Home /News /nation /

Covid-19: PM मोदी आज फिर मुख्यमंत्रियों से करेंगे बात, कोरोना संकट पर तय होगी 3 मई के आगे की रणनीति

Covid-19: PM मोदी आज फिर मुख्यमंत्रियों से करेंगे बात, कोरोना संकट पर तय होगी 3 मई के आगे की रणनीति

जानें पीएम केयर्स फंड से जुड़े हर सवाल का जवाब

जानें पीएम केयर्स फंड से जुड़े हर सवाल का जवाब

देश में कोविड-19 (Covid-19) के प्रसार के बाद मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की यह तीसरी वीडियो कॉन्फ्रेंस होगी. इससे पहले 11 अप्रैल को पिछले संवाद में कई मुख्यमंत्रियों ने 21-दिवसीय लॉकडाउन (Lockdown) को दो सप्ताह तक बढ़ाने की सिफारिश की थी.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ लड़ाई में किस तरह से आगे बढ़ना है इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद करेंगे. यह संवाद इन संकेतों के बीच होगा कि यह लागू लॉकडाउन (Lockdown) को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने केंद्रित हो सकता है.

    इन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा
    देश में कोविड-19 (Covid-19) के प्रसार के बाद मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री मोदी की यह तीसरी वीडियो कॉन्फ्रेंस होगी. सरकार के सूत्रों ने संकेत दिया कि महामारी से निपटने के तरीके पर चर्चा करने के अलावा, चर्चा लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने पर भी ध्यान केंद्रित हो सकती है जो तीन मई तक लागू है.

    केंद्र और राज्य सरकारें आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने और लोगों को राहत प्रदान करने के लिए विभिन्न क्षेत्रों को क्रमिक छूट दे रही हैं. हालांकि कुछ राज्य लॉकडाउन को तीन मई के बाद भी जारी रखने के इच्छुक हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोरोना वायरस के मामले नियंत्रण में रहें.

    कांग्रेस ने वीडियो कॉन्फ्रेंस को लेकर जताई ये उम्मीद
    वहीं कांग्रेस ने रविवार को कहा कि उसे उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को मुख्यमंत्रियों के साथ होने वाली बैठक में लॉकडाउन खत्म होने और उसके बाद की स्थिति के लिए एक विस्तृत एवं संपूर्ण योजना बताएंगे.

    कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि कांग्रेस उम्मीद करती है कि प्रधानमंत्री लॉकडाउन समाप्त करने और अगले तीन महीनों की स्थिति से निपटने के लिए एक व्यापक, समग्र रणनीति सामने रखेंगे. तिवारी ने कहा कि आपदा या वैश्विक महामारी से निपटने के लिए जब तक कोई राष्ट्रीय योजना नहीं होगी, तब तक राज्य लॉकडाउन के बाद के हालात से निपटने के लिए कोई योजना नहीं बना सकते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘सरकार से यह पूछना बहुत जरूरी है कि उसकी आगे की योजना क्या है.’’

    लॉकडाउन में मिली है ये छूट
    गौरतलब है कि केंद्र ने अब लॉकडाउन के दौरान शहरी क्षेत्रों में आवासीय परिसरों समेत मुहल्लों की दुकानों को खोलने की अनुमति दी है. हालांकि बाजारों में स्थित दुकानें तीन मई तक बंद रहेंगी. ग्रामीण क्षेत्रों में, शॉपिंग मॉल की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानों को खोलने की अनुमति है. शुक्रवार देर रात जारी एक आदेश में गृह मंत्रालय ने यह भी कहा कि मॉल अभी बंद रहेंगे, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में बाजार खुल सकते हैं. हालांकि, कोविड-19 हॉटस्पॉट (संक्रमण से अधिक प्रभावित क्षेत्र) और निषिद्ध क्षेत्रों में स्थित दुकानों को खोलना, ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म द्वारा गैर-जरूरी सामानों की बिक्री और शराब की बिक्री पर रोक जारी है.

    11 अप्रैल को पिछले संवाद में कई मुख्यमंत्रियों ने 21-दिवसीय लॉकडाउन को दो सप्ताह तक बढ़ाने की सिफारिश की थी, जो पहले 14 अप्रैल को समाप्त होने वाला था. प्रधानमंत्री ने 14 अप्रैल को घोषणा की थी कि लॉकडाउन को तीन मई तक बढ़ाया जा रहा है.

    24 मार्च को लॉकडाउन की घोषणा से पहले प्रधानमंत्री ने गत 20 मार्च को मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की थी. उस दौरान मोदी ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के तरीकों पर चर्चा की थी.

    ये भी पढ़ें-
    मन की बात में PM बोले 1 महीने में कोरोना के खिलाफ जंग जीतनी होगीः जावड़ेकर

    Tags: Coronavirus, COVID 19, Lockdown. Covid 19, Pm narendra modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर