बताया कि विदेश मंत्रालय वुहान से भारतीयों को बाहर निकालने को लेकर चीनी प्राधिकारियों से अनुरोध करेगा. चीन में कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण अब तक 80 लोगों की मौत हो चुकी है. अधिकारियों ने बताया कि जहाजरानी मंत्रालय उन अंतरराष्ट्रीय बंदरगाहों पर लोगों की जांच आरंभ करेगा जहां चीन से लोग आते हैं.

29 हजार लोगों की स्क्रिनिंग

बैठक में स्‍वास्‍थ्‍य, विदेश, नागर विमानन, श्रम, रक्षा तथा सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव और राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के सदस्‍य सचिव तथा महानिदेशक (सशस्‍त्र सेना चिकित्‍सा सेवा) उपस्थित थे. जिसमें कैबिनेट सचिव को बताया गया कि कल तक 137 विमानों (कुल यात्री संख्‍या 29707) की स्क्रिनिंग की गई है. 12 यात्रियों के नमूने इनआईवी, पुणे को भेजे गये हैं. अब तक किसी व्‍यक्ति में वॉयरस के लक्षण नहीं पाये गये हैं.

चीन में अब भी फंसे हैं 300 भारतीय स्टूडेंट्स
चीन के वुहान प्रांत की हूबेई यूनिवर्सिटी में अब भी 300 भारतीय स्टूडेंट्स फंसे हुए हैं. इनमें से करीब 100 स्टूडेंट्स गुजरात के हैं. भारत ने रविवार को जारी बयान में कहा था कि इन स्टूडेंट्स की चिंताओं के समाधान के लिए चीनी सरकार से मंत्रणा के साथ ही सभी विकल्पों पर विचार किया जा रहा है.चीन का वुहान, कोरोनावायरस के प्रसार का केंद्र है. आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक चीन में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 2744 हो चुकी है और वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 80 हो चुकी है.

कई स्टूडेंट्स भारत आने में रहे सफल
चीन की हूबेई यूनिवर्सिटी में कई भारतीय छात्र भी अध्ययन कर रहे हैं. ये सभी मेडिकल के अलग अलग कोर्सेस की पढ़ाई कर रहे हैं.

जब इस वायरस का प्रकोप चीन में फैलना शुरू हुआ तो कई स्टूडेंट्स वहां से भागकर भारत आ गए लेकिन अब भी करीब 300 भारतीय स्टूडेंट्स वुहान (Wuhan) में फंसे हुए हैं. बता दें कि वायरस के प्रकोप को फैलने से रोकने के लिए चीनी सरकार ने वुहान से चीन और दुनिया के अन्य भागों में जाने वाले यातायात के साधनों पर लगभग प्रतिबंध लगा दिया है. ऐसे में भारतीय स्टूडेंट्स वुहान में ही फंस गए हैं. ऐसे में उनके परिवार वाले चिंतित हैं. चीन के वुहान में फंसे भारतीय स्टूडेंट्स के परिवार वालों ने विदेश मंत्रालय से मदद की मांग भी की है.

ये भी पढ़ें: Corona Virus से निपटने के लिए नेपाल सीमा पर बनाया गया हेल्थ पोस्ट, गोरखपुर एयरपोर्ट पर अलर्ट

ये भी पढ़ें: कोरोनावायरस: चीन में अब भी फंसे हैं 300 भारतीय स्टूडेंट्स, करीब 100 गुजरात के

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 10:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर