Assembly Banner 2021

कोरोना: महाराष्ट्र में 24 घंटे में रिकॉर्ड 31,855 नए केस, दिल्ली में भी बढ़ा खतरा

कोविड-19 के सबसे ज्यादा एक्टिव केस वाले मरीजों के टॉप 10 जिलों में से नौ महाराष्ट्र के हैं. फाइल फोटो

कोविड-19 के सबसे ज्यादा एक्टिव केस वाले मरीजों के टॉप 10 जिलों में से नौ महाराष्ट्र के हैं. फाइल फोटो

Corona cases in India Latest updates: महाराष्ट्र में इस समय कुल मामले 25 लाख 64 हजार 881 हैं, जबकि 22 लाख 62 हजार 593 लोग इलाज पाकर स्वस्थ हुए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 9:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोरोना संकट (Coronavirus in ) एक बार फिर गहराता जा रहा है. बुधवार को जहां महाराष्ट्र (Maharashtra) में 31 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए तो वहीं दिल्ली (Delhi) में कई महीनों बाद नए मामलों की संख्या 1200 को पार कर गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश के 10 सर्वाधिक प्रभावित जिलों में 9 महाराष्ट्र के हैं और 1 जिला कर्नाटक है. महाराष्ट्र में इस समय कुल मामले 25 लाख 64 हजार 881 हैं, जबकि 22 लाख 62 हजार 593 लोग इलाज पाकर स्वस्थ हुए हैं. वायरस संक्रमण के चलते 53,684 लोग मौत के शिकार हुए हैं. राज्य में एक्टिव मामलों की संख्या 2 लाख 47 हजार 299 है.

मुंबई में 5185, दिल्ली में 1254 नए केस
कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित शहरों में एक मुंबई में बुधवार को रिकॉर्ड 5185 मामले सामने आए हैं. शहर में एक्टिव मामलों की संख्या 30 हजार को पार कर गई है. मुंबई में वायरस संक्रमण के चलते मरने वालों की संख्या 11,606 हो गई है. दूसरी ओर राजधानी दिल्ली में एक्टिव मामलों की संख्या 4,890 हो गई है. राजधानी में पिछले 24 घंटे में 1254 नए केस सामने आए हैं. हालांकि 769 लोग इलाज पाकर स्वस्थ भी हुए हैं और संक्रमण के चलते 6 लोगों की मौत हुई है. कुल मामलों की बात करें तो दिल्ली में 6,55,227 केस हैं, इलाज पाकर स्वस्थ होने वाले लोगों का आंकड़ा 6 लाख 35 हजार 364 का है. संक्रमण के चलते दिल्ली में अब तक 10 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है.

पुणे में बदतर हुए हालात
देश के सर्वाधिक प्रभावित जिलों में पुणे सबसे ऊपर है. यहां वायरस संक्रमण की स्थिति बिगड़ती जा रही है, लेकिन जिला प्रशासन ने लॉकडाउन की आशंकाओं से इनकार किया है. प्रशासन कोरोना वायरस की गाइडलाइन का पालन नहीं करने वाले प्रतिष्ठानों पर कड़ी कार्रवाई कर रहा है. इसके साथ ही शहर में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. स्कूल, कॉलेज और प्राइवेट कोचिंग क्लासेस बंद हैं. निजी कार्यालयों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालन जारी रखने की अनुमति दी गई है.



'मास्क सबसे अच्छा और प्रभावी टीका'
केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि महाराष्ट्र और पंजाब की स्थिति गंभीर चिंता का विषय है. संक्रमण के लिहाज से शीर्ष पांच जिलों में पुणे, नागपुर, मुम्बई, ठाणे और नासिक शामिल हैं. पंजाब चिंता का विषय इसलिए है, क्योंकि नये मामलों की संख्या उसकी जनसंख्या की तुलना में गैर आनुपातिक है. भूषण ने कहा कि अन्य राज्य भी है, जो चिंता के कारण हैं और वे गुजरात, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु एवं चंडीगढ़ (केंद्रशासित प्रदेश) हैं, जहां कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़े हैं.

गुजरात में रोज कोरोना वायरस के करीब 1700 नये मरीज सामने आ रहे हैं जबकि मध्यप्रदेश में रोजाना आंकड़ा करीब 1500 का है. गुजरात के सूरत, अहमदाबाद, वड़ोदरा, राजकोट और भावनगर तथा मध्य प्रदेश के भोपाल, इंदौर, जबलपुर, उज्जैन और बेतुल में अधिक मामले सामने आ रहे हैं. नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) वीके पॉल ने कहा, ‘‘हमें इस दूसरी लहर से निपटना होगा. मास्क दुनिया में सबसे अच्छा और प्रभावी टीका है, तो हम लापरवाह क्यों हो रहे हैं. कृपया अपनी जांच कराइए, जहां जांच कम हो रही हैं, वहां संक्रमण दर बढ़ रही है. आबादी के बड़े हिस्से पर संक्रमण का खतरा है.’’

होली समारोहों पर प्रतिबंध
पुणे के जिला प्रशासन ने बुधवार को कहा कि संक्रमण के प्रतिदिन सामने आ रहे मामलों को देखते हुए सार्वजनिक और निजी स्थल पर होली समारोहों पर प्रतिबंध रहेगा. जिला कलेक्टर राजेश देशमुख ने एक आदेश में कहा कि होटल, रिजॉर्ट और ग्रामीण इलाकों जैसे सार्वजनिक स्थान और आवासीय परिसरों में होली समारोहों पर पाबंदी लगाई गई है. पुणे नगर निकाय ने भी रिजॉर्ट, होटल और खुले स्थानों व आवासीय परिसरों में समारोहों पर प्रतिबंध लगाया है. इसके साथ ही हरियाणा सरकार ने भी होली मनाने पर प्रतिबंध लगाया गया है.

इस वर्ष होली का त्योहार 29 मार्च को है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज