लाइव टीवी

कोरोना वायरस लॉकडाउन: शराब न मिलने पर पांच लोगों ने की आत्महत्या की कोशिश, एक की मौत

News18Hindi
Updated: March 29, 2020, 9:03 AM IST
कोरोना वायरस लॉकडाउन: शराब न मिलने पर पांच लोगों ने की आत्महत्या की कोशिश, एक की मौत
केरल में शराब को किया गया पूरी तरह प्रतिबंधित

केरल में कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) की वजह से शराब की सारी दुकानें बंद है. ऐसे में शराब न मिल पाने के कारण पिछले पांच दिनों के अंदर कम से कम पांच लोग आत्महत्या की कोशिश कर चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 29, 2020, 9:03 AM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. केरल में कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते लॉकडाउन के इन पांच दिनों के दौरान कम से कम पांच लोग अब तक आत्महत्या की कोशिश कर चुके हैं. इनमें एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि बाकियों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मृतक की पहचान त्रिशूर के रहने वाले 35 वर्षीय सनोज के रूप में कई गई है. ये सभी शराब के आदी बताए जा रहे हैं, जिन्होंने लॉकडाउन के कारण शराब न मिल पाने के चलते ये कदम उठाया. वहीं इस बीच राज्य के सरकारी अस्पतालों में स्थापित नशामुक्ति केंद्रों और मानसिक स्वास्थ्य इकाइयों में लोगों की संख्या अचानक ही बढ़ गई.

पहली बार केरल में शराब पूरी तरह प्रतिबंधित
दरअसल केरल सरकार ने शराब को आवश्यक वस्तु की श्रेणी में रखते हुए लॉकडाउन के दौरान इसकी बिक्री जारी रखने को कहा था लेकिन विपक्ष के दबाव में उन्हें यह फैसला वापस लेना पड़ा. इसके बाद राज्य में शराब की सारी दुकानें बंद कर दी गईं. यह पहला मौका है जब राज्य में पूरी तरह से शराबबंदी लागू हुई है.

केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने कहा कि कुछ प्रमुख सरकारी अस्पतालों को COVID-19 के लिए नामित किया गया है, पारिवारिक स्वास्थ्य केंद्रों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में शराब की लत वाले लोगों के इलाज की सुविधा उपलब्ध है, जहां मनोचिकित्सक भी उपलब्ध हैं. उन्होंने कहा कि अगर कोई गंभीर मामला होता है, तो उसे जिला अस्पतालों में भेजा जा सकता है और शराब की लत के लिए प्रत्येक जिले में 20 बेड अलग से रखे गए हैं.



शराब की लत छुड़ाने के लिए टेली काउंसलिंग


राज्य के नशामुक्ति कार्यक्रम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डी राजीव ने कहा, “हमने शराब की लत छुड़ाने के लिए तीन केंद्रों में टेली काउंसलिंग सुविधाओं की व्यवस्था की है. शनिवार को हमने मानसिक समस्याओं के साथ एक गंभीर स्थिति में लगभग 100 व्यक्तियों की पहचान की और जिन्हें तत्काल चिकित्सा की आवश्यकता थी. सरकारी क्षेत्र में सुविधाओं के अलावा, हम सभी जिलों में निजी नशामुक्ति केंद्रों को की स्थापना का प्लान बना रहे हैं.

ये भी पढ़ें: देश भर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर 900 के पार: स्वास्थ्य मंत्रालय

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 29, 2020, 7:46 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading