COVID-19: PM मोदी ने की अशोक गहलोत के काम की तारीफ, कहा- दूसरे राज्य भी राजस्थान से सीखें

गहलोत ने कहा कि आने वाले समय में और भी श्रमिक अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं.  (फाइल फोटो)
गहलोत ने कहा कि आने वाले समय में और भी श्रमिक अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. (फाइल फोटो)

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कोरोना से निपटने के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के काम की तारीफ की और कहा कि राजस्थान सरकार से दूसरे राज्यों को भी सीखना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2020, 11:59 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना संकट को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोमवार को देश के सभी मुख्यमंत्रियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की. करीब 3 घंटे तक चली इस बैठक में पीएम को मुख्यमंत्रियों (Chief Ministers) ने कई सुझाव दिए. इस दौरान पीएम मोदी ने कोरोना से निपटने के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के काम की जमकर तारीफ की. पीएम मोदी ने कहा है कि राजस्थान सरकार से दूसरे राज्यों को भी सीखना चाहिए.

प्रधानमंत्री मोदी ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) की कोरोना महामारी से लड़ने में रिफॉर्म्स को लेकर सराहना की. राजस्थान सरकार के मुताबिक, पीएम मोदी ने कहा कि राजस्थान ने कई इनिशिएटिव लिए है. उन्होंने कहा कि इस महामारी का मुकाबला करने के लिए अशोक गहलोत जी को बधाई देता हूं. इनमें मजदूरों की काम की समय सीमा में बढ़ोतरी फैसला भी है. पीएम मोदी ने कहा कि भले ही इसकी आलोचना हुई हो, लेकिन गहलोत के इस फैसले ने अन्य राज्यों को नई दिशा दी है. सभी राज्यों को इसका अनुसरण करना चाहिए.

कोरोना का खतरा अभी खत्म नहीं हुआ-पीएम



गौरतलब है कि पीएम मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण की मौजूदा स्थिति और संक्रमण पर नियंत्रण के लिए जारी लॉकडाउन से देश को चरणबद्ध तरीके से बाहर लाने के उपायों पर चर्चा के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग बैठक में मुख्यमंत्रियों से यह बात कही. पीएम ने मुख्यमंत्रियों से कहा कि कोविड-19 का खतरा दूर-दूर तक खत्म होने वाला नहीं है, इसलिए लगातार चौकस बने रहना बहुत अहम है.
अर्थव्यवस्था को भी अहमियत देने की जरूरत

सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार, बैठक में मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कहा, 'हमें कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के साथ अर्थव्यवस्था को भी समान रूप से अहमियत देने की जरूरत है.' उन्होंने इस महामारी की मौजूदा स्थिति से मुख्यमंत्रियों को अवगत कराते हुए राज्यों में चिह्नित किये गए संक्रमण प्रभावित इलाकों (हॉटस्पॉट जोन) में केंद्र सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के पालन की अहमियत का उल्लेख किया.

देश में कोरोना संकट की शुरुआत के बाद 22 मार्च से अब तक संक्रमण की स्थिति की समीक्षा के लिए प्रधानमंत्री मोदी, राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चार बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक कर चुके हैं.

ये भी पढ़ें-

COVID-19 का खात्मा नहीं हो सकता है, हमें इसके साथ जीना होगा: जगन मोहन रेड्डी

अगर भारत को कोरोना वायरस को हराना है तो इन 15 जिलों में जीतनी होगी जंग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज