Assembly Banner 2021

क्वाड समिट में भारत की वैक्सीन को प्रमोट करने के लिए हो सकता है फंड का ऐलान- रिपोर्ट

मेड इन इंडिया (Made in India Vaccine) वैक्सीन को प्रमोट करने के लिए इस समिट में एक डील का ऐलान भी किया जा सकता है.

मेड इन इंडिया (Made in India Vaccine) वैक्सीन को प्रमोट करने के लिए इस समिट में एक डील का ऐलान भी किया जा सकता है.

Quad Leaders Summit: भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के ग्रुप Quad की 12 मार्च को पहली मीटिंग है. ये मीटिंग वर्चुअल होगी. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) पहली बार एक साथ किसी बैठक में शामिल होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 10, 2021, 1:40 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) शुक्रवार को क्वॉड के पहले ऑनलाइन सम्मेलन (Quad Leaders Summit) में एक-दूसरे से मिलेंगे. भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया इस संगठन के सदस्य हैं. जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा और ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन इस ऑनलाइन समिट में शिरकत कर रहे हैं. रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस समिट में कोरोना वायरस महामारी से लेकर वैश्विक सुरक्षा के मुद्दे पर चर्चा होगी. इसके साथ ही मेड इन इंडिया (Made in India Vaccine) वैक्सीन को प्रमोट करने के लिए इस समिट में एक डील का ऐलान भी किया जा सकता है. इस डील से भारत में विकसित कोवैक्सीन (Covaxin) और कोविशिल्ड (Covishield) के मैन्यूफैक्चरिंग क्षमता को बढ़ाने के लिए फंड दिया जाएगा, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीनेट किया जा सके.

अमेरिकी सरकार के एक सीनियर अधिकारी ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को ये जानकारी दी. नाम न छापने की शर्त पर अधिकारी ने बताया, 'ये डील संयुक्त राज्य अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया-भारत के बीच होंगे. ये विशेष रूप से भारत में वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों और संस्थानों पर केंद्रित रहेगा, जो अमेरिकी ड्रगमेकर्स नोवावेक्स इंक और जॉनसन एंड जॉनसन के लिए वैक्सीन का निर्माण करते हैं.'

12 को क्वाड की मीटिंग, कोरोना वैक्सीन पर बनेगा प्लान, मोदी-बाइडेन भी होंगे साथ



अधिकारी ने कहा कि क्वाड की इस पहल का मकसद अमेरिका, भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया में वैक्सीन निर्माण में बैकलॉग को कम करना है. इससे वैक्सीनेशन को रफ्तार मिलेगी और कोरोना वायरस का म्यूटेशन कम होगा.
Youtube Video


इन मुद्दों पर भी होनी है चर्चा
माना जा रहा है कि क्वाड की पहली वर्चुअल मीटिंग में चारों नेता क्षेत्रीय के साथ वैश्विक मुद्दों पर अपने साझा हितों की चर्चा कर सकते हैं और सहयोग के लिए व्यावहारिक क्षेत्रों पर विचार विमर्श कर सकते हैं, जिसमें मुक्त और समावेशी हिंद प्रशांत क्षेत्र भी शामिल है. समिट के जरिए चारों नेताओं को वर्तमान चुनौतियों पर भी बात करने का मौका मिलेगा, जिसमें निर्बाध आपूर्ति, इमर्जिंग और महत्वपूर्ण तकनीक के साथ मैरिटाइम सुरक्षा और क्लाइमेट चेंज जैसे मुद्दे शामिल हैं.

क्वाड नेता कोरोना वायरस महामारी की चुनौती से निपटने के वर्तमान प्रयासों पर भी चर्चा करेंगे और हिंद प्रशांत क्षेत्र में सुरक्षित, सस्ते और समान रूप से वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए साझे रूप से सहयोग पर भी विचार कर सकते हैं. इससे पहले मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा से टेलीफोन पर बात की और दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने के साथ क्वाड फ्रेमवर्क के तहत हिंद प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर चर्चा की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज